संजीवनी टुडे

भारत के बाद अब अमेरिका ने भी दिया चीन को तगड़ा झटका, लिया ये बड़ा फैसला

संजीवनी टुडे 01-07-2020 13:47:13

अमेरिका ने चीन को 60 दिन का नोटिस दिया है जिसका साफ मतलब है कि अब चीन की कंपनियों की मनमानी नहीं चलेगी।


वॉशिंगटन। भारत की चीन पर डिजिटल स्ट्राइक के बाद अब अमेरिका ने भी चीन पर बड़ी कार्रवाई करते हुए चीनी कंपनियों हुआवे और जेडटीई को राष्ट्रीय खतरा बताया है और कहा है कि देश की कंपनियों को इन दोनों कंपनियों के उपकरण हटाने होंगे। साथ ही अमेरिका ने चीन के हांगकांग को लेकर राष्ट्रीय सुरक्षा कानून लाए जाने की घोषणा के बाद अब अमेरिकी मूल अत्याधुनिक रक्षा उपकरणों और तकनीक के निर्यात पर प्रतिबंध लगा दिया है। 

यूएस फेडरल कम्युनिकेशन कमीशन (एफसीसी) ने मंगलवार को 5-0 से मतदान कर चीन की प्रौद्योगिकी कंपनी हुआवे और जेडटीई को राष्ट्रीय खतरा बताया है। यही नहीं ट्रंप सरकार ने अमेरिकी कंपनियों को उपकरण खरीदने के लिए मिलने वाले 8.3 अरब डॉलर के फंड को भी रोक दिया है।

america-china

एफसीसी ने एक बयान में स्पष्ट शब्दों में कहा है कि दूरसंचार कंपनियों को अपने बुनियादी सुविधा ढांचे से इन दोनों चीनी कंपनियों के उपकरणों को हटाना होगा। बयान में कहा गया है कि अमेरिका, चीन की कम्युनिस्ट पार्टी को अमेरिकी सुरक्षा से खिलवाड़ नहीं करने देगा।

साथ ही अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने मंगलवार को ट्वीट कर कहा कि अमेरिका हांगकांग को रक्षा उपकरण और इस्तेमाल में आने वाली सभी तकनीकी के निर्यात पर बैन लगाने जा रहा है। उन्होंने लिखा कि यदि पेइचिंग हांगकांग को एक देश एक समझता है तो हमें भी निश्चित रूप से ये समझना होगा। 

america-china

बताया जा रहा है कि अमेरिका ने चीन को 60 दिन का नोटिस दिया है जिसका साफ मतलब है कि अब चीन की कंपनियों की मनमानी नहीं चलेगी। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक अमेरिका ने 20 चीनी कंपनियों की पहचान कर उसकी लिस्ट तैयार की है, जिनका कंट्रोल बीजिंग में सैन्य शासन के पास है। चीन की कंपनियों पर अमेरिका से तकनीक लाने का आरोप है। इन कंपनियों पर अमेरिका की नजर है और हो सकता है कि सूची में दर्ज कंपनियों पर अमेरिका में प्रतिबंध भी लगाया जाए। 

यानी चीन के लिए अमेरिका का आर्थिक और समरिक चक्रव्यूह तैयार हो चुका है और ये चीन के लिए मुश्किलें बढ़ाने वाला है क्योंकि चीन अपने कारोबार के दम पर ही दुनिया को अपनी धौंस दिखाता आया है और कहते हैं ना पैसा खत्म, तमाशा खत्म। सो अब चीन का खेल खत्म होने वाला है।

america-china

गौरतलब है कि भारत ने रविवार रात टिकटॉक समेत 59 चीनी ऐप को प्रतिबंधित कर दिया। भारत ने यह कदम गलवान घाटी में भारतीय सैनिकों के चीनी सैनिकों के साथ 15-16 जून की रात को हुए संघर्ष के बाद उठाया, जिसमें 20 भारतीय सैनिक शहीद हो गए थे। भारत के चीनी ऐप पर रोक के बाद चीन ने इसे बेहद चिंताजनक बताया है और अंतरराष्ट्रीय कानूनों की दुहाई देने लगा है। 

प्लीज सब्सक्राइब यूट्यूब बटन

 

यह खबर भी पढ़े: बहादुरी की मिसाल/सोपोर में गोलियों की बौछार, आतंकियों ने दादा को उतारा मौत के घाट, जवानों ने 3 साल के मासूम को बचाया

यह खबर भी पढ़े: भारत में चीनी उत्पादों का पूर्ण बहिष्कार, किस हद तक रंग लायेगा ये माहौल?

 

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From world

Trending Now
Recommended