संजीवनी टुडे

खून की उल्टी, पेट फूलना, कमजोर आंतें और पाचन क्षमता कम होना भी कोरोना का लक्षण

संजीवनी टुडे 15-07-2020 22:08:24

खून की उल्टी, पेट फूलना, कमजोर आंतें और पाचन क्षमता कम होना भी कोरोना का लक्षण


गोरखपुर। कोरोना संक्रमण के मरीजों में एक अलग तरह का लक्षण दिखने से डॉक्टर परेशान है। नए पाए गए लक्षणों में खून की उल्टी और पेट फूलने, आंतों को कमजोर करने, पाचन क्षमता को कम करने जैसे लक्षण पाए जा रहे हैं। हालिया मामले गोरखपुर स्थित बाबा राघवदास (बीआरडी) मेडिकल कालेज में देखा गया है।बीआरडी मेडिकल कॉलेज में भर्ती 12 मरीजों में आंतों के संक्रमण के लक्षण मिले हैं। इनमें से 10 मरीज पेट दर्द और पेट फूलने की शिकायत लेकर पहुंचे थे। खाना न पचने की शिकायतें भी भी थीं। यहां तक कि दो मरीजों को खून की उल्टी तो हुई ही, शौच के दौरान भी खून की शिकायत आई।  

एहतियात के तौर पर कोरोना जांच कराई गई
मेडिसिन विभाग के डॉक्टरों ने मरीजों के इन लक्षणों को देखते हुए एहितयात के तौर पर कोरोना जांच कराई। जांच में संक्रमण की तस्दीक हुई। बीआरडी मेडिकल कॉलेज में प्राइवेट अस्पताल से रेफर होकर पहुंचे दो मरीजों में भी कोरोना का संक्रमण मिला है। उनमें से एक की हालत नाजुक होने पर वेंटिलेटर पर रखना पड़ा। वह मरीज 4 दिन वेंटिलेटर पर रहा।

जिला अस्पताल के फिजिशियन डॉक्टर राजेश कुमार ने बताया कि वायरस के संक्रमण का असर आंत पर हो रहा है। संक्रमण के दौरान वायरस आंत की आंतरिक झिल्ली (म्यूकोसा) को नुकसान पहुंचा रहा है। घाव भी बना रहा है। म्यूकोसा में छेद हो रहा है। झिल्ली फटने से आंत में रक्तस्राव हो रहा है। कुछ मामलों में रक्त उल्टी के जरिये बाहर निकल रहा है। 

अपच की शिकायत भी है
बीआरडी मेडिकल कॉलेज के मेडिसिन विभाग के एसोसिएट प्रोफेसर डॉ. राजकिशोर सिंह ने बताया कोरोना का असर आंत के साथ लिवर पर सबसे ज्यादा हो रहा है। पहले से लिवर की बीमारी से पीड़ित मरीजों को इससे खतरा बढ़ जा रहा है। संक्रमण लिवर तक पहुंचने पर ट्रांसएमिनेज एंजाइम का स्तर तेजी से बढ़ रहा है। यह एंजाइम आंत में खाना पचने की प्रक्रिया को बाधित करता है। इससे भूख कम लगने और उल्टी की शिकायत होती है। कुछ मरीजों को पेट दर्द, पेट फूलने और लिवर के बढ़ने की भी समस्या इस एंजाइम के कारण होती है।

न करें नजरअंदाज
कोरोना वार्ड के नोडल अधिकारी रहे डॉ. राज किशोर सिंह ने बताया कि कुछ मामलों में मरीज को पेट दर्द के अलावा और कोई लक्षण ही नहीं आ रहे हैं। अस्पताल में मरीज पेट दर्द, पेट फूलने शिकायत लेकर आए थे। सामान्य तौर पर यह अपच का मामला लगा। एक दर्जन से अधिक मामलों में कोरोना की तस्दीक के बाद अब सभी सतर्क हैं। ऐसे मरीजों की अब एहतियातन कोरोना संक्रमण की जांच कराई जा रही है। इन लक्षणों को किसी भी सूरत में नजरअंदाज न करें।

यह खबर भी पढ़े: सरकार के सियासी घमासान में फिर फंसे कॉलेज विद्यार्थी’

यह खबर भी पढ़े: कोरोना से बचाव के लिए रेलवे ने तैयार किया ‘पोस्ट कोविड कोच’, बिना हाथ लगाए बंद होगा टॉयलेट का गेट व नल

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From uttar-pradesh

Trending Now
Recommended