संजीवनी टुडे

एम्स एमबीबीएस के पेपर में छाया लोकसभा का चुुनावी रंग

संजीवनी टुडे 25-05-2019 18:16:54


कोटा। एम्स एमबीबीएस-2019 की शुरूआत 25 मई से हुई। परीक्षा प्रातः नौ से साढे बारह तथा दोपहर तीन से साढे छह के मध्य दो शिफ्टों में आयोजित की गई। एम्स-एमबीबीएस परीक्षा में कुल 200 प्रश्न पूछे जाते हैं। फिजिक्स, केमिस्ट्री तथा बायोलॉजी से 60-60 प्रश्न होते हैं। 10 प्रश्न जनरल नॉलेज तथा 10 प्रश्न तार्किक शक्ति से संबंधित होते हैं। 

परीक्षा 26 मई को भी दो शिफ्टों में हई। 
कोटा के अनंतपुरा परीक्षा केंद्र से पेपर देकर निकले विद्यार्थियों ने बताया कि इस बार एम्स एमबीबीएस के पेपर में भी लोकसभा चुनाव का असर दिखाई दिया। पेपर में लोकसभा चुनाव के चरणों की संख्या से जुड़ा प्रश्न पूछा गया। पश्चिम बंगाल, बिहार, असम तथा महाराष्ट्र को लोकसभा सीटों की संख्या के अनुसार आरोही क्रम में रखने पर एक प्रश्न पूछा गया। एम्स एमबीबीएस परीक्षा में 10 प्रश्न जनरल नॉलेज से पूछे जाते हैं। एम्स की मेरिट में शीर्ष रैंक के लिये निर्धारित करने में इन 10 प्रश्नों की विशेष भूमिका होती है।

मॉडर्न फिजिक्स तथा मैग्नेटिज्म से पूछे प्रश्न :
एक्सपर्ट देव शर्मा ने बताया कि 25 मई को एम्स के पेपर में फिजिक्स में मॉडर्न फिजिक्स तथा मैग्नेटिज्म पर जोर रहा। मॉडर्न फिजिक्स में परमाणु संरचना, प्रकाश विद्युत प्रभाव, सेमीकंडक्टर तथा कम्युनिकेशन सिस्टम से प्रश्न पूछे गए। इलेक्ट्रोस्टेटिक्स, कैपेसिटर तथा करंट इलेक्ट्रिसिटी से अधिक प्रश्न पूछे गए। हिट एवं थर्मोडायनेमिक्स, प्रॉपर्टीज ऑफ मैटर तथा रोटेशनल मोशन से भी प्रश्न थे। यूनिट्स एंड डायमेंशन तथा वेक्टर्स जैसे महत्वपूर्ण टॉपिक्स से कोई प्रश्न नहीं पूछे जाने से स्टूडेंट चकित रह गये।

फिजिकल व इनऑर्गेनिक केमिस्ट्री पर रहा जोर :
फिजिकल केमिस्ट्री में सॉलिड स्टेट, इलेक्ट्रो केमिस्ट्री, केमिकल काइनेटिक्स तथा केमिकल थर्मोडायनेमिक्स से काफी प्रश्न पूछे गए। केमिस्ट्री इन एवरीडे लाइफ, पॉलीमर्स तथा बायोमॉलिक्यूल जैसे टॉपिक्स से प्रश्न पूछे गए। विद्यार्थियों के अनुसार आर्गेनिक केमिस्ट्री की तुलना में फिजिकल केमिस्ट्री तथा इनऑर्गेनिक केमिस्ट्री से अधिक प्रश्न पूछे गये।

प्लीज सब्सक्राइब यूट्यूब चैनल

बायोलॉजी में एनसीईआरटी से बाहर के प्रश्न भी पूछे :
बायोलॉजी के पेपर में एनसीईआरटी के बाहर भी प्रश्न पूछे गए। बायोलॉजी के विभिन्न भागों जैसे जेनेटिक्स, इकोलॉजी, एनाटॉमी, फिजियोलॉजी तथा बायोटेक्नोलॉजी से संतुलित प्रश्न पूछे गए। याद दिला दें कि एम्स एमबीबीएस का पेपर कम्प्यूटर बेस्ड होने से यह परीक्षार्थियों के हाथ में नहीं पहुंच पाता है। ऐसी स्थिति में परीक्षार्थियों से बातचीत कर मेमोरी बेस्ड ही पेपर विश्लेषण किया जाता है।

मात्र 240000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166

More From world

Trending Now