संजीवनी टुडे

59 चीनी ऐप्स के बैन से बौखलाया चीन, भारत ने दिया करारा जवाब

संजीवनी टुडे 13-07-2020 20:44:44

भारत-चीन के बीच सीमा पर तनातनी में आई कमी के बाद चीन ने नई दिल्ली के साथ 59 चीनी ऐप्स के बैन किए जाने का मुद्दा उठाया है।


नई दिल्ली। भारत-चीन के बीच सीमा पर तनातनी में आई कमी के बाद चीन ने नई दिल्ली के साथ 59 चीनी ऐप्स के बैन किए जाने का मुद्दा उठाया है। दरअसल, पूर्वी लद्दाख में जारी तनातनी के बीच भारत सरकार ने 59 चीनी ऐप्स पर बैन लगा दिया था, चीनी ऐप्स पर लिए गए भारत के सख्त एक्शन से चीन बौखलाया है। चीन ने हाल ही में दोनों देशों की बैठक में चीनी ऐप्स पर प्रतिबंध लगाए जाने का मुद्दा उठाया था, जिसके जवाब में भारत सरकार ने कहा कि यह एक्शन सिर्फ और सिर्फ देश की आंतरिक सुरक्षा के मद्देनजर लिया गया है।

सूत्रों के मुताबिक, मीटिंग में चीनी पक्ष ने 59 चाइनीज ऐप्स के बैन का मुद्दा उठाया था, जिसके जवाब में भारत ने साफ कर दिया कि यह कार्रवाई सुरक्षा कारणों को ध्यान में रखते हुए की गई है और भारत नहीं चाहता कि उसके देश के नागरिकों से जुड़े डेटा से छेड़छाड़ की जाए। 

भारत सरकार ने 29 जून को खुफिया एजेंसियों से मिली जानकारी के बाद ऐप्स पर प्रतिबंध लगा दिया था कि चीनी कंपनियां इन ऐप्स के जरिए डेटा जुटा रही हैं और उन्हें बाहर भी भेज रही हैं। चीनी ऐप्स पर यह प्रतिबंध सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम की धारा 69 ए के तहत लगाया गया है। 

सरकार की ओर से जारी बयान में कहा गया, 'भारत की राष्ट्रीय सुरक्षा के प्रति शत्रुता रखने वाले तत्वों द्वारा इन आंकड़ों का संकलन, इसकी जांच-पड़ताल और प्रोफाइलिंग, आखिरकार भारत की संप्रभुता और अखंडता पर आघात है, यह बहुत अधिक चिंता का विषय है, जिसके लिए आपातकालीन उपायों की जरूरत है। गृह मंत्रालय के तहत आने वाले भारतीय साइबर अपराध समन्वय केंद्र ने इन दुर्भावनापूर्ण एप्स पर व्यापक प्रतिबंध लगाने की सिफारिश भी की थी।'

यह खबर भी पढ़े: विधायकों की खरीद फरोख्त के विरोध में कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने भाजपा कार्यालय पर किया उग्र प्रदर्शन

यह खबर भी पढ़े: Google के सीईओ सुंदर पिचाई का बड़ा एलान, कहा- भारत में करेगा 75,000 करोड़ रुपये का निवेश

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From world

Trending Now
Recommended