संजीवनी टुडे

पूरे प्रदेश में एक-एक अपराधी को लक्ष्य करके प्रभावी ढंग से चलाएं ऑपरेशन माफिया: योगी आदित्यनाथ

संजीवनी टुडे 28-09-2020 06:34:25

पूरे प्रदेश में एक-एक अपराधी को लक्ष्य करके प्रभावी ढंग से चलाएं ऑपरेशन माफिया


लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि ऑपरेशन माफिया की कार्रवाई पूरे प्रदेश में एक-एक माफिया को लक्ष्य करके प्रभावी ढंग संचालित की जाए। दबंगई से सम्पत्तियों पर कब्जा करने वाले माफियाओं के विरुद्ध कार्ययोजना बनाकर कार्रवाई की जानी चाहिए। माफियाओं की अवैध सम्पत्ति की जब्त की  जाए। माफिया तत्वों के विरुद्ध प्रत्येक जोन, रेंज व जनपद में ऑपरेशन चलाया जाए। उन्होंने कहा कि जनपद स्तर की समीक्षा रेंज स्तर पर तथा रेंज स्तर की समीक्षा जोन स्तर पर की जाए। मुख्यमंत्री रविवार को यहां अपने सरकारी आवास पर वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग के माध्यम से कानून-व्यवस्था के सम्बन्ध में एक बैठक को सम्बोधित कर रहे थे। बैठक में वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग के माध्यम से सभी मण्डलायुक्त, अपर पुलिस महानिदेशक (क्षेत्र), पुलिस महानिरीक्षक—पुलिस उप महानिरीक्षक (परिक्षेत्र), जिलाधिकारी, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक—पुलिस अधीक्षक आदि वरिष्ठ प्रशासनिक व पुलिस अधिकारी जुड़े हुए थे। 

मुख्यमंत्री ने महिलाओं के विरुद्ध होने वाले अपराधों को नियंत्रित करने के लिए संचालित ऑपरेशन शक्ति तथा माफिया तत्वों के विरुद्ध संचालित ऑपरेशन माफिया की प्रशंसा करते हुए कहा कि इन गतिविधियों को पूरे प्रदेश में निरन्तर और प्रभावी ढंग से संचालित रखा जाए। उन्होंने कहा कि बहन-बेटियों की सुरक्षा के प्रति खतरा बने लोगों के प्रति कार्रवाई में पूरी तत्परता बरती जानी चाहिए। इस सम्बन्ध में हर स्तर के अधिकारी को संवेदनशीलता रहें। उन्होंने कहा कि एण्टी रोमियो स्क्वाॅयड को निरन्तर व प्रभावी ढंग से क्रियाशील रखा जाए। मुख्यमंत्री ने कहा कि आगामी 17 अक्टूबर से नवरात्र के साथ त्योहारों की श्रृंखला प्रारम्भ हो जाएगी। इस दौरान सुरक्षा और कोरोना के संक्रमण से बचाव के सम्बन्ध में पूरी सावधानी बरती जाए। इस सम्बन्ध में अभी से पूरी तैयारी कर ली जाए। थाने स्तर से लेकर बीट स्तर तक अच्छे अधिकारियों को जिम्मेदारी दी जाए और जवाबदेही भी सुनिश्चित की जाए। 

उन्होंने कहा कि पर्व और त्योहारों के मद्देनजर प्रदेश के सीमावर्ती क्षेत्रों में विशेष सतर्कता बरती जाए। माहौल को खराब करने वाले तत्वों को चिह्नित कर उनके विरुद्ध पहले से ही कार्यवाही सुनिश्चित की जाए। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश अपराधियों के लिए शरणस्थली नहीं हो सकती। इसके दृष्टिगत अपराधियों के विरुद्ध कार्रवाई में कोई रियायत न बरती जाए और हर मामले में प्रभावी कार्यवाही की जाए। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि पेट्रोलिंग की कार्रवाई को प्रभावी ढंग से सम्पादित किया जाए। इससे आपराधिक घटनाओं पर नियंत्रण लगता है। जोन स्तर से लेकर थाने स्तर तक के पुलिस अधिकारियों द्वारा अलग-अलग क्षेत्रों में फुट पेट्रोलिंग की जाए। इस दौरान लोगों से संवाद भी बनाया जाए। पुलिस अधिकारियों द्वारा निरन्तर फुट पेट्रोलिंग से जनता में विश्वास और अपराधियों में भय पैदा होता है। इसके दृष्टिगत फुट पेट्रोलिंग व्यवस्था को प्रभावी ढंग से संचालित किया जाना सुनिश्चित किया जाए। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि पीआरवी 112 की पेट्रोलिंग भी निरन्तर और प्रभावी होनी चाहिए। पीआरवी 112 वाहनों की सुबह, दोपहर, शाम एवं रात्रि में पेट्रोलिंग के स्थान पहले से निश्चित होने चाहिए। सम्बन्धित पुलिस अधीक्षकों द्वारा पीआरवी वाहनों के पेट्रोलिंग की प्रभावी कार्यवाही सुनिश्चित की जाए। यह सुनिश्चित किया जाए कि रात्रि में हाईवे, स्टेट हाईवे, प्रमुख मार्गों तथा शहर के अन्दर पीआरवी 112 वाहनों द्वारा निरन्तर और सघन पेट्रोलिंग की जाए। उन्होंने कहा कि यमुना एक्सप्रेस-वे व आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे पर पेट्रोलिंग व एम्बुलेंस की व्यवस्था टोल टैक्स की वसूली करने वाली संस्था द्वारा करायी जाए। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि सम्पूर्ण समाधान दिवस व थाना दिवस को प्रभावी ढंग से लागू किया जाए। आने वाली जनशिकायतों का गुणवत्तापरक ढंग से निस्तारण किया जाए। प्रवर्तन की कार्रवाई के नाम पर आम जनता को परेशानी नहीं होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि सोशल मीडिया पर पूरी निगाह रखी जाए। पुलिस अधिकारियों द्वारा संक्षेप में सही तथ्य मीडिया के सामने रखे जाने चाहिए। उन्होंने कहा कि पुलिस के अच्छे कार्यों को भी प्रस्तुत किया जाना चाहिए। 

बैठक के दौरान पुलिस महानिदेशक हितेश सी. अवस्थी ने पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों को निरन्तर पुलिस थानों का भ्रमण कर निरीक्षण करते रहने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि थाना दिवस की प्रक्रिया को फिर से प्रारम्भ करने के आदेश निर्गत कर दिए गए हैं। थाना दिवस के दौरान कोविड के प्रोटोकाॅल का पूरी तरह से पालन सुनिश्चित किया जाए। थाना दिवस पर जोन, रेंज व जनपद के पुलिस अधिकारी थानों का भ्रमण करें। 

बैठक के दौरान अपर पुलिस महानिदेशक वाराणसी जोन ने माफिया तत्वों के विरुद्ध कार्रवाई के लिए संचालित ऑपरेशन माफिया के सम्बन्ध में प्रस्तुतीकरण दिया। पुलिस महानिरीक्षक लखनऊ परिक्षेत्र लक्ष्मी सिंह ने महिलाओं के विरुद्ध अपराध नियंत्रण के लिए चलाए गए ऑपरेशन शक्ति के सम्बन्ध में प्रस्तुतीकरण दिया। ऑपरेशन शक्ति के अन्तर्गत महिला अपराधों में संलग्न युवाओं को चिह्नित कर उनकी काउन्सिलिंग एवं परिवार के लोगों से बाॅण्ड भरवाने की व्यवस्था है। 

यह खबर भी पढ़े: डूंगरपुर में रैपिड एक्शन फोर्स सहित अतिरिक्त पुलिस बल तैनात, उपद्रव में दो की मौत

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From uttar-pradesh

Trending Now
Recommended