संजीवनी टुडे

भारत की सीमा पर तनाव पैदा करने में जुटा चीन, तैनात किए अमेरिकी स्टाइल के 'कॉम्बैट' लड़ाके

संजीवनी टुडे 23-02-2018 21:31:33

Source: Google

बीजिंग। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, चीन ने अपनी सेना को यह मजबूती भविष्‍य में ‘इंफार्मेटाइज्‍ड वारफेयर’ के लिए किया है। ‘इंफार्मेटाइज्‍ड वारफेयर’ का अर्थ युद्ध के हालात में आइटी, डिजिटल और आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस एप्‍लीकेशन का उपयोग है, इस टर्म का उपयोग चीनी मिलिट्री द्वारा हाल के वर्षों में अधिक हो रहा है। भारत की सीमा पर तैनात चीन की पीपुल्‍स लिब्रेशन आर्मी (पीएलए) के ब्रांच को शक्‍तिशाली अमेरिकी स्‍टाइल के युद्ध प्रणाली से लैस कर दिया गया है। 

यह भी देखें: वीडियो : MP में छात्र-छात्राओं ने ली बीजेपी को वोट नहीं देने की शपथ, वीडियो हुआ वायरल

उल्‍लेखनीय है कि एक दिन पहले ही चीन ने इस खबर से इंकार किया था कि वह भारतीय सीमा पर अपनी वायुसेना की तैनाती बढ़ा रहा है। यह खबर चीन के सरकारी मीडिया के हवाले से ही आई थी। चीन ने कहा है कि इस इलाके में शांति व्याप्त करने के लिए पड़ोसी देश भारत को उसके साथ मिलकर काम करना चाहिए।

वेस्‍टर्न थियेटर कमांड से पीएलए स्‍पेशल ऑपरेशन फोर्सेज के ब्रांच, स्‍काई वोल्‍फ कमांडोज को उनकी ट्रेनिंग में QTS-11 सिस्‍टम से लैस कर दिया गया था। वेस्‍टर्न थियेटर कमांड 3,488 किमी लंबी भारत के साथ लगी सीमा एलएसी को देखती है।

बता दें कि कुछ समय पहले चीनी सेना ने अपने J-10 और J-11 जेट फाइटर की तस्वीरें रिलीज की थीं। इसके अलावा चीन ने हाल ही में स्टेल्थ फाइटर J-20 को भी अपने बेड़े में शामिल किया था। ये विमान चीन की वेस्टर्न थिएटर कमांड को मिले हैं चीनी वायुसेना की यह कमांड इसके भारत से लगे पहाड़ी इलाकों में युद्ध का सामना करने या सीमा की सुरक्षा करने के लिए तैनात रहती है।

ये भी देंखें वीडियो : बीजेपी के इस सांसद ने स्कूल में शौचालय की अपने हाथो से की सफाई

इनकी क्षमता इस बात पर निर्भर करती है इनका इस्‍तेमाल किस तरह होता है। यह काफी महंगा सिस्‍टम है। इंटिग्रेटेड युद्ध प्रणाली का विकास पहली बार अमेरिका द्वारा किया गया था लेकिन उन्‍होंने इस रिसर्च को वजन की कठिनाइयों के कारण छोड़ दिया। इस सिस्‍टम में असॉल्‍ट राइफल व 20 मिलीमीटर ग्रेनेड लांचर है। QTS-11 सिस्‍टम का वजन 7 किग्रा है। सोंग ने कहा अमेरिका और चीन के सिस्‍टम एक तरह के हैं लेकिन ये तुलना करने योग्‍य नहीं हैं। 

MUST WATCH

कुछ ही समय पहले भारत और चीन की सेनाओं के बीच डोकलाम में 73 दिनों तक गतिरोध देखने को मिला था। हालांकि, बाद में बिना किसी बड़ी घटना के दोनों देशों की सेनाओं में सहमति बन गई थी। चीनी विशेषज्ञों के अनुसार, QTS-11 सिस्‍टम अमेरिकी सैनिकों द्वारा उपयोग किए गए सिस्‍टम के समान है। चीनी मिलिट्री एक्‍सपर्ट सोंग झोनपिंग ने कहा, इसे दुनिया में सबसे शक्‍तिशाली फायर पावर की तरह जाना जाता है।

Rochak News Web

More From world

Trending Now
Recommended