संजीवनी टुडे

राहत की खबर/ अपनी क्षमता खो रहा है कोरोना वायरस, डॉक्टरों ने किया दावा

संजीवनी टुडे 02-06-2020 08:37:14

वायरस धीरे-धीरे अपनी क्षमता खो रहा है और अब उतना जानलेवा नहीं रह गया है।


डेस्क। देश-दुनिया में कोरोना वायरस के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं। पूरा विश्व पिछले कई महीनो से कोरोना वायरस की गंभीर चपेट में है। लाखों लोगों की जान जा चुकी है। जहां हर तरफ जब कोरोना वायरस को लेकर निराशा का दौर है, वहीं अब एक अच्छी खबर आई है। ये अच्छी खबर ये है कि कोरोना वायरस अब कमजोर पड़ रहा है। 

इटली के डॉक्टर्स ने ये दावा किया है, उनका दावा है कि कोरोना वायरस धीरे-धीरे अपनी क्षमता खो रहा है और अब उतना जानलेवा नहीं रह गया है। डॉक्टरों का कहना है कि इससे संक्रमण कम होगा जेनोआ के सैन मार्टिनो अस्पताल में संक्रामक रोग प्रमुख डॉक्टर मैट्टेओ बासेट्टी ने ये जानकारी दी। 

Corona Virus research

वहीं, लोम्बार्डी के सैन रैफेल अस्पताल के प्रमुख अल्बर्टो जंग्रिलो ने कहा कि कोरोना की घटती क्षमता लोगों के लिए राहत भरी खबर है। क्लीनिकल रूप से कोरोना वायरस अब इटली में मौजूद नहीं है। पिछले 10 दिनों की जांच में जो तथ्य सामने आए हैं, उससे पता चलता है कि वायरस दो महीने पहले की तुलना में अब कमजोर पड़ रहा है।

डॉक्टर जांग्रिलो ने कहा कि कुछ विशेषज्ञ संक्रमण की दूसरी लहर की संभावना को लेकर बहुत चिंतित थे, देश के नेताओं को सच्चाई ध्यान में रखनी चाहिए। उन्होंने कहा कि हमें एक सामान्य देश वापस मिल गया है लेकिन किसी न किसी को देश को डराने की जिम्मेदारी लेनी होगी। इटली की सरकार ने लोगों से सावधानी बरतने का आग्रह करते हुए कहा है कि अभी कोरोना वायरस पर जीत का दावा करना बहुत जल्दबाजी होगी।

Corona Virus research

गौरतलब है कि इटली कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित देशों में से एक है और कोविड-19 से होने वाली सबसे ज्यादा मौतों में इटली तीसरे नंबर पर है। हालांकि, मई महीने में यहां संक्रमण के नए मामलों और मौतों में तेजी से गिरावट आई है और यहां कई जगहों पर सख्त लॉकडाउन को खोला जा रहा है।

स्वास्थ्य मंत्रालय की एक मंत्री सैंड्रा जम्पा ने एक बयान में कहा, कोरोना वायरस खत्म होने वाली बातों के लिए लंबित पड़े वैज्ञानिक प्रमाणों का सहारा लिया जा रहा है। मैं उन लोगों से कहती हूं कि इटली के लोगों को भ्रमित ना करें।

Corona Virus research

WHO  ने किया खारिज
जेनोआ के सैन मार्टीनो अस्पताल में संक्रामक बीमारियों के प्रमुख मैशियो बसेटी का भी कहना है कि दो महीने पहले वायरस जितना ताकतवर था, अब उतना नहीं है। हालांकि, विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने इस दावों को फिलहाल खारिज कर दिया है। WHO का कहना है कि ऐसी धारणाएं नहीं फैलनी चाहिए कि वायरस अचानक से अपने आप कमजोर हो गया है। हमें अभी भी सावधान रहने की जरूरत है।

प्लीज सब्सक्राइब यूट्यूब बटन

 

यह खबर भी पढ़े: Lockdown 5.0/दिल्ली सरकार का बड़ा फैसला, ऑड-ईवन सिस्टम खत्म, अब रोज खुलेगी शराब की दुकानें

यह खबर भी पढ़े: अगर अभी तक नहीं मिली है पीएम किसान योजना की क़िस्त तो तुरंत करें इन नंबरों पर कॉल

 

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From world

Trending Now
Recommended