संजीवनी टुडे

प्रधानमंत्री मोदी ने की 'हर घर नल' योजना की शुरुआत, 2.60 करोड़ लोगों को मिलेगा शुद्ध पेयजल

संजीवनी टुडे 22-11-2020 17:59:40

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने रविवार को जनपद मीरजापुर और सोनभद्र की 23 ग्रामीण पाइप पेयजल परियोजनाओं के वर्चुअल शिलान्यास के मौके पर योगी सरकार की पीठ थपथपायी।


लखनऊ। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने रविवार को जनपद मीरजापुर और सोनभद्र की 23 ग्रामीण पाइप पेयजल परियोजनाओं के वर्चुअल शिलान्यास के मौके पर योगी सरकार की पीठ थपथपायी। उन्होंने कोरोना संक्रमण काल में श्रमिकों और आम जनता का ध्यान रखने से लेकर विकास योजनाओं और इंसेफेलाइटिस के खिलाफ प्रभावी लड़ाई को लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की बहुत सराहना की। 

मुख्यमंत्री और उनकी टीम को दी बधाई
प्रधानमंत्री ने अपने सम्बोधन में कहा कि आज शिलान्यास हुई परियोजनाएं कोरोना संक्रमण के बावजूद विकास यात्रा को तेजी से आगे बढ़ते उत्तर प्रदेश का भी एक उदाहरण है। पहले जो लोग उत्तर प्रदेश के विषय में धारणाएं और अनुमान लगाते थे, आज उसके विपरीत जिस प्रकार से उत्तर प्रदेश में एक के बाद एक योजनाएं लागू हो रही हैं, उससे उत्तर प्रदेश, यहां की सरकार और कर्मचारियों की छवि पूरी तरह से बदल रही है। इस दौरान जिस प्रकार से उत्तर प्रदेश में कोरोना से मुकाबला किया जा रहा है। बाहर से गांव लौटे श्रमिक साथियों का ध्यान रखा गया, रोजगार का प्रबंध किया गया, यह बिल्कुल सामान्य काम नहीं है। 

उन्होंने कहा कि इतने बड़े प्रदेश में इतनी बारीकी से एक साथ इतने मोर्चों पर काम करके उत्तर प्रदेश ने कमाल करके दिखाया है। प्रधानमंत्री ने उत्तर प्रदेश की जनता,प्रदेश सरकार और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और उनकी पूरी टीम को इसके लिए बधाई दी। 

उप्र में इंसेफेलाइटिस के मामलों में कमी की, दूर-दूर हो रही चर्चा
प्रधानमंत्री ने कहा कि उत्तर प्रदेश में योगी सरकार के प्रयासों से जिस प्रकार इंसेफेलाइटिस के मामलों में कमी आई है उसकी चर्चा दूर-दूर तक है। विशेषज्ञ लोग भी इसकी चर्चा कर रहे हैं। मासूम बच्चों का जीवन बचाने के लिए मुख्यमंत्री योगी और उनकी पूरी टीम को हर उत्तर प्रदेशवासी इतना आशीर्वाद देता होगा, जिसकी हम कल्पना नहीं करते होंगे। 

2.60 करोड़ से अधिक परिवारों को नल से पहुंचाया शुद्ध पेयजल 
उन्होंने कहा कि हर घर जल पहुंचाने के अभियान को अब एक साल से अधिक समय हो गया है। इस दौरान देश में 2.60 करोड़ से अधिक परिवारों को उनके घरों में नल से शुद्ध पेयजल पहुंचाने का इंतजाम हो चुका है। इसमें लाखों परिवार उत्तर प्रदेश के भी हैं। उन्होंने कहा कि हम अपने गांव में रहने वाले के लिए शहरों जैसी सुविधाएं उपलब्ध कराने की निरंतर कोशिश कर रहे हैं। आज जो परियोजनाएं शुरू हो रही हैं, उससे भी इस अभियान को और गति मिलेगी। इसके अलावा अटल भूजल योजना के तहत पानी के स्तर को बढ़ाने के लिए जो काम हो रहा है, वह भी क्षेत्र को बहुत मदद करने वाला है। 

स्वराज की शक्ति को गांव के विकास का बनाया माध्यम 
उन्होंने कहा जब विंध्याचल के हजारों गांव में पाइप से पानी पहुंचेगा तो उससे भी इस क्षेत्र के मासूम बच्चों का स्वास्थ्य सुधरेगा। उनका शारीरिक और मानसिक विकास और बेहतर होगा। उन्होंने कहा कि इतना ही नहीं जब शुद्ध पानी मिलता है, तो कुपोषण के खिलाफ हमारी लड़ाई और पोषण के लिए हम जो मेहनत कर रहे हैं, उसके भी अच्छे परिणाम मिलेंगे। उन्होंने कहा कि जल जीवन मिशन सरकार के उस संकल्प का भी हिस्सा है, जिसमें स्वराज की शक्ति को गांव के विकास का माध्यम बनाया जा रहा है। 

यह खबर भी पढ़े: राकांपा नेता नवाब मलिक का आरोप, अपने मकसद से भटक गई NCB, कोई बड़ा ड्रग्स डीलर व तस्कर गिरफ्तार नहीं

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From uttar-pradesh

Trending Now
Recommended