संजीवनी टुडे

ऑस्ट्रेलिया और फ्रांस के बीच अब तक की सबसे बड़ी रक्षा साझेदारी

संजीवनी टुडे 11-02-2019 17:21:33


कैनबेरा। ऑस्ट्रेलिया और फ्रांस ने सोमवार को 50 अरब डॉलर के रणनीतिक साझेदारी समझौता पर दस्तखत किए। इस समझौते के तहत फ्रांस 12 अत्याधुनिक पनडुब्बियां बनाकर उसे देगा। इस साझेदारी के साथ कैनबेरा ने संकेत दिया है कि वह प्रशांत क्षेत्र के पार अपनी शक्ति प्रदर्शित करना चाहता है।

जयपुर में प्लॉट मात्र 2.40 लाख में Call On: 09314166166

कैनबेरा में आयोजित एक समारोह में प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन ने इस दुस्साहसी योजना की प्रशंसा की और कहा कि यह शांति काल में ऑस्ट्रेलिया का सबसे बड़ा रक्षा निवेश है। विदित हो कि फ्रांस की सरकार समर्थित नेवल ग्रुप इन लड़ाकू पनडुब्बियों का निर्माण करेगा और पहली पनडुब्बी साल 2030 में बनकर तैयार होगा और इसका पहला परीक्षण साल 2031 में किया जाएगा।

हालांकि आलोचकों का कहना है कि यह समझौता देर से किया गया है, क्योंकि ऑस्ट्रेलिया का पश्चिमी और उत्तरी क्षेत्र एक तरह युद्ध का मैदान बन चुका है। अमेरिका, चीन और क्षेत्रीय शक्तियां अपना प्रभाव जमाने के लिए प्रयासरत हैं। उल्लेखनीय है कि चीन संपूर्ण दक्षिण चीन सागर पर अपना दावा करता है जो महत्वपूर्ण व्यापार मार्ग है। इस समुद्री मार्ग से खासतौर पर अयस्क, खनिजों और ईंधन परिवहन किया जाता है जो चीनी अर्थव्यवस्था के लिए अहम हैं।

MUST WATCH & SUBSCRIBE

अमेरिका का मानना है कि चीन अपने इन दावों को पुष्ट करने के लिए दबंगई पर उतर रहा है और पड़ोसी देशों को धमका रहा है। इस तरह वह प्रमुख क्षेत्रीय शक्ति बनने की फिराक में है। उधर, ऑस्ट्रेलियाई सेना का कहना है कि संभावित शत्रुतापूर्ण कार्रवाई के समय ये पनडुब्बियां विश्वसनीय संकटमोचक साबित होंगी।

More From world

Loading...
Trending Now