संजीवनी टुडे

दिल्ली से बिना पास, बिना मेडिकल के नैनीताल आए तीन युवकों के खिलाफ मुकदमा दर्ज

संजीवनी टुडे 16-07-2020 17:14:38

देश में कोरोना के सर्वाधिक संक्रमितों के लिहाज से देश में तीसरे पायदान पर रहने वाली दिल्ली के लोग अपने साधनों से कोरोना संक्रमण की सर्वाधिक संभावना के बावजूद पहाड़ों की ओर रुख करने से बाज नहीं आ रहे हैं।


नैनीताल। देश में कोरोना के सर्वाधिक संक्रमितों के लिहाज से देश में तीसरे पायदान पर रहने वाली दिल्ली के लोग अपने साधनों से कोरोना संक्रमण की सर्वाधिक संभावना के बावजूद पहाड़ों की ओर रुख करने से बाज नहीं आ रहे हैं। स्थानीय लोगों का कहना है कि ये लोग एक तरह के ‘कोरोना फिदायीन बम’ हैं, जो खुद के साथ ही अन्य लोगों को कोरोना संक्रमण देकर सबकी जान जोखिम में डालने के लिए आ रहे हैं। उल्लेखनीय है कि ऐसे ही दिल्ली निवासी कुछ लोगों को कल भीमताल पुलिस ने वहां के एक रिजॉर्ट में पकड़ा है।

गुरुवार को तल्लीताल थाना क्षेत्र में डांठ के पास दिल्ली के तीन युवकों दीपक यादव पुत्र रमेश यादव, निवासी रोहिणी, दीपक यादव पुत्र उत्तम चंद्र यादव, पदम विहार मथुरा और गौरव यादव पुत्र राजकुमार निवासी रोहिणी (दिल्ली) को थाने के मुख्य वरिष्ठ आरक्षी शिवराज सिंह राणा ने पकड़ा है। ये लोग दिल्ली नंबर की काले रंग की स्कॉर्पियों गाड़ी संख्या डीएल8सीएजेड-5616 से यहां पहुंचे थे। उनकी गाड़ी पर काली फिल्म भी चढ़ी थी। जांच में उनके पास कोई ई-पास या मेडिकल सर्टिफिकेट आदि कुछ भी नहीं मिला है। 

सीओ विजय थापा के आदेश पर उनके खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 269/270 तथा महामारी अधिनियम की धारा 3 व आपदा प्रबंधन अधिनियम की धारा 51 बी के तहत मुकदमा पंजीकृत किया गया है। उनकी गाड़ी को भी सीज किया जा रहा है। इस कार्रवाई के बाद उन्होंने सीधे दिल्ली लौटने का फैसला किया है। जमानती अपराध होने के कारण उन्हें नोटिस देकर वापस भेजा जा रहा है।

यह खबर भी पढ़े: Corona: डॉ. हर्षवर्धन ने AIIMS की नई OPD के भवन का किया उद्घाटन, बोले- आगामी दिनों में 10 लाख प्रतिदिन टेस्ट होंगे

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From uttarakhand

Trending Now
Recommended