संजीवनी टुडे

उप्र में कोरोना के 67,825 सक्रिय मामले, 24 घंटे में 98 लोगों की मौत

संजीवनी टुडे 18-09-2020 16:52:12

प्रदेश में कोरोना के सक्रिय मरीजों की संख्या अब बढ़कर 67,825 हो गई है। अब तक कुल 2,70,094 लोग इलाज के बाद पूरी तरह ठीक होने के बाद घर भेजे जा चुके हैं।


लखनऊ। प्रदेश में कोरोना के सक्रिय मरीजों की संख्या अब बढ़कर 67,825 हो गई है। अब तक कुल 2,70,094 लोग इलाज के बाद पूरी तरह ठीक होने के बाद घर भेजे जा चुके हैं। वहीं राज्य में संक्रमण के बाद कुल मौतों की संख्या 4,869 पहुंच गई है। बीते चौबीस घंटे में 98 लोगों की मौत हुई है।

गुरुवार को 1.55 लाख कोरोना नमूनों की हुई जांच
अपर मुख्य सचिव, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने  शुकवार को बताया कि राज्य की विभिन्न प्रयोगशालाओं में गुरुवार को कुल 1,55,897 कोरोना नमूनों की जांच की गई। प्रदेश में दूसरी बार एक दिन में 1.55 लाख से अधिक कोरोना नमूनों की जांच हुई है। इससे पहले 06 सितम्बर को 1,55,946 कोरोना नमूनों की जांच का रिकार्ड बनाया गया था। वहीं अब तक कुल 82,85,710 कोरोना नमूनों की जांच की जा चुकी है।

35,124 मरीजों का होम आइसोलेशन में चल रहा इलाज
उन्होंने बताया कि प्रदेश में वर्तमान में कुल सक्रिय मरीजों में से 35,124 लोग होम आइसोलेशन यानि घर पर रहकर इलाज की सुविधा का लाभ ले रहे हैं। यह कुल मरीजों का 51.78 प्रतिशत है। वहीं 3,926 लोगों का निजी अस्पतालों और 202 मरीजों का होटल में एल-1 प्लस की सेमिपेड फैसिलिटी सुविधा के तहत इलाज किया जा रहा है। इनके अलावा शेष राज्य सरकार की एल-1, एल-2 व एल-3 की व्यवस्था के तहत सरकारी अस्पतालों में भर्ती हैं। 

राज्य में अभी तक कुल 1,73,782 लोग होम आइसोलेशन की सुविधा का लाभ ले चुके हैं, जिसमें से 1,38,658 लोगों के इलाज का समय पूरा होने पर उन्हें डिस्जार्च घोषित किया जा चुका है। 

11.89 करोड़ लोगों के बीच पहुंची स्वास्थ्य टीमें
स्वास्थ्य विभाग की टीमें लगातार विभिन्न क्षेत्रों में लोगों के बीच पहुंचकर सर्वेश्रण कर रही हैं। अभी तक 1,09,838 इलाकों में 3,61,587 टीमों ने 2,39,08,813 करोड़ घरों का सर्वेक्षण किया है। इसके तहत 11,89,07,243 करोड़ से अधिक लोगों की मेडिकल स्क्रीनिंग की गई है।

प्रदेश में अब तक 64,505 कोविड हेल्प डेस्क स्थापित
प्रदेश में कुल 64,505 'कोविड हेल्प डेस्क' की स्थापना की जा चुकी है। इनके जरिए 7,57,435 से अधिक लक्षणात्मक लोगों की पहचान की गई। इनमें ऑक्सीमीटर और थर्मामीटर उपलब्ध हैं। इन सभी इकाइयों में सैनिटाइजर की पर्याप्त उपलब्धता की गई है।

प्रदेश में 78.79 प्रतिशत हुई रिकवरी दर
राज्य में मरीजों के ठीक होने की दर में कुछ और सुधार देखने को मिला है। वर्तमान में रिकवरी दर बढ़कर 78.79 प्रतिशत हो गई है। इससे पहले यह 78.29 प्रतिशत थी। 

यह खबर भी पढ़े: कंगना रणौत के बयान पर आया सनी लियोनी का जवाब, बोलीं- कम जानने वाले लोगों के पास हमेशा कहने के लिए सबसे...

यह खबर भी पढ़े: हॉस्पिटल के कोविड वार्ड में मना कोरोना मरीज का 'बर्थडे', जमकर मचा धमाल, VIDEO सोशल मीडिया पर वायरल

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From uttar-pradesh

Trending Now
Recommended