संजीवनी टुडे

Research/पांच लाख लोगों पर हुई स्टडी में खुलासा,इस जीन वाले इंसान को है कोरोना से अधिक खतरा

संजीवनी टुडे 29-05-2020 11:09:25

ब्रिटेन की यूनिवर्सिटी ऑफ एक्सेटर मेडिकल स्कूल के शोधकर्ताओं के मुताबिक हर 36वें व्यक्ति में वो जीन पाया गया है।


डेस्क। कोरोना वायरस से इस समय लगभग पूरी दुनिया जूझ रही है। इस महामारी की काट खोजने के प्रयास में कई उपचार और वैक्सीन (टीका) पर तेज गति से शोध किए जा रहे हैं। इसी कवायद में हाल ही में सामने आई एक रिपोर्ट में ये खुलासा हुआ है कि डिमेंशिया का खतरा बनने वाले जीन के चलते, डिमेंशिया वाले मरीज में कोरोना वायरस होने का भी गंभीर खतरा हो सकता है।  

यह जानलेवा वायरस उन लोगों में ज्यादा पाया जा सकता है जिनमें डिमेंशिया से जुड़ा जीन मौजूद होता है। इस जीन का संबंध मस्तिष्क से जुड़ी बीमारी डिमेंशिया से है। इसके रिजल्ट बड़े पैमाने पर किए गए शोध के आधार पर निकाले गए हैं। ये भी अनुमान लगाया जा रहा है कि इससे कोरोना वायरस के इलाज के लिए नए रास्ते खुल सकते हैं। 

Corona Virus research

जर्नल ऑफ जेरोंटोलॉजी में छपे इस शोध के मुताबिक, कोरोना वायरस का खतरा उन लोगों में ज्यादातर देखने को मिलता है जिनके जीन ई4ई4 या एपीओई के वाहक होते हैं। इस बारे में तकरीबन 5 लाख लोगों के डेटा पर शोध किया गया है।

ब्रिटेन की यूनिवर्सिटी ऑफ एक्सेटर मेडिकल स्कूल के शोधकर्ताओं के मुताबिक हर 36वें व्यक्ति में वो जीन पाया गया है। इस शोध में बताया गया है कि इस जीन के लोगों में भूलने की बीमारी यानी अल्जाइमर का रिस्क 14 गुना ज्यादा हो सकता है। इतना ही नहीं इस जीन के कारण हार्ट से जुड़ी समस्याएं भी आती है।ऐसे जीन वालों में कोरोना होने के चांस दोगुना अधिक होता हैं। 

Corona Virus research

इस शोध से यह भी समाने आया है कि डिमेंशिया बीमारी वाले लोगों में गंभीर रूप से कोरोना होने की संभावना तीन गुना ताल ज्यादा होती है। जो की खतरनाक स्थिति पैदा कर सकती है। 

बता दें कि डिमेंशिया मस्तिष्क से जुड़ी ऐसी बीमारी है, जिससे पीड़ित व्यक्ति की सोचने-समझने की क्षमता खत्म होने लगती है और उसकी याददाश्त भी धीरे-धीरे चली जाती है। इस बीमारी से पीड़ित मरीजों को कोई भी निर्णय लेने में परेशानी होती है। पहले हुए कई शोध अध्ययन में कोरोना पीड़ित मरीजों में मानसिक विक्षिप्तता के शुरुआती लक्षण भी देखे जा चुके हैं। 

प्लीज सब्सक्राइब यूट्यूब बटन

 

यह खबर भी पढ़े: Research/ दो एंटी-इंफ्लेमेटरी दवाओं में दिखी कोरोना की रोकथाम की संभावना, ये वायरस को बढ़ाने वाले एंजाइम को करती हैं काबू

यह खबर भी पढ़े: भारत/COVID19 LIVE UPDATES: कोरोना ने भारत में तोड़े रिकॉर्ड, पिछले 24घंटों में अब तक के सबसे ज्यादा 7,466 मामले सामने आये

 

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From world

Trending Now
Recommended