संजीवनी टुडे

विंडरश घोटाला : ब्रिटेन के गृह मंत्री जाविद ने फिर मांगी माफी

संजीवनी टुडे 12-06-2019 21:13:29

ब्रिटेन के गृहमंत्री ने सैकड़ों भारतीयों को ब्रिटिश नागरिकता मिलने से रोका था और उन्होंने विंडरश घोटाले के लिए एक बार फिर माफी मांगी है।


लंदन। ब्रिटेन के गृहमंत्री ने सैकड़ों भारतीयों को ब्रिटिश नागरिकता मिलने से रोका था और उन्होंने विंडरश घोटाले के लिए एक बार फिर माफी मांगी है। यह जानकारी बुधवार को मीडिया रिपोर्ट से मिली। विदित हो कि विंडरश के लोग ब्रिटेन के पूर्व उपनिवेश के ऐसे नागरिकों है, जो 1973 से पहले आए थे, जब राष्ट्रमंडल देशों के ऐसे नागरिकों के ब्रिटेन में रहने और काम करने के अधिकार खत्म कर दिए गए थे। यह घोटाला प्रवासियों को गलत ढंग से ब्रिटिश नागरिकता से वंचित रखने से जुड़ा है। हाल में खुलासा हुआ कि सैकड़ों भारतवंशी को भी इसका शिकार होना पड़ा था। विंडरश के लोग ब्रिटेन के पूर्व उपनिवेश के ऐसे नागरिकों से जुड़ा हुआ है, जो 1973 से पहले आए थे, जब राष्ट्रमंडल देशों के ऐसे नागरिकों के ब्रिटेन में रहने और काम करने के अधिकार खत्म कर दिए गए थे.। 

इनमें से अधिकतर लोग जमैका या कैरीबियाई मूल के थे, जो विंडरश नामक जहाज से पहुंचे थे। इमिग्रेशन मामले पर ब्रिटेन की सरकार के रूख से भारतीय और दक्षिण एशियाई देशों के अन्य नागरिक भी प्रभावित हुए थे। ब्रिटेन के गृह मंत्री साजिद जाविद की ओर से दी गई जानकारी के मुताबिक, ब्रिटेन में गलत तरीके से राष्ट्रमंडल देशों के नागरिकों को नागरिकता अधिकार से वंचित करने में कुल 737 भारतीयों ने अपनी स्थिति की पुष्टि की है। इनमें से अधिकतर (559) 1973 से पहले ब्रिटेन पहुंचे थे, जब इमिग्रेशन के नियम बदल गए थे जबकि अन्य या तो बाद में आए या तथाकथित ‘विंडरश पीढ़ी’ के परिवार के सदस्य थे। पाकिस्तानी मूल के वरिष्ठ मंत्री जाविद ने कहा, ‘इस समीक्षा के माध्यम से जिन लोगों की पहचान हुई है, उनसे मैं निजी तौर पर माफी मांगता हूं। मैं सुनिश्चित करूंगा कि उन्हें सहयोग मिले और मुआवजा योजना में उन्हें शामिल किया जाए। 

मात्र 260000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट  9314166166

More From world

Trending Now
Recommended