संजीवनी टुडे

कानपुर कांड के मुख्य आरोपी की फर्जी लोकेशन वायरल करना पड़ा भारी, मुकदमा दर्ज

संजीवनी टुडे 06-07-2020 08:08:08

कानपुर कांड के मुख्य आरोपी की फर्जी लोकेशन वायरल करना पड़ा भारी, मुकदमा दर्ज


औरैया। कानपुर गोली कांड के मुख्य आरोपी की औरैया एनकाउंटर में मौत की खबर सोशल मीडिया पर वायरल होने के चलते जनपद औरैया की साइबर सेल टीम ने अज्ञात लोगों पर मुकदमा दर्ज कराया है। जिसमें साइबर सेल टीम के प्रभारी ने दर्ज कराई रिपोर्ट में बताया की लगातार औरैया जनपद को अपराध का मुख्य अड्डा बनाए जाने के उद्देश्य यह खबर चलाई जा रही थी। जिसकी की सत्यता पुलिस अधीक्षक द्वारा स्वयं परखी गई। मगर इस प्रकार की किसी भी घटना जनपद की सीमा के अंतर्गत नहीं हुई। इसी से परेशान होकर साइबर सेल टीम के प्रभारी द्वारा अज्ञात पर मुकदमा दर्ज कराया है। बताया गया कि यह जानकारी विभिन्न ग्रुपों एवं फेसबुक अकाउंट के माध्यम से की गई है। 

जिसमें लगातार यह दर्शाया जा रहा है कि कानपुर गोली कांड के मुख्य आरोपी विकास दुबे का मोबाइल लोकेशन औरैया में दिखाई दे रहा है। इसके अलावा यह भी दिखाया जा रहा है कि विकास दुबे की आखरी लोकेशन औरैया में दिखाई दी है। इसके उपरांत यह भी भ्रामक प्रचार हो रहा है कि औरैया जनपद की सीमा के अंतर्गत विकास दुबे का एनकाउंटर कर दिया गया है। इस संबंध में पुलिस अधीक्षक सुश्री सुनीति ने जानकारी देते हुए बताया कि उन्हें विगत दिनों से जानकारी मिल रही थी कि जनपद की सीमा के अंतर्गत कानपुर गोली कांड का मुख्य आरोपी ठहरा हुआ है। जिसकी उनके द्वारा जांच पड़ताल की गई मगर यह पूरी जानकारी गलत साबित हुई। उन्होंने बताया कि इसके लिए उन्होंने सोशल मीडिया का सहारा लेते हुए भ्रामक प्रचार करने वालों को चेतावनी भी दी थी और यह भी कहा था कि यदि इस प्रकार की बिना तथ्यों की जानकारी यदि पोस्ट की गई तो उनके विरुद्ध कानूनी कार्रवाई की जाएगी। मगर कुछ लोगों द्वारा यह बात न मानते हुए फिर भी यह भ्रामक प्रचार किया जा रहा है। 

जिसके तहत साइबर सेल के टीम प्रभारी द्वारा अज्ञात के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कराया गया है। उन्होंने बताया की जिन लोगों द्वारा यह भ्रामक प्रचार किया जा रहा है उनकी शिनाख्त कराए जाने के प्रयास जारी है और शीघ्र वह लोग पुलिस की पकड़ में होंगे। बताते चलें कि बीती 2 जुलाई की रात में जनपद कानपुर के थाना चौबेपुर में 8 पुलिसकर्मियों की हत्या कर दी गई थी। जिसके उपरांत पूरा प्रदेश हिल गया था। इसमें मुख्यमंत्री द्वारा आरोपी को शीघ्र ही गिरफ्तार किए जाने के निर्देश दिए गए थे। एक ओर प्रदेश सरकार द्वारा मुख्य आरोपी की गिरफ्तारी के लिए इतने कड़े नियम बनाए गए वहीं दूसरी ओर आरोपी के पक्ष में भी कई लोग उतर आए और उन्होंने अपने अपने माध्यमों से सोशल मीडिया पर अपना प्रचार करना शुरू कर दिया। पुलिस द्वारा इन सब चीजों की खोजबीन करते हुए प्रचार करने वालों पर कार्रवाई तय की गई। जिसके तहत रविवार को पुलिस अधीक्षक सुश्री सुनीति के निर्देशन में साइबर सेल टीम के प्रभारी द्वारा सोशल मीडिया पर वायरल हुई पोस्ट के आरोपियों पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। फिलहाल यह मुकदमा अज्ञात लोगों के खिलाफ दर्ज है। मगर सोशल मीडिया पर डाली गई सभी पोस्टों का बारीकी से निरीक्षण किया जा रहा है। इसमें जो भी लोग दोषी पाए जाएंगे उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

यह खबर भी पढ़े: कोरोना संक्रमण के मामले में रूस को पीछे छोड़ तीसरे स्थान पर पहुंचा भारत, अब तक 6.87 लाख से ज्यादा केस मिले

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From uttar-pradesh

Trending Now
Recommended