संजीवनी टुडे

कमला हैरिस की उम्मीदवारी पर डोनाल्ड ट्रंप ने जताई हैरानी, कह डाली ऐसी बात

संजीवनी टुडे 12-08-2020 22:25:13

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने भारतीय मूल की पहली अमेरिकी सीनेटर कमला हैरिस को डेमोक्रेटिक पार्टी का उप-राष्ट्रपति उम्मीदवार के लिए चुने जाने पर हैरानी जताई है।


लॉस एंजेल्स। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने भारतीय मूल की पहली अमेरिकी सीनेटर कमला हैरिस को डेमोक्रेटिक पार्टी का उप-राष्ट्रपति उम्मीदवार के लिए चुने जाने पर हैरानी जताई है। उन्होंने कहा कि वह इस बात से काफी हैरान हैं कि उनके डेमोक्रेटिक प्रतिद्वंद्वी जो बिडेन ने कमला हैरिस को उप राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार चुना है जबकि वह लगातार उनका 'अनादर' करती रही हैं। 

ट्रंप ने व्हाइट हाउस में कहा, "हम देखेंगे वह कैसे काम करती हैं। उन्होंने प्राइमरी में बेहद खराब प्रदर्शन किया था, उनके बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद थी। वह कई चीजों को लेकर चर्चा में थीं, इसलिए मुझे बिडेन द्वारा उनका चयन करने पर थोड़ा अचम्भा हो रहा है। ट्रंप ने एक सवाल के जवाब में कहा, "इतना अनादर करने वाले व्यक्ति का चयन करना कठिन काम है। डेमोक्रेट प्राइमरी डिबेट के दौरान उन्होंने बिडेन के बारे बेहद खराब बातें कहीं थी। मुझे लगा था कि वह उनका चयन नहीं करेंगे। 

वहीं उप राष्ट्रपति माइक पेंस का कहना है कि उन्हें हैरिस के चयन से कोई हैरानी नहीं हुई है। उन्होंने कहा, "जैसा आप सभी को पता है कि कट्टरपंथी वाम बिडेन और डेमोक्रेट पर हावी हो गए हैं। इसलिए ज्यादा कर, खुली सीमाओं, मांग पर गर्भपात आदि उनके वादों को देखते हुए, इसमें कोई आश्चर्य की बात नहीं है कि उन्होंने सीनेटर हैरिस को चुना है।  पेंस और हैरिस के बीच सात अक्टूबर को उप राष्ट्रपति के पद के लिए डिबेट होगी। 

बता दे कि, भारतीय मूल की कमला हैरिस पहली अश्वेत महिला उम्मीदवार होंगी। 55 वर्षीय कमला की माँ भारतीय और पिता जैमेका के थे। तेज़ तर्रार कमला राष्ट्रपति पद-2020 पद की उम्मीदवार थीं, किंतु पहली प्राइमरी के बाद ही इस दौड़ में अपने अन्यान्य उम्मीदवारों से पिछड़ने और पर्याप्त चंदा बटोर नहीं पाने के कारण उन्होंने नाम वापस ले लिया था। 

कमला हैरिस की माँ श्यामला 1960 में उच्च शिक्षा के लिए भारत से आई थीं, तो पिता डोनाल्ड हैरिस जमैका से। इसलिए कमला पहली अश्वेत महिला बन गई जो एक एशियन अमेरिकन के रूप में पहली बार इतने बड़े पद के लिए चुनाव लड़ रही हैं। कमला महिला मतों के लिए ही नहीं, अश्वेत मत बटोरने में बाइडन की सहायक होंगी। कमला ने पहली चुनावी सफलता डिस्ट्रिक्ट अटार्नी (सन 2003) के रूप में पाई। इसके बाद ही वह कैलिफ़ोर्निया की अटार्नी जनरल बनी थी। 

यह खबर भी पढ़े: सुशांत सिंह मामले में आया नया मोड़, मुंबई पुलिस ने रिया को नहीं दी थी क्लीन चिट

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From world

Trending Now
Recommended