संजीवनी टुडे

कोरोना वायरस से जुडी सारी जानकारी, लक्षण, सावधानी, उपाय और हेल्पलाइन नंबर, जानिए क्या करे और क्या नहीं

संजीवनी टुडे 29-03-2020 15:23:46

भारत में​ अब तक 1000 से अधिक लोगों में इसकी पुष्टि हो चुकी है और कोरोना से 27 लोगों की मौत हो चुकी है।


डेस्क। पूरा विश्व कोरोना की चपेट में आ चूका है। इसके चपेट में आने से 30 हजार से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है। और भारत में इस वायरस तेजी से बढ़ता जा रहा है। भारत में अब तक 1000 से अधिक लोगों में इसकी पुष्टि हो चुकी है और कोरोना से 27 लोगों की मौत हो चुकी है। अभी भी इस वायरस को लेकर लोगों के मन में तमाम प्रकार के सवाल और भ्रम हैं। एशियानेट न्यूज हिंदी कोरोना वायरस के बारे में आपको हर एक चीज बताने जा रहा है, जो बेहद जरूरी है।

corona virus

क्या है कोरोना वायरस?
चीन के हुबेई प्रांत के वुहान में कोरोना का सबसे पहला मामला सामने आया था। कोरोना वायरस का तकनीकी नाम सार्स सीओवी-2 है। इस वजह से होने वाली सांस की बीमारी को कोरोना वायरस डिजीज 2019 यानी COVID- 19 नाम दिया गया है। इसके संक्रमण से जुकाम से लेकर सांस लेने में तकलीफ जैसी समस्याएं हो सकती हैं। इससे पहले कोरोनावायरस को कभी नहीं देखा गया। अभी तक इस वायरस को फैलने से रोकने के लिए कोई टीका नहीं बना है। 

corona virus

क्या हैं इसके लक्षण?
विश्व स्वास्थ्य संगठन के मुताबिक, इन लक्षणों में कोरोना वायरस पाया गया है। 

1- बुखार
2- सूखा खांसी
3- थकान
4- कफ
5- सांस लेने में परेशानी
6- शरीर और जोड़ोंं में दर्द
7- गले में खराश
8- सिर दर्द
9- ठंड लगना
10- उल्टी

corona virus

 

हेल्पलाइन नंबर ...

corona virus

कोरोना से किसे सबसे ज्यादा खतरा?
चीन से सामने आई जानकारियों के मुताबिक, जिन लोगों को कोरोना से सबसे ज्यादा खतरा है, वे हैं
1- वृद्ध (एडल्ट)
2- लोग, जिन्हें ये बीमारियां हैं 
3- हृदय से जुड़ीं बीमारियां
4- डायबिटीज
5- फेफड़ों से जुड़ीं बीमारियां

corona virus

कोरोना से बचने के लिए क्या करें?
1- ज्यादातर वक्त घर पर गुजारें। अपने डॉक्टर से बात कर COVID-19 से बचने के लिए अतिरिक्त दवाएं लें।
2- अपने हाथ साफ रखें।
3- नियमित अंतराल के बाद अपने हाथों को साबुन से धोते रहें। खासकर नाक छूने, खांसने और सार्वजनिक जगहों से लौटकर। 
4- अगर पानी ना हो तो हैंड सैनिटाइजर से हाथ साफ करें। 
5- छींकते या खांसते वक्त टिश्यू पेपर का इस्तेमाल करें और इसे डस्टबिन में डालें।

क्या ना करें?
1- बीमार लोगों के संपर्क में ना आएं।
2- सार्वजनिक कार्यक्रमों में जाने से परहेज करें। 
3- अपने हाथ से चेहरा, नाक और आंखे छूने से बचें। 
4- सार्वजनिक जगहों पर ज्यादा छुई जाने वालीं चीजों पर हाथ लगाने से बचें। जैसे लिफ्ट का बटन, दरवाजे का हैंडल, हाथ मिलाना।
5- अफवाहों पर ध्यान ना दें।

corona virus

कोरोना से जुड़े वे सवाल, जो आपके मन में हैं?
1- कोरोना से बचने के लिए मास्क कितना कारगार है?
अभी तक इसके कम ही सबूत मिले हैं कि मास्क पहनने से वायरस से संक्रमित होने से बचा जा सकता है। हालांकि, यह बीमार इंसान के संपर्क में आने के वक्त, स्वास्थ्य और सफाई कर्मियों के लिए यह कारगार है। 

2- कितने दिन तक जिंदा रहता है कोरोनावायरस?
बीबीसी की एक रिपोर्ट के मुताबिक, विशेषज्ञों का मानना है कि कोरोनावायरस कई दिनों तक जिंदा रह सकता है। 

3- बुखार और कोरोनावायरस में क्या अंतर है?
बुखार और कोरोनावायरस के लक्षण मिलते जुलते हैं, ऐसे में बिना टेस्ट किए अंतर कर पाना काफी मुस्किल है। हालांकि, कोरोना का मुख्य लक्षण बुखार और खांसी है। साथ ही इसमें सांस लेने में काफी परेशानी महसूस हो सकती है।

4- क्या सेक्स करने से फैलता है कोरोना वायरस?
अभी तक ऐसी कोई जानकारी सामने नहीं आई, जिससे यह साबित हुआ हो कि सेक्स के जरिए किसी को संक्रमण फैला हो। 

5- कितना छोटा है कोरोना वायरस?
कोरोनावायरस इंसान के बाल से 900 गुना छोटा है। आकार में छोटा यह वायरस दुनिया को डरा रहा है।

corona virus

कोरोना के बारे में फैली हैं ये अफवाह, जानें सच-
1-क्या कोरोना पालतू जानवरों से फैलता है?- नहीं
2- एंटीबायोटिक्स से ठीक हो जाता है कोरोना- नहीं
3- क्या थर्मल स्कैनर असरदार है? - हां, लेकिन इससे केवल संक्रमित लोगों का पता चलता है।
4- क्या मास्क लगाने से नहीं होता कोरोना वायरस?- नहीं ऐसा नहीं है। वायरस इतने छोटे होते हैं कि वे मास्क से नहीं रुकते। हालांकि, इंफेक्शन फैलने से रोकने में मदद करता है।
5- क्या गोमूत्र पीने से ठीक हो जाएगा कोरोनावायरस?- नहीं।

प्लीज सब्सक्राइब यूट्यूब बटन

 

गौरतलब है कि पूरी दुनिया कोरोना की चपेट में आ चुकी है। अब तक इससे 11000 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। चीन के वुहान से निकला यह वायरस पूरी दुनिया के लिए मुसीबत बन चुका है। वुहान में दिसंबर 2019 में कोरोनावायरस का पहला मामला सामने आया था। इसके 2 महीने के भीतर ही दुनिया के 150 से ज्यादा देश इसकी चपेट में आ गए। 

यह खबर भी पढ़े: इन मजदूरों की मौत का जिम्मेदार कौन?

यह खबर भी पढ़े:  रेपो रेट में कटौती का फायदा ग्राहकों को मिलेगा, नई दर 1 अप्रैल से प्रभावी- SBI

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From world

Trending Now
Recommended