संजीवनी टुडे

दबंगों के उत्पीड़न से तंग पीड़ित ने परिजनों संग मांगी इच्छा मृत्यु

संजीवनी टुडे 22-09-2020 17:51:38

जिले के रौनापार थाना क्षेत्र के देवारा करखिया गांव में जमिनी विवाद को लेकर दबंगों ने महिला पर हमला कर उसका गर्भ नष्ट कर दिया। रास्ता बंद कर इतना मजबूर कर दिया कि पीड़ित परिवार दूसरे गांव में रहने के लिए मजबूर हो गए। इ


आजमगढ़। जिले के रौनापार थाना क्षेत्र के देवारा करखिया गांव में जमिनी विवाद को लेकर दबंगों ने महिला पर हमला कर उसका गर्भ नष्ट कर दिया। रास्ता बंद कर इतना मजबूर कर दिया कि पीड़ित परिवार दूसरे गांव में रहने के लिए मजबूर हो गए। इसके बाद भी दंबगों ने पीछा नहीं छोड़ा और उसके माता पिता से मारपीट कर घायल कर दिया। 

स्थानीय थाने की पुलिस ने सीओ के दबाव में मुकदमा तो दर्ज कर लिया लेकिन कार्रवाई नहीं की। अब दबंग मुकदमा वापसी के लिए पीड़ित परिवार का खुलेआम उत्पीड़न कर रहे हैं और पुलिस मौन साधे है।

पीड़ित परिवार उत्पीड़न से इतना तंग आ गया है कि मंगलवार को जीने की ईच्छा ही छोड़ दिया है। मंगलवार को पीड़ित परिवार 30 किमी पैदल चलकर एसपी से ईच्छा मृत्यु मांगने पहुंच गया। पीड़ित परिवार के लोग गले में तख्ती लटकाए थे जिसपर हमें न्याय मिले अथवा ईच्छा मृत्यु का अधिकार मिले, नहीं मिल रहा इंसाफ, आजन्में बच्चे को मार डाले दबंग, परिवार सहित जान बचाने के लिए दर दर भटक रहे हैं हम आदि लिखा हुआ है। 

रौनापार थाना क्षेत्र के बसवरिया अराजी देवारा करखिया गांव निवासी राम विनय यादव का आरोप था कि दबंगों ने भूमि विवाद में 26 अप्रैल को उसके घर पर हमला कर दिया। पूरे परिवार को मारने पीटे के साथ ही उन्होंने गर्भवती पत्नी के पेट पर लात मारकर भ्रुण की हत्या कर दी। जब उसने थाने में शिकायत की तो थानेदार ने डांटकर भगा दिया। सीओ के हस्तक्षेप के बाद आरोपियों के खिलाफ मारपीट की मामूली धाराओं में एफआईआर दर्ज की लेकिन आरोपियों पर कोई कार्रवाई नहीं हुई। 

इधर एफआईआर दर्ज होने से नाराज दबंगों ने रास्ता बंद कर दिया और मुकदमा वापस लेने का दबाव बनाने लगे। उनके उत्पीड़न से परेशान होकर वह परिवार के साथ घर छोड़कर दूसरे गांव में रहने लगा। इसके बाद 18 सितंबर को दबंगों ने उसके माता पिता पर हमला कर घायल कर दिया। इसके बाद वे शिकायत लेकर थाने पहुंचे तो दारोगा ने डांटकर भगा दिया। पुलिस दबंगों को संरक्षण प्रदान कर रही है जिससे उसके परिवार पर खतरा और बढ़ गया है। अब उसके परिवार को पुलिस से न्याय का भरोसा नहीं रहा और वह दबंगों के हाथ मरना नहीं चाहता इसलिए एसपी से ईच्छा मृत्यु मांग रहा है। 

इस मामले में पुलिस अधीक्षक सुधीर कुमार सिंह का कहना है कि इस मामले में प्रभारी निरीक्षक रौनापार को मौके पर जाकर मामले की जांच करने व आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई का निर्देश दिया गया है। पीड़ित परिवार को न्याय दिया जाएगा।

यह खबर भी पढ़े: SSR CASE: दीपिका का पुराना पोस्ट हो रहा वायरल, पति रणवीर को कहा था- 'आप मेरे सुपर ड्रग'

यह खबर भी पढ़े: IPL 2020/ आज राजस्थान और चेन्नई के बीच होगी भिड़ंत, जानिए कैसी रहेगी दोनों टीमों की संभावित प्लेइंग IX

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From uttar-pradesh

Trending Now
Recommended