संजीवनी टुडे

WC 2019: वॉर्नर और कमिंस के तूफान में उड़ा पाकिस्तान, 41 रनों से से मिली हार

संजीवनी टुडे 13-06-2019 10:00:15

बुधवार को टाउंटन काउंटी ग्राउंड पर ऑस्ट्रेलिया ने पाकिस्तान को उतरा-चढ़ाव भरे रोमांचक मुकाबले में 41 रनों से हरा दिया। ऑस्ट्रेलिया की इस जीत के नायक रहे वॉर्नर और कमिंस।


डेस्क। बुधवार को टाउंटन काउंटी ग्राउंड पर ऑस्ट्रेलिया ने पाकिस्तान को उतरा-चढ़ाव भरे रोमांचक मुकाबले में 41 रनों से हरा दिया। ऑस्ट्रेलिया की इस जीत के नायक रहे वॉर्नर और कमिंस। जिन्होंने टीम को अच्छे स्कोर पर लाकर खड़ा किया। इस मैच में पाकिस्तान ने ऑस्ट्रेलिया को अच्छी शुरुआत के बाद भी 49 ओवरों में 307 रनों पर समेट दिया था। लेकिन ऑस्ट्रेलिया ने पाकिस्तान को यह लक्ष्य हासिल नहीं करने दिया और 1992 की विश्व विजेता को 45.4 ओवरों में 266 रनों पर पवेलियन में बैठा दिया।

sdfg

पांच विकेट लेने वाले आमिर ने ऑस्ट्रेलिया को विशाल स्कोर से रोक दिया। डेविड वॉर्नर (107) और फिंच (82) ने टीम को बेहतरीन शुरुआत दे विशाल स्कोर की नीवं रखी, लेकिन आमिर ने अंत के ओवरों में बेहतरीन प्रदर्शन कर ऑस्ट्रेलिया को बड़ा स्कोर नहीं करने दिया। उनके अलावा ऑस्ट्रेलिया को विशाल स्कोर करने से रोकने में युवा शाहीन अफरीदी का भी योगदान रहा, जिन्होंने वॉर्नर और ग्लैन मैक्सवेल के दो अहम विकेट लिए। 

sdfg

आखिरी के पांच ओवरों में ऑस्ट्रेलिया ने सिर्फ 21 रन ही बटोरे और इस दौरान उसने अपने पांच विकेट खो दिए। वॉर्नर और फिंच ने पहले विकेट के लिए 22 ओवरों में 146 रन जोड़े। 23वें ओवर की पहली ही गेंद पर आमिर ने फिंच की पारी का अंत किया। फिंच ने 84 गेंदों पर छह चौके और चार छक्के मारे। इस बार स्टीव स्मिथ उनका ज्यादा साथ नहीं दे सके और 10 के निजी स्कोर पर हफीज ने उन्हें पवेलियन भेज दिया। 

sdfg

अफरीदी ने पाकिस्तान को एक बड़ी सफलता दिलाई। उन्होंने रंग में आते दिख रहे ग्लैन मैक्सवेल को 223 के कुल योग पर आउट कर मौजूदा विजेता को तीसरा झटका दिया। मैक्सवेल ने 10 गेंदों पर दो चौके और एक छक्के की मदद से 20 रन बनाए। मैक्सवेल के जाने के बाद वॉर्नर ने अपना शतक पूरा किया, लेकिन वह भी अफरीदी से बच नहीं पाए और 242 के कुल स्कोर पर इमाम को कैच दे बैठे। वॉर्नर ने अपनी पारी में 111 गेंदें खेलीं तथा 11 चौकों के अलावा एक छक्का भी मारा।

sdfg

यहां से आस्टेलियाई रनगति तेजी नहीं पकड़ पाई। उस्मान ख्वाजा 18, शॉन मार्श 23 और नाथन कल्टर नाइल दो रन बनाकर पवेलियन लौट लिए। कैरी ने जिस तरह से अंतिम ओवरों में भारत के खिलाफ बल्लेबाजी की थी, उससे लगा था कि वह टीम को 320 के पार आसानी से पहुंचा देंगे, लेकिन 49वें ओवर में कैरी, आमिर का शिकार बन बैठे। 

sdfg

यह जीत ऑस्ट्रेलिया के लिए आसान नहीं रही, क्योंकि पाकिस्तान ने अंत तक हरा नहीं मानी और लड़ती रही। एक समय आसानी से हार की ओर बढ़ती दिख रही पाकिस्तान को वहाब रियाज (45), कप्तान सरफराज अहमद (40) और हसन अली (35) ने मैच में वापस ला दिया था, हालांकि ऑस्ट्रेलिया के बेहतरीन गेंदबाज मिशेल स्टार्क ने मैच को आखिरकार मौजूदा विजेता के पक्ष में मोड़ दिया।

sdfg

पाकिस्तान का स्कोर 160 रनों पर छह विकेट था। यहां हसन ने आकर 15 गेंदों पर तीन छक्के और तीन चौके लगा मैच में रोमांच लाना शुरू किया। केन रिचर्डसन ने 200 के कुल स्कोर पर हसन को उस्मान ख्वाजा के हाथों कैच करा पाकिस्तान को फिर हार की तरफ मोड़ना चाहा लेकिन इस बार कप्तान सरफराज को वहाब का साथ मिला। 

sdfg

वहाब ने बड़े शॉट खेले और मौका मिलने पर अपने कप्तान को स्ट्राइक दी। वहाब और सरफराज के बीच आठवें विकेट के लिए 64 रनों की साझेदारी हो चुकी थी और मैच ऑस्ट्रेलिया की पकड़ से निकलता दिख रहा। यहां स्टार्क ने अपने काम को अंजाम दिया। स्टार्क की एक गेंद वहाब के बल्ले का किनारा लेकर विकेटकीपर एलेक्स कैरी के हाथों में गई जिसे पकड़ने में कैरी ने कोई गलती नहीं की।

sdfg

लेकिन अंपायर ने वहाब को आउट नहीं दिया। ऑस्ट्रेलिया ने रिव्यू लिया और वहाब पवेलियन लौट लिए। उन्होंने 39 गेंदों पर दो चौके और तीन छक्के मारे। इसी ओवर में स्टार्क ने मोहम्मद आमिर (0) को आउट कर ऑस्ट्रेलिया की जीत तय कर दी। अगले ओवर में सरफराज रन आउट हो गए और पाकिस्तान को हार मिली। सरफराज ने 48 गेंदों का सामना किया और सिर्फ एक चौका मारा।

sdfg

ऑस्ट्रेलिया के लिए कमिंस ने तीन विकेट लिए। कमिंस ने ही पाकिस्तान को पहला झटका दिया। उन्होंने तीसरे ओवर में दो के कुल स्कोर पर फखर जमन (0) को रिचर्डसन के हाथों कैच कराया। बाबर आजम (30) ने इमाम उल हक (53) के साथ टीम का स्कोर पचास के पार पहुंचाया, लेकिन इस बार नाथन कल्टर नाइल ऑस्ट्रेलिया को सफलता दिलाने में कामयाब रहे। उन्होंने 56 के कुल स्कोर पर बाबर को पवेलियन की राह दिखाई। 

sdfg

यहां से दूसरे छोर पर खड़े इमाम को मोहम्मद हफीज (46) का साथ मिला। दोनों अच्छी बल्लेबाजी कर रहे थे और पाकिस्तान को मैच में बनाए रखा। साझेदारी तोड़ने के लिए ऑस्ट्रेलियाई कप्तान ने कमिंस को बुलाया और उनका यह दांव सफल भी रहा। कमिंस ने 136 के कुल स्कोर पर इमाम की 75 गेंदों की पारी का अंत किया जिसमें सात चौके भी शामिल रहे। 

dgs

हफीज अभी भी मैदान पर थे और उन्हें पवेलियन भेजने के लिए फिंच ने खुद गेंद थामी। फिंच की किस्मत अच्छी थी कि हफीज एक फुलटॉस गेंद को सीधे डीप मिडविकेट पर स्टार्क के हाथों में खेल बैठे। यहां से मैच ऑस्ट्रेलिया के पक्ष में आ गया। हफीज का विकेट 146 के कुल स्कोर पर गिरा। 

प्लीज सब्सक्राइब यूट्यूब चैनल

 

रिचर्डसन ने आसिफ अली को छह के निजी स्कोर पर आउट कर पाकिस्तान को छठा झटका दिया, लेकिन इसके बाद हसन, वहाब और सरफराज ने अपना जुझारूपन दिखा आखिरी ओवरों तक पाकिस्तान को मैच में बनाए रखा। इन तीनों का यह प्रयास हालांकि सफल नहीं रहा और टीम को हार मिली। 

मात्र 260000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166

More From worldcup

Trending Now
Recommended