संजीवनी टुडे

चीन से नाराज डोनाल्‍ड ट्रंप भी चल पड़े पीएम मोदी की राह पर, चीन को दे सकते हैं बड़ा झटका

संजीवनी टुडे 01-08-2020 08:48:58

भारत और चीन के बीच बॉर्डर पर गतिरोध जारी है। ऐसे में भारत का दोस्त और चीन से नाराज अमेरिका के राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप भी अब पीएम मोदी की राह पर चल पड़े हैं। ट्रंप ने शुक्रवार कहा कि उनका प्रशासन चाइनीज वीडियो शेयरिंग ऐप टिकटॉक को बैन कर सकता है।


न्‍यूयॉर्क। भारत और चीन के बीच बॉर्डर पर गतिरोध जारी है। ऐसे में भारत का दोस्त और चीन से नाराज अमेरिका के राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप भी अब पीएम मोदी की राह पर चल पड़े हैं। ट्रंप ने शुक्रवार कहा कि उनका प्रशासन चाइनीज वीडियो शेयरिंग ऐप टिकटॉक को बैन कर सकता है। हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि टिकटॉक के अलावे उनके पास दूसरे विकल्प भी है, जिस पर सोच-विचार किया जा रहा है। आपको बता दें कि कोरोना को लेकर डोनाल्‍ड ट्रंप चीन से बुरी तरह खफा हैं और उन्‍होंने चीन से कई व्‍यापारिक संबंध खत्‍म कर लिए हैं।

TikTok

सूत्रों के मुताबिक मीडिया से बात करते हुए ट्रंप ने कहा कि "हम टिकटॉक के मामले को देख रहे हैं और हम टिकटॉक पर प्रतिबंध लगा सकते हैं। हो सकता है कि हम कुछ दूसरी चीजें भी करें। हमारे पास कुछ और भी विकल्प हैं, लेकिन हम टिकटॉक के संबंध में बहुत सारे विकल्पों पर गौर कर रहे हैं।"

विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ ने एक डिजिटल बैठक में इकोनॉमिक क्लब ऑफ न्यूयॉर्क में कहा था, "भारतीयों ने फैसला किया कि वे भारत में चल रही 50 या उससे अधिक चीनी ऐप्स को हटाने जा रहे हैं।

उन्होंने ऐसा इसलिए नहीं किया कि अमेरिका ने उनसे ऐसा करने को कहा था। उन्होंने ऐसा इसलिए किया क्योंकि वे चीन की कम्युनिस्ट पार्टी से भारतीय लोगों को होने वाले खतरे को देख सकते थे।" जुलाई महीने की शुरुआत में पोम्पिओ ने कहा था कि अमेरिका टिकटॉक पर प्रतिबंध लगा सकता है।

TikTok

टिकटॉक को मिल सकता है इन दिग्‍गज आईटी कंपनियों का साथ

जानकारी के अनुसार टिक टॉक ने शुक्रवार को एक बयान जारी करते हुए कहा था, 'हम अटकलबाजी और अफवाहों पर कोई टिप्पणी नहीं करना चाहते, हम टिक टॉक की लंबी कामयाबी में विश्वास रखते हैं। तकनीक प्रौद्योगिकी क्षेत्र की एक दिग्गज कंपनी अमेरिका में टिकटॉक की कमान अपने हाथ में ले सकती है। यदि ऐसा हो जाता है तो संभव है कि टिकटॉक पर अमेरिका में प्रतिबंध ना लग पाए। वॉल स्ट्रीट जर्नल और ब्लूमबर्ग की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि ट्रंप प्रशासन एक ऐसा आदेश तैयार कर रहा है जिसमें चीनी कंपनी बाइटडांस को अमेरिका में अपने कारोबार को बेचने के लिए कहा जा सकता है।

TikTok

इसके पीछे इस चीनी एप से सुरक्षा के मद्देनजर उठते संभावित खतरों को एक बड़ी वजह बताया गया है। वहीं फॉक्स न्यूज ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि टिकटॉक के अमेरिका में कारोबार को खरीदने को लेकर दिग्गज आईटी कंपनी माइक्रोसॉफ्ट से बात कर रही है। रिपोर्ट में कहा गया है कि यह सौदा 10 अरब डॉलर से अधिक राशि का हो सकता है।

यह खबर भी पढ़े: अगर आपके शरीर के इस अंग पर हैं तिल तो जरूर जानिए इसका मतलब...

यह खबर भी पढ़े: आज से बदल गए है पैसों से जुड़े ये 5 बड़े नियम, जानें

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From world

Trending Now
Recommended