संजीवनी टुडे

6.41 लाख की हुई स्क्रीनिंग, घर-घर सर्वे में मिले 1038 रोगी: सीएमओ

संजीवनी टुडे 14-07-2020 21:45:37

6.41 लाख की हुई स्क्रीनिंग, घर-घर सर्वे में मिले 1038 रोगी: सीएमओ


चित्रकूट। मुख्य चिकित्साधिकारी डाॅ विनोद कुमार यादव ने बताया कि कोरोना वायरस के प्रभावी नियंत्रण को पांच जुलाई से शुरू विशेष अभियान में 6.41 लाख लोगों की स्क्रीनिंगकी गई। लगभग 794 लोगों के सेम्पल लेकर जांच को भेजे गए। इनमें एक कोरोना संभावित की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। जिसका इलाज बांदा मेडिकल कॉलेज में चल रहा है। मंगलवार को सीएमओ ने बताया कि प्रमुख सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद के निर्देश पर कोरोना पर प्रभावी नियंत्रण को पांच से 15 जुलाई तक विशेष अभियान चलाया जा रहा है। इसमें आशा, आंगनबाड़ी व एएनएम सर्दी, खांसी और बुखार और सांस लेने में दिक्कत के लक्षण वाले व्यक्तियों की स्क्रीनिंग की जा रही है। जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डाॅ मुकेश पहाडी ने बताया कि प्रत्येक सर्वेक्षण टीम में दो सदस्य हैं। इसमें आशा और आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को लगाया गया है। कहीं-कहीं पर आशा और एएनएम इस कार्य को कर रही हैं। टीमें सुबह आठ बजे से दिन में दो बजे तक भ्रमण कर रही हैं। ग्रामीण क्षेत्र की टीमों में आशा और आंगनबाडी कार्यकर्ता हैं। जबकि शहरी क्षेत्रों में टीम में एएनएम भी हैं। प्रत्येक सर्वेक्षण टीम के प्रत्येक सदस्य को धुलकर फिर से प्रयोग किए जा सकने वाले मास्क बांटे गये हैं। ग्रामीण क्षेत्रों में पहले से उपलब्ध कराए गए इंफ्रारेड थर्मामीटर और पल्स आक्सीमीटर का सर्वेक्षण में टीम उपयोग कर रही है। 

अभियान दौरान टीम के सदस्य कंटेनमेंट जोन में लंबी बीमारी के रोगी खांसी, बुखार एवं सांस लेने में दिक्कत वाले और गंभीर श्वांस रोगियों से संबंधित ब्योरा दर्ज कर रही हैं। टीम को यदि गंभीर श्वांस रोगी मिलता है तो उसकी जांच करके इसकी सूचना संबंधित प्रभारी चिकित्सा अधिकारी को देती हैं।प्रभारी चिकित्सा अधिकारी ऐसे रोगियों को तत्काल डेडीकेटेड कोविड क्वारंटाइन इकाई में भेजकर सेम्पल लेने की व्यवस्था करा रहे हैं। व्यस्त चैराहों पर लोगों को भीड न लगने, सामाजिक दूरी का पालन करने के लिए जागरूक किया जा रहा हैं। कंटेनमेंट जोन में आवागमन को रोका जा रहा है। उन्होंने बताया कि कोविड-19 पर प्रभावी नियंत्रण को जारी अभियान में कुल 325 टीमें काम कर रही हैं। 12 जुलाई तक 1,16,774 घरों का सर्वे किया गया है। 

इनमें से 6.41लाख  लोगों की स्क्रीनिंग की गई है। इसमें थर्मल स्कैनिंग और पल्स ऑक्सीमीटर से आक्सीजन देखने का काम किया गया। 1038 लोग सर्दी, जुखाम, खांसी, बुखार और सांस लेने में दिक्कत जैसे लक्षण वाले मिले हैं। सभी की सैंपलिंग कराई गई है। इनमें से 794 की सेम्पलिंग की रिपोर्ट जांच के लिए भेजी गई है। इन्हीं भेजे गए सैंपल में से जिला मुख्यालय के तरौंहा में एक धनात्मक रोगी (कोरोना पॉजिटिव) मिला है। जिसको इलाज के लिए बांदा मेडिकल कॉलेज भेजा गया है।

यह खबर भी पढ़े: रूठों की मान-मनौव्वल के लिए मंगलवार को दोबारा बुलाई कांग्रेस विधायक दल की बैठक

यह खबर भी पढ़े: बिहार में 16 से 31 जुलाई तक संपूर्ण लॉकडाउन, कोरोना के बढ़ते मामले पर सरकार ने उठाए कठोर कदम

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From uttar-pradesh

Trending Now
Recommended