संजीवनी टुडे

डोनाल्ड ट्रंप ने कहा न अलकायदा, न रूस हमारा सबसे बड़ा दुश्मन ?

संजीवनी टुडे 14-06-2018 16:33:07


वाशिंगटन । अमेरिका को वैश्विक शक्ति के नाम से जाना जाता है। दुनियाभर के देशों की समस्याओं को चाहे वह उनकी घरेलू समस्या हो या अन्य हर मुद्दे पर अमेरिका अपना दखल देता रहा है। हर मुद्दे पर अमेरिका अपनी वैश्विक शक्ति का परिचय देकर इनसे निपटने का दावा करता रहा है। हाल ही में उत्तर कोरिया का निरस्त्रीकरण का मुद्दा काफी चर्चा में रहा। इसमें भी अमेरिका ने अहम भूमिका निभाई इसके परिणाम तो भविष्य में पता चलेंगे।

ये है अमेरिका का सबसे बड़ा दुश्मन

अमेरिका में पिछले काफी वक्त से फेक न्यूज का मुद्दा गरमाया हुआ है। फेक न्यूज मीडिया से जुड़ी एक बड़ी समस्या है। जिसके तहत किसी की छवि को धूमिल करने या अफवाह फैलाने के लिए झूठी खबर पब्लिश की जाती है। ऐसी झूठी खबरों पर रोक लगाने की पहल दुनियाभर में चल रही है। 

उन्होंने कहा है कि मीडिया के द्वारा फैलाया जा रहा फेक न्यूज ये बताता है कि अमेरिका का सबसे बड़ा दुश्मन और कोई नहीं बल्कि खुद मीडिया है। उन्होंने ये आरोप लगाया है कि उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन के साथ हुए शिखर सम्मेलन को मीडिया ने एक असफल प्रयास बताया। 

दो मीडिया संस्थान खास तौर पर ट्रंप के निशाने पर

वे उत्तर कोरिया के साथ हुए अमेरिकी समझौते को असफल दिखान की भरपूर कोशिश कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि हमारे देश का सबसे बड़ा दुश्मन फेक न्यूज है, ये एक ऐसी चीज है जिससे आसानी से किसी को भी बेवकूफ बनाया जा सकता है।

जयपुर में प्लॉट मात्र 2.40 लाख में call: 09314166166

MUST WATCH

इस ऐतिहासिक मुलाकात में दोनों नेताओं ने निरस्त्रीकरण की प्रक्रिया पर जोर देने पर चर्चा की। वहीं डोनाल्ड ट्रंप ने दक्षिण कोरिया और अमेरिका के संयुक्त सैन्य अभ्यास को समाप्त करने की भी घोषणा की। मुलाकात में ट्रंप ने किम जोंग उन को व्हाइट हाउस आने का भी न्योता दिया, जिसे उत्तर कोरियाई नेता ने सहर्ष स्वीकार किया। इस लिहाज दोनों नेताओं के बीच हुई ये शिखर वार्ता को सफल बताया जा रहा है।

Rochak News Web

More From world

Trending Now
Recommended