संजीवनी टुडे

अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा का ‘क्रू डेमो-2’ मिशन सफल, दोनों एस्ट्रोनॉट्स सुरक्षित

संजीवनी टुडे 31-05-2020 23:15:26

कोरोना संकट के बीच अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा का क्रू डेमो-2 मिशन सफल रहा।


नई दिल्ली। कोरोना संकट के बीच अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा का ‘क्रू डेमो-2’ मिशन सफल रहा। ड्रैगन स्पेसक्राफ्ट के जरिए 2 अंतरिक्ष यात्री रॉबर्ट बेहेनकेन और डगलस हर्ले सुरक्षित अंतरराष्ट्रीय स्पेस स्टेशन पर पहुंच गए हैं। भारतीय समयानुसार शनिवार रात करीब 1 बजे रॉकेट ने कैनेडी स्पेस सेंटर से उड़ान भरी और यह 19 घंटे में अपने लक्ष्य तक पहुंचा। राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प मिशन की लॉन्चिंग देखने स्पेस सेंटर गए थे। उन्होंने कहा कि इस लॉन्च के साथ बीते एक दशक की हमारी कोशिश औपचारिक तौर पर पूरी हुई। अमेरिकी के बुलंद उम्मीदों के नए युग की शुरुआत हुई है।

amerika

देश के पुराने नेताओं ने अमेरिकी एस्ट्रोनॉट्स को पृथ्वी की कक्षा में भेजने के काम को दूसरे देशों की दया पर निर्भर रखा। अब और ऐसा नहीं होगा। दरअसल, अमेरिकी धरती से नौ साल बाद यह मानव मिशन भेजा गया है। इस मिशन को ‘क्रू डेमो-2’ और रॉकेट को ‘क्री ड्रैगन’ नाम दिया गया। 21 जुलाई 2011 के बाद पहली बार अमेरिकी धरती से कोई मानव मिशन अंतरिक्ष में भेजा गया। स्पेसक्राफ्ट की लॉन्चिग अमेरिका के सबसे भरोसेमंद रॉकेट फॉल्कन-9 से की गई।

स्पेसएक्स अमेरिकी उद्योगपति एलन मस्क की कंपनी है, यह नासा के साथ मिलकर भविष्य के लिए कई अंतरिक्ष मिशन पर काम कर रही है। राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने लॉन्चिंग के ठीक बाद इस मिशन को अतुलनीय बताया। राष्ट्रपति ने कहा, ‘‘असली प्रतिभा, वास्तविक बुद्धिमान, कोई भी हमारी तरह नहीं करता। अमेरिकी की नई महत्वाकांक्षाओं की शुरुआत हो चुकी है। पहले के नेताओं ने अमेरिका को दूसरे देशों की दया के काबिल बना दिया था। कई देश हमारे अंतरिक्ष यात्रियों को स्पेस में भेजते थे, पर अब ऐसा नहीं होगा। अगर अमेरिकी एक हो जाएं, तो ऐसा कुछ नहीं जो हम नहीं कर सकते।’’

amerika

बता दे, पहले यह लॉन्चिंग 27 मई की रात को नासा के कैनेडी स्पेस सेंटर से होनी थी, लेकिन मौसम खराब होने की वजह से 17 मिनट पहले मिशन रोक दिया गया था। नासा ने कोरोना संक्रमण को देखते हुए लोगों से अपील की थी कि वे लॉन्चिंग देखने के लिए बाहर न निकलें। हालांकि, राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प और उनकी बेटी इवांका अपने पति जेयर्ड और दोनों बच्चों के साथ केनेडी स्पेस सेंटर पहुंचे थे।

SANJEEVNI GROUP

यह खबर भी पढ़े: जून-जुलाई में कहर ढाएगा कोरोना, संक्रमित लोगों का ग्राफ और मरने वालों की संख्या बढ़ेगी : आचार्य राजेश

यह खबर भी पढ़े: शिवराज सरकार के खाद बिक्री फार्मूले को बदलने के फैसले की कांग्रेस ने की आलोचना

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From world

Trending Now
Recommended