संजीवनी टुडे

37 साल बाद भी शहीद पत्रकार सुरेश चंद की शहादत को नहीं भूले लोग

संजीवनी टुडे 14-07-2020 11:45:00

पुलिस व दबंगों के खिलाफ बेखौफ होकर लिखने वाले सुरेश चंद्र गुप्त ने तमाम धमकियों के सामने भी अपनी लेखनी बंद नहीं की, जिससे एक दरोगा के इशारे पर पत्रकार सुरेश चंद्र गुप्ता की हत्या कर दी गई थी।


बांदा। पुलिस व दबंगों के खिलाफ बेखौफ होकर लिखने वाले सुरेश चंद्र गुप्त ने तमाम धमकियों के सामने भी अपनी लेखनी बंद नहीं की, जिससे एक दरोगा के इशारे पर पत्रकार सुरेश चंद्र गुप्ता की हत्या कर दी गई थी। जिन्हें पत्रकार आज भी अपनी प्रेरणा मानते हैं और उनकी पुण्यतिथि पर उन्हें याद करते हैं। 

स्व. सुरेशचन्द्र गुप्त पत्रकार मध्ययुग अखबार के संपादक थे। जो निर्भीक एवं निष्पक्ष पत्रकारिता के लिए जाने जाते थे। 1983 में 13 जुलाई को निर्मम हत्या कर दी गई थी। जिससे जनपद में ऐतिहासिक आंदोलन हुआ था। मुख्यमंत्री को बबेरू की धरती में आना पड़ा था। शहीद पत्रकार के नाम से बबेरू में कोई यादगार स्मारक, पार्क नहीं बनाया गया था। शहीद पत्रकार के साथी डा. बुद्धप्रकाश अग्निहोत्री के अगुवाई में प्रेस क्लब की स्थापना की गई और 3 तीन वर्ष पूर्व नगर पंचायत अध्यक्ष के सहयोग से शहीद पत्रकार का स्मारक निर्माण कराया गया। जिसमें मूर्ति का सहयोग प्रभाकर सिंह पटेल ने किया था। मूर्ति स्थापित कर हर वर्ष शहीद दिवस 13 जुलाई को मनाया जा रहा है। 

प्रेस क्लब के संरक्षक डा. बुद्धप्रकाश अग्निहोत्री के नेतृत्व में शहीद दिवस मनाया गया। प्रेस क्लब के अध्यक्ष शिव विलास शर्मा बताते हैं कि पत्रकार सुरेश चंद्र गुप्त की हत्या के बाद जनआंदोलन हुआ था। इस आंदोलन के बाद दरोगा की न सिर्फ गिरफ्तारी हुई थी बल्कि मुकदमे में दरोगा को आजीवन कारावास की सजा भी हुई थी। बबेरू कस्बे के अलावा जनपद मुख्यालय में भी शहीद सुरेश चंद मेमोरियल ट्रस्ट के नाम से प्रेस क्लब का भवन है। नगर पंचायत अध्यक्ष विजयपाल सिंह मुख्य अतिथि एवं ग्राम प्रधानपति केशव प्रजापति विशिष्ट अतिथि के रूप में हवन यज्ञ में आहुतियां दी और शहीद पत्रकार सुरेशचन्द्र गुप्त की प्रतिमा में माल्यार्पण कर श्रद्धाजंलि दी। 

इस मौके पर प्रेस क्लब अध्यक्ष शिवविलाश शर्मा, सुधीर अग्रहरि, कमलेश चैरसिया, जीतू श्रीवास, रामू तिवारी, संदीप प्रजापति, अजय श्रीवास्तव, दीपक गुप्त, सुनील तिवारी, अवधेश कृष्ण शास्त्री, आकाश द्विवेदी, शीतल श्रीवास्तव, राकेश पटेल आदि मौजूद रहे। नगर पंचायत अध्यक्ष विजयपाल सिंह ने शहीद पार्क बनवाने की घोषणा की है।

यह खबर भी पढ़े: Kanpur scandal: बिकरू हत्याकांड में 8 पुलिसकर्मियों की पोस्टमार्टम रिपोर्ट आई सामने, हुए कई बड़े चौंकाने वाले खुलासे

यह खबर भी पढ़े: आलिया भट्ट की बहन को मिली रेप और मौत की धमकी, बोलीं- ऐसे लोगों के खिलाफ लीगल एक्शन लूंगी

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From uttar-pradesh

Trending Now
Recommended