संजीवनी टुडे

फसल उत्पादों की प्रोसेसिंग, पैकेजिंग, ब्रांडिंग तथा मार्केटिंग के लिए मिलेगा 90% तक अनुदानः डॉ. प्रेम कुमार

संजीवनी टुडे 05-07-2020 22:04:29

फसल उत्पादों की प्रोसेसिंग, पैकेजिंग, ब्रांडिंग तथा मार्केटिंग के लिए मिलेगा 90% तक अनुदान


पटना। कृषि मंत्री डॉ. प्रेम कुमार ने कहा कि राज्य के उद्यानिक उत्पादों का मूल्य संवर्धन होगा। साथ ही प्रत्येक जिला एक फसल विशेष का हब बनेगा और फसल उत्पादों के प्रोसेसिंग, पैकेजिंग, ब्रांडिंग तथा मार्केटिंग के लिए 90 प्रतिशत तक अनुदान मिलेगा। उन्होंने कहा कि राज्य के विभिन्न जिलों में काफी मात्रा में विभिन्न उद्यानिक फसलों फल, सब्जी, मसालों की खेती की जाती है, लेकिन इन उद्यानिक उत्पादों के मूल्य संवर्द्धन नहीं हो पाने के कारण किसानों को उसका समुचित मूल्य नहीं मिल पाता है। सरकार इन फसल उत्पादों के लिए किसानों को बेहतर मूल्य दिलाने के लिए कृतसंकल्पित है। राज्य के कई जिले ऐसे हैं, जहां किसी न किसी विशेष फसल का बहुतायत मात्रा में उत्पादन होता है। 

किसी जिले में लीची, कहीं केला, कहीं मसाला आदि की बड़े पैमाने पर खेती होती है। कृषि विभाग इन जिलों में विशेष फसलों को प्रोत्साहित कर उस जिले को एक हब के रूप में विकसित करना चाहती है, जिससे उनकी मार्केटिंग में सुविधा होगी। किसानों के पास व्यापारी आयेंगे और उनके उद्यानिक उत्पाद को उचित मूल्य पर खरीदेंगे। इससे किसानों के उत्पाद का मूल्य संवर्द्धन होगा। किसी व्यक्तिगत किसान द्वारा उत्पादित उत्पाद काफी कम होने के कारण उसके बिक्री के लिए किसानों को अपने उत्पाद को या तो बिचैलिए के माध्यम से या स्थानीय बाजार में ले जाकर

इसकी बिक्री की जाती है। उत्पाद की मात्रा काफी कम होने के कारण उन्हें बाजार ले जाने में भी काफी भाड़ा लग जाता है। इस योजना के कार्यान्वयन से किसानों की आय बढ़ेगी। मंत्री ने कहा कि राज्य में फसल उत्पादन के अतिरिक्त उद्यानिक फसलों को भी प्रोत्साहित करने की योजना चलाई जा रही है।  

यह खबर भी पढ़े: सक्षम पिछड़ी जाति यादव, कुर्मी, कुशवाहा समाज आरक्षण छोड़ें : पप्पू यादव

यह खबर भी पढ़े: होम्योपैथी से कोरोना का उपचार, दो से 14 दिन में स्वस्थ्य हुए मरीज

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From uttar-pradesh

Trending Now
Recommended