संजीवनी टुडे

पहाड़ पर उलझे चीन को समुद्र में घेरेगा भारत, अमेरिका, जापान और ऑस्ट्रेलिया के साथ रचा जायेगा चक्रव्यूह

संजीवनी टुडे 11-07-2020 13:56:11

पिछले महीने दोनों देशों की सेनाओं में हिंसक झड़प के बाद स्थिति पिछले पांच दशकों में सबसे अधिक तनावपूर्ण हो गई।


नई दिल्ली। पिछले महीने लद्दाख के पहाड़ों पर उलझे चीन को भारत अब चारों तरफ से घेरने की तैयारी कर रहा है। चीन पर बनाए अपने दबाव को भारत किसी भी सूरत में कम नहीं करना चाहता है। यही वजह है कि भारत ने मालाबार नौसेना अभ्यास में शामिल होने के लिए ऑस्ट्रेलिया को आमंत्रित करने की योजना बनाई। अभी तक तो इस युद्धाभ्यास में केवल अमेरिका और जापान की नौसेनाएं ही भारतीय नौसेना के साथ मिलकर हिस्सा लेती रही हैं। 

गौरतलब है कि भारत की तरह ही ऑस्ट्रेलिया के साथ चीन के रिश्ते पिछले कुछ महीनों से बिगड़े हुए हैं। ऐसे में इस साल के मालाबार नौसैनिक युद्धाभ्यास के लिए ऑस्ट्रेलिया को जल्द ही भारत का न्योता मिल सकता है। इसके साथ ही पहली बार अनौपचारिक रूप से बने क्वॉड ग्रुप(Quad) को सैन्य मंच पर देखा जाएगा। इसमें भारत और ऑस्ट्रेलिया के साथ जापान और अमेरिका शामिल हैं। अभी तक भारत ने ऑस्ट्रेलिया को इससे अलग रखा था लेकिन लद्दाख में सीमा पर चीन की हरकत को देखते हुए उसे भी बुलाने का प्लान है।

Malabar maneuvers

यदि भारत अभ्यास में ऑस्ट्रेलिया को भी शामिल करता है तो Quad या क्वाड्रीलैटरल कोअलिशन के सभी सदस्यों का नेवी युद्धाभ्यास चीन को बेहद परेशान कर सकता है। Quad का गठन हिंद-प्रशांत क्षेत्र में शांति और स्थिरता सुनिश्चित करने और क्षेत्र में चीन के बढ़ते सैन्य प्रभाव को रोकने के उद्देश्य से किया गया था। 

नंवबर 2017 में भारत, अमेरिका, जापान और ऑस्ट्रेलिया ने लंबे समय से लंबित क्वाड्रीलैटरल कोअलिशन का गठन किया ताकि हिंद-प्रशांत क्षेत्र को किसी प्रभाव से मुक्त रखते हुए इस अहम समुद्री रास्ते के लिए नई रणनीति बनाई जा सके। 

Malabar maneuvers

सूत्रों के मुताबिक भारत मालाबार अभ्यास में शामिल होने की ऑस्ट्रेलिया की इच्छा पर विचार कर रहा है। अगले कुछ सप्ताह में अंतिम फैसला लिया जा सकता है। यह ऐसे समय में हो रहा है जब भारत और चीन के बीच सीमा पर तनाव है। पिछले महीने दोनों देशों की सेनाओं में हिंसक झड़प के बाद स्थिति पिछले पांच दशकों में सबसे अधिक तनावपूर्ण हो गई। 

Malabar maneuvers

बता दें कि मालाबार एक्सरसाइज की शुरुआत भारतीय और अमेरिकी नेवी के बीच 1992 में हई। 2015 में जापान भी इसका स्थायी सदस्य बन गया। पिछले कुछ सालों से ऑस्ट्रेलिया भी इसमें शामिल होना चाहता है। पिछले कुछ सालों में भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच रक्षा और सुरक्षा क्षेत्र में सहयोग बढ़ा है। पिछले महीने ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री ने पीएम नरेंद्र मोदी के साथ वर्चुअल समिट के दौरान कई अहम समझौते किए थे। भारत की तरह ऑस्ट्रेलिया के साथ भी चीन की तनातनी है। 

यह खबर भी पढ़े: Rajasthan/ पेंशनर्स की प्री-2016 के फिक्सेशन के लिए बढ़ाई आवेदन की अंतिम तिथि, जानिए अब कब तक कर सकते है Apply

यह खबर भी पढ़े: औषधि नियामक ने कोविड-19 मरीजों के इलाज के लिए 'मोनोक्लोनल एंटीबॉडी इंजेक्शन' को दिखाई हरी झंडी, जानिए क्या है शर्ते?

 

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From world

Trending Now
Recommended