संजीवनी टुडे

बीजेपी को समर्थन के बयान पर प्रियंका ने कसा मायावती पर तंज, पूछा- क्या अब और कुछ कहना बाकी रह गया?

संजीवनी टुडे 29-10-2020 22:10:00

मायावती ने कहा कि सपा से गठबंधन की भलाई के लिए 1995 के गेस्ट हाउस कांड का केस वापस लेना उनकी भूल थी।


लखनऊ। बसपा (BSP) के कुछ विधायकों के पाला बदलकर सपा का दामन थामने के बाद पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने गठबंधन के पूर्व सहयोगी अखिलेश यादव को लेकर बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा कि सपा को हराने के लिए अगर भाजपा को वोट करना पड़े तो वह भी किया जाएगा। 

मायावती ने कहा कि सपा से गठबंधन की भलाई के लिए 1995 के गेस्ट हाउस कांड का केस वापस लेना उनकी भूल थी। उनके इस बयान को यूपी में नौ नवंबर के राज्यसभा चुनाव में पार्टी को लगे झटके से जोड़कर देखा जा रहा है। बीएसपी महासचिव सतीश मिश्रा ने भी कहा कि खरीद-फरोख्त सपा की पुरानी प्रथा है। इसमें कोई नई चीज नहीं है। इस चीज के जरिये उन्होंने जो संदेश दिया है कि उससे पूरा देश और पूरे प्रदेश उनके खिलाफ थू-थू करने के काम करेगा। 

मायावती ने कहा कि यूपी के विधान परिषद चुनाव में समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी को हराने के लिए जरूरी हुआ तो भाजपा के पक्ष में भी वोट करेंगी।

उनके इस बयान के बाद प्रियंका गांधी ने भी मायावती पर तंज कसा है। उन्होंने कहा कि इसके बाद भी क्या कुछ बचा है। इस ट्वीट के साथ ही प्रियंका गांधी ने एक वीडियो शेयर किया है, जिसमे मायावती कह रही है कि वे सपा को हारने के लिए अन्य पार्टियों को भी वोट दे सकती है। 

गौरतलब है कि बसपा के सात विधायकों ने बगावत कर अखिलेश यादव से मुलाकात की थी।  राज्यसभा चुनाव में बसपा उम्मीदवार के प्रस्तावक बने दस विधायकों में भी पांच ने अपना प्रस्ताव वापस ले लिया था।

सपा से गठबंधन को बताया भारी भूल
मायावती ने कहा, हमें सपा से हाथ नहीं मिलाना चाहिए था। हमें इस बारे गहराई से सोचना चाहिए था, लेकिन हमने जल्दबाजी में निर्णय लिया। बसपा सुप्रीमो ने यह भी कहा कि हमने लोकसभा चुनाव में गठबंधन के लिए कड़ी मेहनत की, लेकिन अखिलेश पहले ही दिन से सतीश मिश्र से कहते रहे कि दोनों दलों ने हाथ मिला लिया है, लिहाजा केस वापस लिया जाना चाहिए। उन्होंने आरोप लगाया कि सपा में पारिवारिक फूट के कारण गठबंधन का उन्हें ज्यादा लाभ नहीं मिला। चुनाव बाद उनकी बेरुखी के कारण हमने नाता तोड़ लिया। 

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From uttar-pradesh

Trending Now
Recommended