संजीवनी टुडे

चंद्रयान..2 इसरो का ऐतिहासिक प्रयास: नामिरा सलीम

इनपुट- यूनीवार्ता

संजीवनी टुडे 11-09-2019 16:21:39

पाकिस्तान की पहली अंतरिक्ष यात्री नामिरा सलीम ने इसरो को चंद्रयान2 मिशन के लिए बधाई देते हुए इसे चन्द्रमा पर पहुंचने के उसके प्रयास को ऐतिहासिक करार दिया है।


इस्लामाबाद। पाकिस्तान की पहली अंतरिक्ष यात्री नामिरा सलीम ने भारतीय अंतरिक्ष एवं अनुसंधान संगठन (इसरो) को चंद्रयान..2 मिशन के लिए बधाई देते हुए इसे चन्द्रमा पर पहुंचने के उसके प्रयास को ऐतिहासिक करार दिया है।

यह खबर भी पढ़े: श्रद्धालुओं से भरी ट्रैक्टर ट्रॉली पलटने से युवक की मौत, एक दर्जन से अधिक घायल

सुश्री सलीम ने डिजिटल विज्ञान पत्रिका ‘साइंटिया’ को दिये एक बयान में कहा, “ मैं भारत और इसरो को उसके चंद्रमा के दक्षिण ध्रुव पर विक्रम लैंडर की सफलतापूर्वक लैंडिग के ऐतिहासिक प्रयास के लिए बधाई देती हूं।” उन्होंने कहा, “ चंद्रयान-2 मिशन दक्षिण एशिया के लिए एक बड़ी छलांग है, इस पर न केवल इस क्षेत्र बल्कि पूरे विश्व के अंतरिक्ष क्षेत्र को गर्व है।”

गौरतलब है सात और आठ सितंबर की मध्य रात्रि तक विक्रम लैंडर चंद्रमा से महज 2.1 किलोमीटर पहले तक सामान्य कार्य रहा था, इसके बाद इसरो से इसका संपर्क टूट गया था।
सुश्री सलीम ने कहा, “ दक्षिण एशिया के अंतरिक्ष क्षेत्र में क्षेत्रीय विकास उल्लेखनीय है और यह बात कोई मायने नहीं रखती कि कौन देश इसकी अगुवाई कर रहा है .. अंतरिक्ष में सभी राजनीतिक सीमाएं ध्वस्त हो जाती हैं।

वह पहली पाकिस्तानी अंतरिक्ष यात्री हैं जिन्होंने उत्तर और दक्षिण ध्रुव की यात्रा की। उन्हें एशिया की एवरेस्ट की चोटी से स्काईडाइव करने का श्रेय भी प्राप्त है। इसरो का चंद्रयान..2 चंद्रमा के दक्षिण ध्रुव पर उतर जाता तो भारत चांद पर सफलतापूर्वक उतरने वाला अमेरिका, रूस और चीन के बाद विश्व का चौथा देश बन जाता जबकि दक्षिण ध्रुव पर उतरने वाला वह पहला देश होता।

गोवर्मेन्ट एप्रूव्ड प्लाट व फार्महाउस मात्र रु. 2600/- वर्गगज, टोंक रोड (NH-12) जयपुर में 9314166166

More From world

Trending Now
Recommended