संजीवनी टुडे

नागरिकता बिल से पड़ोसी पाक परेशान, 'हिंदू राष्ट्र' और RSS का अलापा राग

संजीवनी टुडे 10-12-2019 19:12:38

लोकसभा में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह द्वारा पेश किये गए नागरिकता बिल पर पाक ने प्रतिक्रिया दी है। पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय द्वारा दिए गए बयान में कहा गया हैं की, हम इस विधेयक की निंदा कर


नई दिल्ली। लोकसभा में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह द्वारा पेश किये गए नागरिकता बिल पर पाक ने प्रतिक्रिया दी है। पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय द्वारा दिए गए बयान में कहा गया हैं की, 'हम इस विधेयक की निंदा करते हैं। यह प्रतिगामी और भेदभावपूर्ण है और सभी संबद्ध अंतरराष्ट्रीय संधियों और मानदंडों का उल्लंघन करता है। यह पड़ोसी देशों में दखल का भारत का दुर्भावनापूर्ण प्रयास है। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने आज ट्वीट किया, 'भारतीय लोकसभा के द्वारा नागरिकता विधेयक को पारित किए जाने की हम कड़ी निंदा करते हैं।

यह खबर भी पढ़ें:​ उन्नाव केस पर 16 दिसंबर को आएगा फैसला, विधायक सेंगर मुख्य आरोपी

यह बिल अंतरराष्ट्रीय मानवाधिकार कानूनों और पाकिस्तान के साथ हुए द्विपक्षीय समझौतों का उल्लंघन है। यह आरएसएस के 'हिंदू राष्ट्र' की अवधारणा का एक हिस्सा है और फासिस्ट मोदी सरकार का प्रपंच उजागर करता है।' मंत्रालय के मुताबिक़ इस कानून का आधार झूठ है और यह धर्म या आस्था के आधार पर भेदभाव को हर रूप में खत्म करने संबंधी मानवाधिकारों की वैश्विक उद्घोषणा और अन्य अंतरराष्ट्रीय संधियों का पूर्ण रूप से उल्लंघन करता है। 

गौरतलब हैं केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने सोमवार को लोकसभा में नागरिकता संशोधन विधेयक पेश किया। शाह ने सदन को आश्वस्त किया कि इन देशों के मुसलमान भी कानून के आधार पर नागरिकता के लिए आवेदन कर सकते हैं और उनके आवेदनों पर भी प्रक्रिया के तहत विचार किया जायेगा। इस पर कोई रोक नहीं लगेगी। गृहमंत्री ने कहा कि वह विपक्षी सदस्यों के विधेयक की विषयवस्तु से जुड़े सभी सवालों का जवाब विधेयक पर चर्चा के दौरान विस्तारपूर्वक देंगे। 

यह खबर भी पढ़ें:​ नागरिकता बिल के बाद असम में उबाल, पसरा हैं सन्नाटा?

कई पार्टी के नेताओं द्वारा इस बिल का विरोध किया गया।एआईआईएमएल नेता असददुीन औवेसी ने विधेयक पर ऐतराज जताते हुए इसकी कॉपी को फाड़ कर फेंक दिया। बिल को फाड़ते हुए ओवैसी ने कहा कि ये एक और विभाजन होने जा रहा है। यह बिल भारत के संविधान की मूल भावना के खिलाफ है और हमारे स्वतंत्रता सेनानियों का अपमान करने वाला है। मैं बिल को फाड़ता हूं, जो हमारे देश को विभाजित करने का प्रयास करता है। 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

More From world

Trending Now
Recommended