संजीवनी टुडे

बर्बाद होने से बचने के लिए TikTok ने निकाला नया तरीका, माइक्रोसॉफ्ट से लगाई मदद की गुहार

संजीवनी टुडे 01-08-2020 14:19:18

टिकटॉक सीईओ केविन मेयर हाल ही में कह चुके हैं कि टिकटॉक को नया टारगेट बनाया जा रहा है, लेकिन हम दुश्मन नहीं हैं।


डेस्क। भारत के बाद अब अमेरिका में किसी भी समय चीनी ऐप टिक टॉक पर प्रतिबंध लग सकता है। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप चीनी ऐप टिक टॉक को बैन करने की तैयारी कर रहे हैं। इसके लिए वह कई सारे विकल्पों पर भी विचार कर रहे हैं। इसी बीच अब सूत्रों के मुताबिक खबर है कि TikTok कंपनी बर्बाद होने से बचने के लिए एक नया तरीका सोच रही है। 

The New York Times की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि अमेरिका में बैन से बचने और खुद को बचाए रखने के लिए टिकटॉक को बिकना होगा। विडियो शेयरिंग सर्विस चाहती है कि उसे माइक्रोसॉफ्ट खरीद ले और इस दिशा में आगे भी बढ़ रही है। 

TikTok

टिकटॉक सीईओ केविन मेयर हाल ही में कह चुके हैं कि टिकटॉक को नया टारगेट बनाया जा रहा है, लेकिन हम दुश्मन नहीं हैं। ऐसा लगता है कि ऐप ने हार मान ली है और खुद को बचाए रखने के लिए बिकना बेहतर समझा है।

TikTok

बता दें कि TikTok कंपनी बार-बार सफाई देती रही है कि उसका स्टाफ अमेरिका का है और चाइनीज गवर्मेंट के साथ यूजर्स का डेटा कभी शेयर नहीं किया जाएगा। 

TikTok

दरअसल, टिकटॉक की पैरंट कंपनी ByteDance चाइनीज है और भारत के बाद अमेरिका का यूजरबेस खोने का रिस्क कंपनी उठाना नहीं चाहेगी। अमेरिका के प्रेजिडेंट ट्रंप ने खुद इस ऐप को बैन करने की बात कही है और इससे बचने के लिए टिकटॉक ऐप अब बिक जाना चाहता है।

यह खबर भी पढ़े: मुख्यमंत्री गहलोत ने मुस्लिम धर्मावलम्बियों को दी ईद-उल-अजहा की बधाई, साथ ही की खास अपील

यह खबर भी पढ़े: गहलोत सरकार का बड़ा फैसला, 9 अगस्त को प्रदेशभर में मनाई जाएगी भारत छोड़ो आंदोलन की वर्षगांठ

 

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From world

Trending Now
Recommended