संजीवनी टुडे

'कालपी' को विश्व के पर्यटन मानचित्र में करवाना है दर्ज: नरेन्द्र पाल सिंह

संजीवनी टुडे 18-09-2020 15:21:51

उप्र में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व वाली सरकार का 19 सितम्बर को साढ़े तीन साल पूरा होगा। इन वर्षो के बीच जनप्रतिनि​धियों ने अपने-अपने क्षेत्र में विकास के कार्य क्या-क्या किये।


जालौन। उप्र में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व वाली सरकार का 19 सितम्बर को साढ़े तीन साल पूरा होगा। इन वर्षो के बीच जनप्रतिनि​धियों ने अपने-अपने क्षेत्र में विकास के कार्य क्या-क्या किये। इन सवालों को लेकर कालपी विधानसभा क्षेत्र के विधायक नरेन्द्र पाल सिंह जादौन से हिन्दुस्थान समाचार प्रतिनिधि अनिल शर्मा ने बातचीत की। 

भाजपा से कालपी विधानसभा क्षेत्र से पहली बार विधायक बने नरेन्द्र पाल सिंह जादौन बताते हैं कि कालपी में फोरलेन का काम मन्दिर मस्जिद के विवाद के चलते पिछले 15 वर्षों से लटका पड़ा था, जिसके चलते आयेदिन घण्टों जाम लगता था। देश भर के ट्रक चालक, कार वाले तथा बस यात्री बहुत परेशान होते थे। हमने कालपी के हिन्दु-मुस्लिम भाईयों के साथ डीएम डा. मन्नान अख्तर और एसपी की मौजूदगी में कई बार बैठकें की और लोगों को समझाने में सफल रहे, जिसके कारण अब यहां फोर लेन का काम तेजी से चल रहा है। यहां पर पुल भी बनाया जा रहा है। यह फोरलेन इस वर्ष के अंत तक पूरा हो जाने की आशा है। इससे न केवल कालपी विधानसभा क्षेत्र बल्कि पूरे देश के यात्रियों को ट्रक चालकों व अन्य वाहनों को सुविधा होगी।

श्री जादौन ने बताया कि प्रदेश सरकार ने 'एक जिला एक उत्पाद' के तहत कालपी के हाथ कागज उद्योग को शामिल कर लिया है। कालपी के हाथ कागज की देश और दुनिया में काफी मांग है। एक जमाने में कालपी में 500 के आसपास हाथ कागज उद्योग की फैक्ट्रियां थी, जो अब घटकर काफी कम हो गयी है। क्योंकि सपा, बसपा की सरकारों ने इस उद्योग को उठाने के लिये कुछ खास नहीं किया। 

विधायक नरेन्द्र पाल सिंह जादौन ने कहा कि इस उद्योग के उत्थान के लिये अभी 6 करोड़ रूपये स्वीकृत हुये हैं इस उद्योग को बढ़ाने में जी जान से लगे हुये हैं। कालपी नगर में राजकीय महिला महाविद्यालय स्वीकृत कराया है जिसका निर्माण कार्य तेजी से चल रहा है। कालपी में मां बनखण्डी देवी के पास 50 बैड का एक रैन बसेरा का निर्माण कराया। 

इसी तरह सूर्य मन्दिर, व्यास मन्दिर, पाराशर मन्दिर, रोपड़ गुरू मन्दिर तथा खानकाह शरीफ के सुन्दरीकरण के कार्य करवाने में वे लगे हुये हैं। देश में कोणार्क की तरह ही कालपी में भी सूर्य मन्दिर के पास सूर्यग्रहण बहुत ही अच्छा दिखाई देता है। देश और विदेश के लोग सूर्य ग्रहण के दौरान इसे देखने आते हैं। सूर्य मन्दिर चूंकि क्षतिग्रसत हो गया है, इसलिये उसके निर्माण हेतु 50 लाख रूपये शासन से स्वीकृत कराये हैं। 

बताया कि पिछले 15 वर्षो से पाल सरैनी का पुल रूका पड़ा था, उसका कार्य प्रांरभ कराया है जिसके चलते दर्जनों गांव के ग्रामीणों को सुविधा हो जायेगी। इसी तरह कालपी-मंगरौल में जोधरनाला में पुल का निर्माण कार्य तेजी से चल रहा है, जिससे यमुना पट्टी के दर्जनों गांवों के लोगों को सुविधा मिलेगी। 

श्री जादौन ने बताया कि स्वतंत्रता के बाद आज तक ग्राम कन्हरपुरा तथा शेखपुर खुर्द के लिये कोई मार्ग नहीं था, वो बन रहा है।  इसी तरह ग्राम इकौना और ग्राम निधान डेरा के बीच पुल का कार्य स्वीकृत हो गया है जिससे आधा दर्जन से अधिक गांव वालों को सुविधा होगी। जोल्हूपुर से मदारीपुर के प्रमुख मार्ग का चौड़ीकरण, सिकरी से ग्राम मुसमरिया तक रोड का निर्माण, कदौरा के कान्हा गौशाला तथा पांच बड़ी गौशालायें और गांव में अस्थाई गौसंरक्षण केन्द्र बनवाये। कदौरा ब्लाक के भदरेखी नाला में रपटा के स्थान पर पुल। इसके अलावा बुन्देलखण्ड विकास निधि से 62534.78 लाख रुपए से 24 नये मार्ग बने। 

ग्राम छोंक में अभाव ग्रस्त बालिकाओं के लिये कस्तूरबा आवासीय बालिका इ0का0 की स्वीकृति और निर्माण कार्य शुरू। गड्ढामुक्त योजना के अन्तर्गत मार्गों को 303.34 लाख रूपये से कार्य कराया गया। ब्लाक महेबा के न्यामतपुर, अभैदेपुर, हरचन्द्रपुर, बरखेरा, गुलौली में कदौरा ब्लाक के ग्राम उसरगांव, भेड़ी, संदी, ब्लाक कुठौन्द के पण्डितपुर, नैनापुर, ब्लाक जालौन में भदवां में पेयजल हेतु पाइपलाइन व टयूबवेल लगाने की स्वीकृति। सौभाग्य योजना के तहत कालपी क्षेत्र के प्रत्येक गांव में विद्युतीकरण का कार्य किया गया। कुल 83 परियोजनायें 5 करोड़ की लागत से चल रही है। 17 करोड़ की लागत से 0.81 किमी कालपी मंगरौल रोड तिगरेश्वर तक बनवाया गया। 1.36 किमी0 सिहारी चेलापुर मार्ग बनवाया गया।

डेढ़ वर्ष के आगामी विकास कार्य 
​विधायक ने बताया कि महर्षि वेद व्यास की कार्यस्थली कालपी है जिसमें उन्होंने वेद, पुराण, उपनिषदों को लिखा है। यहीं पर महाभारत और गीता, जो घर-घर में पूजित है लिखी गयी है। कालपी में ही प्रसिद्ध सूर्य मन्दिर है यहां सबसे अच्छा सूर्यग्रहण देखा जाता है। कालपी में देश की अनोखी लंका है यहां पर वीरबल की रंगशाला है, वेदव्यास के पिता ऋषि पाराशर की पुण्य भूमि परासन है तथा शिवाजी महाराज के गुरु समर्थ रामदास के गुरु गुरूरोपण भी गुरू के इटौरा में उनकी समाधि है। 

इसके अलावा वर्ष 1857 के स्वतंत्रता संग्राम में महारानी लक्ष्मीबाई ने अंग्रेजों के खिलाफ लड़ाई की यहां योजना बनाई और जहां पर मराठों की टकसाल जहां मुद्रायें ढाली जाती थीं वह प्रसिद्ध किला भी है जो अब जर्जर हालत है। इनको लेकर आगामी डेढ़ वर्ष में कालपी को देश और दुनिया के पर्यटन मानचित्र पर स्थापित करना चाहते हैं। मराठों के किलों के पुर्ननिर्माण का कार्य भी होना है। 

चित्रकूट, राजापुर से कालपी तक धार्मिक परिपथ का निर्माण करवाना लक्ष्य
गीता के रचयिता महर्षि वेद व्यास और रामचरित मानस के रचयिता गोस्वामी तुलसीदास के जन्मस्थान चित्रकूट और राजापुर से लेकर कालपी तक एक धार्मिक परिपथ का निर्माण करवाना चाहता हूँ ताकि देश विदेश के धर्मानुरागी और पर्यटक यहां आ सकें, क्योंकि भगवान राम ने चित्रकूट में बनवास के तमाम वर्ष बिताये हैं।

अन्य सरकारों ने नहीं की कालपी को विश्व पर्यटन के पटल पर लाने की कोशिश
सपा, बसपा और कांग्रेस की सरकारों न कालपी जैसे विश्व प्रसिद्ध क्षेत्र को विश्व पर्यटन मानचित्र में लाने की कोशिश नहीं की, उन्होंने उतने विकास कार्य भी नहीं कराये जितने भाजपा सरकार ने कराये हैं।

विकास कार्यों को लेकर जाएंगे जनता के बीच
एक सवाल पर कहा कि वे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ-साथ अपने विधानसभा क्षेत्र में कराये गये विकास कार्यों को लेकर आगामी विधानसभा चुनाव में जनता के पास जायेंगे। उन्होंने कहा कि जिस तरह अयोध्या में 500 वर्षों के संघर्षों के बाद भव्य राम मन्दिर का निर्माण हो रहा है तथा जम्मू एवं कश्मीर से जिस तरह से धारा 370 व 35ए हटायी गयी है। तीन तालक पर पर कानून बनाकर केन्द्र सरकार ने ऐतिहासिक काम किया है जिससे मुस्लिम बच्चियों को न्याय मिलने लगा है।

कहा कि पिछले 70 साल की सरकारों ने कोई सरकार ऐसा काम नहीं कर पायी जो मोदी जी ने किया है। मोदी और योगी के काम और विधानसभा क्षेत्र में कराये गये विकास कार्यों को लेकर आगामी विधानसभा के चुनाव में जनता के बीच में जायेंगे।

जनता की राय
समाजवादी नरेन्द्र तिवारी, नवीन गुप्ता ने कहा कि कालपी में हाथ कागज उद्योग को और सरकार से सहायता मिलनी चाहिये ताकि यह उद्योग जो सपा और बसपा के शासन में बर्बाद हो गया था उसे फिर से बढ़ाने की जरूरत है। 

प्रकाश नारायण द्विवेदी और शरद खन्ना ने कहा कि कोरोना महामारी के दौरान बेरोजगारी की समस्या बढ़ी है इसे केन्द्र और राज्य सरकार को संवदेनशीलता के साथ बेरोजगारों को रोजगार देने का काम करना चाहिये।

वित्तविहीन शिक्षक महासभा के प्रदेश अध्यक्ष अशोक राठौर ने कहा कि कालपी विधानसभा क्षेत्र में भी वित्तविहीन शिक्षक और स्टाफ और उनके परिवार की संख्या लगभग 4 हजार है। विधायक को सरकार पर दबाव बनाकर वित्तविहीन शिक्षकों और स्टाफ के लिये आपदा कोष की मांग करना चाहिये। 

सुलेखा चौहान ने कहा कि मासूम बच्चियों महिलाओं के साथ जो बलात्कार की घटनाये बढ़ी हैं, योगी सरकार और विधायकों को इस पर कड़ाई से रोक लगाने की मांग करनी चाहिये।

यह खबर भी पढ़े: WhatsApp Groups: आपकी इजाजत के बिना कोई भी नहीं कर सकता वॉट्सएप के ग्रुप में एड, जानिए ये आसान प्राइवेसी फीचर

यह खबर भी पढ़े: एक ऐसी अनोखी झील जिसके पानी को छूने मात्र से ही बन जाता है पत्थर

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From uttar-pradesh

Trending Now
Recommended