संजीवनी टुडे

त्रिपक्षीय सहयोग के तहत भारतीय गेहूं की पहली खेप पहुंची अफगानिस्तान

संजीवनी टुडे 11-11-2017 19:50:46

Afghanistan arrives in first shipments of Indian wheat under trilateral cooperation

नई दिल्ली। त्रिपक्षीय सहयोग के तहत भारतीय गेहूं की पहली खेप ईरान के चाबहार बंदरगाह होते हुए शनिवार को अफगानिस्तान के तटवर्ती शहर जारांज पहुंची। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने अफगानिस्तान के अपने समकक्ष सलाहुद्दीन रब्बानी के साथ इस खेप को 29 अक्टूबर को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया था। यह अफगानिस्तान से शानदार कनेक्टिविटी के लिए चाबहार बंदरगाह के ऑपरेशनल होने का रास्ता साफ करेगा। 

 यह भी पढ़े: वीडियो: एक पैर से विकलांग होने के बावजूद भी देखें इस शख्स की मेहनत, रह जाएंगे हैरान

29 अक्टूबर को विदेश मंत्री सुषमा स्वराज और अफगानिस्तान के विदेश मंत्री सलाहाउद्दीन रब्बानी और ईरान के विदेश मंत्री जवाद जरीफ ने विडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए शिपमेंट भेजने की शुरुआत की थी। अगले कुछ महीनों में 6 और गेहूं के शिपमेंट अफगानिस्तान को भेजे जाएंगे। यह अफगानिस्तान के लोगों के लिए भारत की ओर से 11 लाख टन गेहूं की सप्लाई के कमिटमेंट का हिस्सा है। 

यह भी पढ़े: VIDEO: देखिए, शशिकला कैसे घूम रही है जेल के अंदर!
सूत्रों के अनुसार काबुल स्थित भारतीय राजदूत मनप्रीत वोहरा ने ट्वीट कर यह जानकारी दी है। अपने ट्वीट में उन्होंने कहा, 'चाबहार होते हुए गेहूं की पहली खेप का जरांज में परंपरागत गीत, नृत्य और उल्लास के साथ स्वागत किया गया। बेहद गर्व का क्षण है।' वोहरा ने बताया कि इस अवसर पर जरांज को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी और ईरान के राष्ट्रपति हसन रुहानी की तस्वीरों से सजाया गया था। यह खेप अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी के 24 अक्टूबर को भारत दौरे के बाद उपहार स्वरूप भेजी गई। हिंसाग्रस्त अफगानिस्तान के पुनर्निर्माण एवं विकास में भारत प्रमुख सहयोगी है।

NOTE: संजीवनी टुडे Youtube चैनल सब्सक्राइब करने के लिए क्लिक करे !

जयपुर में प्लॉट ले मात्र 2.20 लाख में: 09314188188

More From world

loading...
Trending Now
Recommended