संजीवनी टुडे

नोएडा का ईपीएफओ कर्मचारी 8 लाख की रिश्वत में रंगे हाथ गिरफ्तार, भेजे गए जेल

संजीवनी टुडे 14-08-2020 21:41:59

सीबीआई की एंटी करप्शन यूनिट द्वारा गुरुवार को गिरफ्तार किये गए नोएडा के ईपीएफओ कार्यालय में काम करने वाले दो कर्मचारियों को शुक्रवार को अदालत में पेश किया गया


गाजियाबाद। सीबीआई की एंटी करप्शन यूनिट द्वारा गुरुवार को गिरफ्तार किये गए नोएडा के ईपीएफओ कार्यालय में काम करने वाले दो कर्मचारियों को शुक्रवार को अदालत में पेश किया गया, जहाँ से दोनों को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया।

इन दोनों कर्मचारियों को रंगे हाथों 8 लाख रुपए की रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार किया गया था । गुरुवार को नोएडा के सेक्टर 24 स्थित ईपीएफओ कार्यालय से ब्रजेश नारायण झा और नरेन्द्र कुमार को ट्रैप लगाकर गिरफ्तार किया गया। गिरफ्तार कर्मचारियों से करीब 10 घंटे तक पूछताछ की गई। उसके बाद शुक्रवार को दोनों कर्मचारियों को  गाजियाबाद की सीबीआई की विशेष अदालत में पेश किया गया। जहां से इन्हें 28 अगस्त तक न्यायायिक हिरासत में भेज दिया गया।  
     
सीबीआई सूत्रों के मुताबिक बृजेश नारायण झा और नरेन्द्र कुमार ने नोएडा की एक सिक्योरिटी कंपनी पर पीएफ का लाखों का बकाया था, लिहाज पीएफ केस के सेटेलमेंट करने के लिए 9 लाख रुपये की रिश्वत की मांग की गई।  जिसके बाद आठ लाख में सिक्योरिटी कंपनी के मालिक के साथ सेटलमेंट की डील तय हुई थी। बृजेश नारायण झा और नरेन्द्र कुमार ये रकम गुरुवार की रात दी जानी थी, जिसको लेकर सीबीआई को पहले ही जानकारी दे दी गयी थी। 

मौके पर पहुँची टीम ने आरोपियों को रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया। सीबीआई की एंटी करप्शन यूनिट ने जाल बिछाया था। जिसके बाद आठ लाख कैश के साथ दोनों कर्मचारियों को गिरफ्तार किया गया। 

यह खबर भी पढ़े: सुशांत सिंह केस: परिणीति- कंगना रनौत सहित इन बॉलीवुड हस्तियों ने की सीबीआई जांच की मांग

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From uttar-pradesh

Trending Now
Recommended