संजीवनी टुडे

थारुओं के उत्थान में विशेष योगदान दे रहा दीनदयाल शोध संस्थान

संजीवनी टुडे 27-11-2020 13:04:34

जिले में पचपेड़वा क्षेत्र के इमिलिया कोड़र गांव में दीनदयाल शोध संस्थान वर्षों से थारू जनजाति के उत्थान की अलख जगा रहा है।


बलरामपुर। जिले में पचपेड़वा क्षेत्र के इमिलिया कोड़र गांव में दीनदयाल शोध संस्थान वर्षों से थारू जनजाति के उत्थान की अलख जगा रहा है। शोध संस्थान ने अब तक तीन हजार से अधिक छात्र-छात्राओं को निशुल्क शिक्षा देकर उन्हें मुख्यधारा से जोड़ने में कामयाबी पाई है। जिनमें से करीब साढे छह सौ छात्र-छात्राएं सरकारी नौकरी में कार्यरत है।

जनपद के नेपाल सीमा से कुछ ही दूर पचपेड़वा विकासखंड के इमलिया कोटा ग्राम में स्थापित दीनदयाल शोध संस्थान सीमा पर बसे गैसड़ी तथा पचपेड़वा विकासखंड के 54 थारु ग्रामों में बसे थारू जनजातियों के उत्थान का अलग जगह रहा है। संस्थान के सतत प्रयास से आजीविका के संसाधन मुहैया कराने से करीब 600 महिलाएं स्वरोजगार से जुड़कर आत्मनिर्भर बन चुकी हैं।

वर्ष 1988 में स्थापित यह शोध संस्थान क्षेत्र के सबसे निचले पायदान पर खड़े थारू जनजाति के लोगों का जीवन स्तर बेहतर करने की दिशा में कार्य कर रहख भागीरथी प्रयास यह संस्थान अब किसी परिचय का मोहताज नहीं है। यही कारण है कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी उनके इस मुहिम का हिस्सा बन रहे हैं। शोध संस्थान की मांग पर प्रदेश सरकार द्वारा थारू संग्रहालय निर्माणाधीन है। जिसमें थारू समुदाय के संस्कृति से जुड़े तमाम धरोहरे संग्रहालय में रखी जाएगी, जिससे नई पीढ़ी को थारुओं से जुड़ी ऐतिहासिक तथ्यों को समझ सके।

संस्थान के मांग पर ही प्रदेश सरकार ने शोध संस्थान में ही अत्याधुनिक थारू छात्रावास, मिनी स्टेडियम बनकर तैयार है इसका शीघ्र ही मुख्यमंत्री के द्वारा उद्घाटन होना है।

शोध संस्थान के प्रभारी रामकृपाल शुक्ल ने बताया कि थारू समुदाय में शोध संस्थान इस तरह से रच बस गया है कि कहीं कोई समस्या भी आती है तो एक बार शोध संस्थान की तरफ देखते है। संस्थान के द्वारा 3000 से अधिक छात्र छात्राओं को निशुल्क शिक्षा देकर उन्हें मुख्यधारा में जोड़ा गया है। एक अभियान के तहत 650 महिलाओं को   विभिन्न रोजगार को लेकर प्रशिक्षण देकर आत्मनिर्भर बनाया गया है जो घर पर ही घरेलू कार्य करते हुए स्वरोजगार से जुड़ी हुई है। गैसड़ी तथा पचपेड़वा विकासखंड के 54 थारू ग्रामों में डोर टू डोर संपर्क कर विशेष अभियान चलाया जाता है।

यह खबर भी पढ़े: TRP Week 46 report: पहले नंबर पर एकता कपूर के सीरियल ने मारी बाजी, जानिए कौन सा शो किस नंबर पर रहा, देखें लिस्ट

यह खबर भी पढ़े: ये है WhatsApp Messages Schedule करने का आसान सा तरीका, जानें टिप्स

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From uttar-pradesh

Trending Now
Recommended