संजीवनी टुडे

डेमोक्रेटिक प्रत्याशियों ने आर्थिक विसंगतियों के लिए ट्रम्प को कोसा

संजीवनी टुडे 27-06-2019 16:39:35

डेमोक्रेटिक पार्टी की पहली राष्ट्रीय बहस के पहले चरण में सिनेटर एलिज़ाबेथ वारेन सहित अन्य सभी नौ प्रत्याशियों ने कहा कि राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के काल में आर्थिक विसंगतियां हुईं हैं जिसका लाभ केवल धनाढ़्य वर्ग को मिल रहा है।


लॉस एंजेल्स। अमेरिका में  राष्ट्रपति चुनाव -2020 के लिए डेमोक्रेटिक पार्टी की पहली राष्ट्रीय बहस के पहले चरण में सिनेटर एलिज़ाबेथ वारेन सहित अन्य सभी नौ प्रत्याशियों ने कहा कि राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के काल में  आर्थिक विसंगतियां हुईं हैं जिसका लाभ केवल धनाढ़्य वर्ग को मिल रहा है। 

इन डेमोक्रेट नेताओं ने कहा कि वे ट्रम्प के  मेक्सिको बार्डर पर अवैध आव्रजन संकट  से सहमत नहीं हैं। उन्होंने  ट्रम्प शासन के दौरान कराधान, महिला और पुरुषों के एक समान वेतन, स्वास्थ्य बीमा और आव्रजन नीति में सुधार संबंधी मुद्दे उठाए। डेमोक्रेटिक प्रत्याशियों ने मूलत : कॉरपोरेट जगत की कंपनियों को अतिरिक्त कर सुविधाएं दिए जाने पर रोष जताया। उनका कहना था कि बड़ी कम्पनियों को सिर्फ़ अपने लाभ मतलब से है। दूसरे चरण की बहस गुरुवार की सायं होगी।

प्रत्याशियों को सवालों के जवाब देने के लिए एक-एक मिनट का समय दिया जा रहा था, लेकिन दोबारा जवाब देने के लिए दस सेकेंड मिल रहे थे। हालांकि प्रत्याशियों ने प्रशासन की नीतियों पर सीधे तौर पर ट्रम्प के नाम का उल्लेख नहीं किया।  

उल्लेखनीय है कि मियामी में बुधवार रात 'एनबीसी' टीवी पर प्रसारित राष्ट्रीय बहस में डेमोक्रेटिक पार्टी के संभावित बीस प्रत्याशियों में से पहले चरण की बहस में दस प्रतिस्पर्धियों ने भाग लिया लिया। 

बहस के दौरान एलिज़ाबेथ वारेन ने कहा कि बेशक अर्थव्यवस्था में बदलाव आ रहे हैं,लेकिन इसका लाभ काॅरपोरेट जगत को मिल रहा है। ड्रग कंपनियां लूट मचा रही हैं।  सिनेटर एमी क्लोबचर ने कहा कि यदि वह राष्ट्रपति चुनी जाती हैं तो वह चार सालों में स्वास्थ्य बीमा से मुक्ति दिला देंगी। इससे देश के पंद्रह करोड़ अमेरिकियों को लाभ होगा। अभी ये लोग अपना स्वास्थ्य बीमा अपनी नियोक्ता कंपनियों के जरिए निजी बीमा कंपनियों से ख़रीदते हैं। 

उन्होंने देश के निर्धन वर्ग के लिए निशुल्क कम्यूनिटी काॅलेज खोले जाने पर भी ज़ोर दिया। सिनेटर कोरी बूकर ने काॅरपोरेट जगत पर लगाए गए करों में आमूल-चूल संशोधन किए जाने की ज़रूरत पर बल दिया। उन्होंने ज़ोर देकर कहा कि अमेजन और हल्लिबर्टन कंपनियों के कर न्यूनतम रखे गए हैं। 

हवाई से सांसद और भारतीय मूल वंशी तुलसी गाबार्ड ने कहा अफ़ग़ानिस्तान में अमेरिकी सेनाओं को उलझाए रखने का कोई औचित्य नहीं है, जबकि जय इंसली ने कहा की ट्रम्प का यह कहना सरासर ग़लत है कि विंड टरबाइन से कैंसर रोग होता है। उधर, बेटो ओ रौरक़े ने कहा कि अर्थव्यवस्था सुदृढ़ होती है, तो इसके फल सभी वर्गों को मिलना चाहिए।  

मात्र 260000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166

ju

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

More From world

Trending Now
Recommended