संजीवनी टुडे

बढ़ती महंगाई, अपराध और बेरोजगारी है योगी सरकार के साढ़े तीन साल की उपलब्धि : डॉ मनोज पांडे

संजीवनी टुडे 18-09-2020 15:36:53

प्रदेश की योगी सरकार के साढ़े तीन साल पूरे हो चुके हैं। सरकार जहां अपनी उपलब्धियों को लेकर जनता के सामने जा रही है, वहीं विपक्ष भी सरकार को कटघरे में खड़ा कर रहा है।


रायबरेली। प्रदेश की योगी सरकार के साढ़े तीन साल पूरे हो चुके हैं। सरकार जहां अपनी उपलब्धियों को लेकर जनता के सामने जा रही है, वहीं विपक्ष भी सरकार को कटघरे में खड़ा कर रहा है। प्रदेश की मुख्य विपक्षी पार्टी सपा इस मुद्दे पर सरकार को घेरने में जुटी है।

हिन्दुस्थान समाचार के संवाददाता रजनीश पांडे ने भी इन सब मुद्दे पर समाजवादी पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता और पूर्व मंत्री डॉ मनोज पांडे से बात की। 

डॉ पांडे अखिलेश सरकार में कैबिनेट मंत्री रहे हैं और रायबरेली के ऊँचाहार से दूसरी बार विधायक चुने गए हैं। हाल ही में पार्टी ने उन्हें प्रदेश प्रवक्ता के रूप में अहम जिम्मेदारी सौंपी है। डॉ मनोज़ पांडे को अखिलेश सिंह की कोर कमेटी का हिस्सा माना जाता है और उन्हें कई मुद्दों पर सरकार के खिलाफ रणनीति तैयार करने की जिम्मेदारी भी दी गई है। प्रस्तुत है इस बातचीत के मुख्य अंश... 

बढ़ती महंगाई, अपराध में वृद्धि और बेरोजगारी है योगी सरकार के साढ़े तीन साल की उपलब्धि
डॉ मनोज पांडे का कहना है कि योगी सरकार हर मोर्चे पर असफल रही है। कानून व्यवस्था बदहाल है। अपराध में 2017 के बाद जो वृद्धि हुई है यह उल्लेखनीय है। ख़ुद केन्द्र सरकार के क्राइम ब्यूरो के आंकड़े इसकी गवाही दे रहे हैं।

डॉ पांडे के अनुसार क्राइम ब्यूरो के अनुसार छिनैती, बाल और महिला अपराध में उप्र नम्बर-1 बन चुका है। 40 साल के इतिहास में बेरोजगारी में इतनी वृद्धि कभी नहीं हुई। साढ़े तीन साल के कार्यकाल में युवाओं को रोज़गार देने के कोई प्रयास नहीं किये गए। जीडीपी में इतनी गिरावट कभी नहीं देखी गई।

प्रदेश सरकार को घेरते हुए उन्होंने कहा कि साढ़े तीन साल में इस दिशा में कोई भी ठोस कदम नहीं उठाये गए। जनता बेहाल है और अधिकारी बेलगाम हैं। इस सरकार के मंत्री और विधायक ख़ुद इस तरह के आरोप लगा रहे हैं। 

डॉ मनोज़ पांडे का कहना है कि सपा जनता के सामने योगी सरकार की नाकामियों को ले जा रही है। सरकार को चाहिये कि वह उपलब्धियों का ढिंढोरा पीटने के बजाय जनता के लिए काम कुछ काम करें। 

अपराध और भ्रष्टाचार में लिप्त है पूरी सरकार 
पूर्व मंत्री और प्रदेश प्रवक्ता ने योगी सरकार को घेरते हुए कहा कि पूरी सरकार ही अपराध में लिप्त है। आईपीएस वैभव कृष्ण की शिकायत पर गठित एसआईटी ने जिस तरह से तत्कालीन डीजीपी पर आरोप लगाये हैं।वह बेहद संगीन है, एसआईटी का यह कहना कि जांच में डीजीपी के द्वारा देरी की गई व तथ्यों से भी छेड़छाड़ हुई वह बहुत ही गंभीर है। अब तो प्रदेश में हुई अब तक कि सभी जांच सवालों के घेरे में है। जब प्रदेश सरकार का डीजीपी ही भ्रष्टाचार में लिप्त है तो क्या हालत होगी इसे समझा जा सकता है।

उन्होंने कहा कि इसी तरह के आरोप सुलतानपुर और गाजियाबाद के विधायक ने भी लगाये हैं। सरकार ने कोरोना की वैश्विक माहमारी के बीच ही भ्रष्टाचार की फसल तैयार कर ली। अपराध के साथ-साथ जिस तरह से हर मामले में भ्रष्टाचार है और कोरोना को एक अवसर मान के काम किया जा रहा है वह जनता के साथ सरकार का छलावा है जिसे सब अच्छी तरह से समझ चुके हैं। 

2022 में किसानों और बेरोजगारों का होगा प्रमुख मुद्दा
हर मोर्चे पर यह सरकार असफ़ल है और अगले डेढ़ साल में किसानों की समस्या और बढ़ती बेरोजगारी प्रमुख मुद्दा होगा। सपा के प्रवक्ता पूर्व मंत्री डॉ मनोज पांडे ने कहा कि किसानों की आय दुगनी करने की बात कही गई थी लेकिन आय बढ़ने की बजाय लगातार कम हो रही है। सरकार ने एक भद्दा मज़ाक किया है कि नौकरी अब संविदा पर होगी और ब्यूरोक्रेसी तय करेगी कि किसे नौकरी मिले। 

इससे ज़्यादा ख़राब बात और कुछ नहीं हो सकता। यह सरकार का बेरोजगारों के साथ ऐसा क्रूर बर्ताव है जिसे वह कभी नहीं भूल सकता। जिस तरह किसानों और बेरोजगारों के साथ छलावा हुआ है उसका जबाब जनता अगले डेढ़ साल।में देने जा रही है।

डॉ पांडे का कहना है कि इस मुद्दे पर पूरी तरह से समाजवादी पार्टी बेरोजगारों के साथ खड़ी है और इसे किसी भी कीमत में सहन नहीं किया जा सकता। 

सपा के कामों पर लग रहे हैं शिलापट, क्षेत्र के युवाओं को दे रहे हैं रोजगार 
सपा के प्रवक्ता मनोज़ पांडे ऊंचाहार से दूसरी बार विधायक बने हैं, 2022 के चुनाव के रिपोर्ट कार्ड के बाबत उनका कहना है कि 2012 से 17 का कार्यकाल ऊंचाहार का स्वर्णिम काल रहा है। अब इस सरकार में ऊंचाहार के साथ भेदभाव हो रहा है। खरौली में गंगा पुल हो या 300 करोड़ की लागत से बकुलाही ड्रेन का निर्माण सब सपा सरकार की देन है अब इन कामों पर अपना शिलापट लगाया जा रहा है।इसके अलावा विकास के कई ऐसे प्रस्ताव हैं जिन्हें सरकार सौतेला व्यवहार कर रही है।

उन्होंने कहा कि बावजूद इसके वह लगातार वह जनता के बीच है उनके सुख दुःख में सहभागी हैं। उन्होंने कहा कि जनता के कई मुद्दों को उन्होंने विधानसभा में प्रमुखता से उठाया है और समस्याओं को लेकर वह लागातर अधिकारियों के सम्पर्क में रहते हैं। 

डॉ. पांडे का कहना है कि ऊंचाहार क्षेत्र के युवा रोज़गार हासिल कर सके उसके लिए वह सतत प्रयत्नशील हैं। वह व्यक्तिगत तौर पर कई निजी कंपनियों से बात कर रहे हैं जहां उन्हें नौकरी मिल सके। इस काम में उन्हें काफ़ी हद तक सफलता मिली है और कई युवा रोज़गार से जुड़ सके हैं।

डॉ पांडे के अनुसार जनता के लिए किए गए काम और उनके साथ हर समय सहभागी बने रहना उनकी बड़ी पूंजी है। वह हमेशा हर स्तर पर जनता की सेवा के लिए प्रयत्नशील हैं।

यह खबर भी पढ़े: WhatsApp Groups: आपकी इजाजत के बिना कोई भी नहीं कर सकता वॉट्सएप के ग्रुप में एड, जानिए ये आसान प्राइवेसी फीचर

यह खबर भी पढ़े: एक ऐसी अनोखी झील जिसके पानी को छूने मात्र से ही बन जाता है पत्थर

 

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From uttar-pradesh

Trending Now
Recommended