संजीवनी टुडे

गूगल के को-फाउंडर्स ने दिया इस्तीफा, भारतीय मूल सुंदर पिचाई की मिली नई जिम्मेदारी

संजीवनी टुडे 05-12-2019 01:58:00

दुनिया की दिग्गज टेक कंपनी गूगल के सीईओ भारतीय मूल के सुंदर पिचाई को एक नई जिम्मेदारी मिल गई है। गूगल के को-फाउंडर्स लैरी पेज और सर्गी ब्रिन के इस्तीफे के बाद पिचाई को यह पद मिला है।


नई दिल्ली। दुनिया की दिग्गज टेक कंपनी गूगल के सीईओ भारतीय मूल के सुंदर पिचाई को एक नई जिम्मेदारी मिल गई है। गूगल के को-फाउंडर्स लैरी पेज और सर्गी ब्रिन के इस्तीफे के बाद पिचाई को यह पद मिला है। गूगल की पैरेंटल कंपनी एल्फाबेट ने अब सुंदर पिचाई को अपना मुख्य कार्यकारी अधिकारी नियुक्त कर दिया है। बता दें कि लैरी पेज और सर्गी ब्रिन दोनों ने स्टेनफॉर्ड यूनिवर्सिटी से ग्रेजुएशन किया था।

यह भी पढ़े: पाकिस्तान मरीन सुरक्षा एजेंसी ने तीन भारतीय नौकाओं और 18 मछुआरों को पकड़ा

दुनिया की सबसे बड़ी कंपनियों में शुमार गूगल और उसकी पैरेंट कंपनी का हेड अब एक भारतीय मूल का नागरिक है, जो एक बड़ी उपलब्धि है। बता दें कि गूगल की शुरुआत 1997 में हुई थी, जिसके बाद से इन्फोर्मेशन टेक्नोलॉजी की दुनिया में बदलाव हो गया। हालांकि नए बदलावों के बाद भी सर्गी ब्रिन और दूसरे सह संस्थापक लैरी पेज कंपनी के शेयरधारक और बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स में शामिल रहेंगे। गूगल के जन्म के करीब दो दशक बाद दोनों ने इस्तीफे का एलान किया है। 

Sundar Pichai becomes CEO of Alphabet Google cofounders Larry Page and Sergey Brin resign

दरअसल, एक साथ हुए इस दो इस्तीफे के बाद सुंदर पिचाई गूगल और अल्फाबेट दोनों के सीईओ बन गए हैं। गूगल को बनाने वाले लैरी पेज और सर्गेई ब्रिन ने परिवार को समय देने का हवाला देकर अपना पद छोड़ा है। गूगल ने 2015 में कंपनी स्वरूप में बदलाव करते हुए अल्फाबेट को स्थापित किया था,अल्फाबेट अलग-अलग कंपनियों का एक ग्रुप है। कंपनी गूगल को वायमो (स्वचालित कार) वेरिली (जैव विज्ञान) कैलिको (बायोटेक आर एंड डी) साइडवॉक लैब (शहरी नवोन्मेष) और लून (गुब्बारे की सहायता से ग्रामीण क्षेत्रों में इंटरनेट उपलब्धता) जैसी कंपनियों से अलग करती है।  

खास बात ये भी है कि गूगल के फाउंडर्स के द्वारा अपने कर्मचारियों के लिए लिखी गई ये पहली चिट्ठी है। 2004 के बाद से पहली बार फाउंडर्स ने अपनी बात चिट्ठी के जरिए इस तरह दुनिया के सामने रखी। बता दे, सुंदर पिचाई का पूरा नाम सुंदरराजन पिचाई है, पिचाई का जन्म तमिलनाडु के मदुरै में 12 जुलाई 1972 को हुआ था। उन्होंने आईआईटी खड़गपुर से बीटेक और स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय से एम एस करने के बाद अमेरिका की पेन्सिलवेनिया यूनिवर्सिटी से एमबीए की पढ़ाई पूरी की थी। सुंदर पिचाई को सन 2015 में गूगल का सीईओ बनाया गया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

More From world

Trending Now
Recommended