संजीवनी टुडे

उप्र में कोरोना के 63,148 सक्रिय मामले, रिकवरी दर 81 प्रतिशत के पार

संजीवनी टुडे 22-09-2020 17:44:24

प्रदेश में कोरोना के सक्रिय मरीजों की संख्या अब 63,148 हो गई है। बीते चौबीस घंटे में संक्रमण के 5,722 नए मामले सामने आए, वहीं इसी दौरान 6,589 लोग स्वस्थ होकर डिस्चार्ज किए गए।


लखनऊ। प्रदेश में कोरोना के सक्रिय मरीजों की संख्या अब 63,148 हो गई है। बीते चौबीस घंटे में संक्रमण के 5,722 नए मामले सामने आए, वहीं इसी दौरान 6,589 लोग स्वस्थ होकर डिस्चार्ज किए गए। अब तक कुल 2,96,183 लोग इलाज के बाद पूरी तरह ठीक होने के बाद घर भेजे जा चुके हैं। राज्य में संक्रमण के बाद कुल मौतों की संख्या 5,212 पहुंच गई है। इनमें बीते चौबीस घंटे में 77 लोगों की मौत हुई है। वहीं राज्य में मरीजों के ठीक होने की दर वर्तमान में और बढ़कर 81.25 प्रतिशत हो गई है। इससे पहले यह 80.69 प्रतिशत थी।

अब तक कुल 88.26 लाख कोरोना नमूनों की हुई जांच
अपर मुख्य सचिव, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने  मंगलवार को बताया कि राज्य की विभिन्न प्रयोगशालाओं में सोमवार को कुल 1,50,085 कोरोना नमूनों की जांच की गई। वहीं अब तक कुल 88,26,726 कोरोना नमूनों की जांच की जा चुकी है।

3,836 पूल के जरिए 20,600 नमूनों की हुई जांच
उन्होंने बताया कि सोमवार को 3,836 पूल के जरिए 20,600 नमूनों की जांच की गई। इनमें 3,552 पूल के जरिए प्रति पूल पांच-पांच नमूनों की जांच की गई, जिसमें 440 पूल की रिपोर्ट पॉजिटिव आई। वहीं 284 पूल के जरिए प्रति पूल दस-दस नमूनों की जांच की गई, जिसमें 32 की रिपोर्ट पॉजिटिव आई।

32,313 मरीजों का होम आइसोलेशन में चल रहा इलाज
उन्होंने बताया कि प्रदेश में वर्तमान में कुल सक्रिय मरीजों में से 32,313 लोग होम आइसोलेशन यानि घर पर रहकर इलाज की सुविधा का लाभ ले रहे हैं। वहीं 3,864 लोग निजी अस्पतालों और 219 लोग होटल में एल-1 प्लस की सेमिपेड फैसिलिटी सुविधा के तहत अपना इलाज करा रहे हैं। इनके अलावा शेष राज्य सरकार की एल-1, एल-2 व एल-3 की व्यवस्था के तहत सरकारी अस्पतालों में भर्ती हैं। अभी तक कुल 1,89,673 लोग होम आइसोलेशन की सुविधा का लाभ ले चुके हैं। इनमें से 1,57,360 लोगों के इलाज का समय पूरा होने पर उन्हें डिस्चार्ज घोषित किया जा चुका है। 

12.18 करोड़ लोगों के बीच पहुंची स्वास्थ्य टीमें
स्वास्थ्य विभाग की टीमें लगातार विभिन्न क्षेत्रों में लोगों के बीच पहुंचकर सर्वेश्रण कर रही हैं। अभी तक 1,15,966 इलाकों में 3,72,719 टीमों ने 2,45,19,803 करोड़ घरों का सर्वेक्षण किया है। इसके तहत 12,18,04,691 करोड़ से अधिक लोगों की मेडिकल स्क्रीनिंग की गई है।

इस वर्ष 01 सितम्बर से 21 सितम्बर तक की गई 10,642 मेजर सर्जरी
उन्होंने बताया कि राज्य में कोविड केयर के साथ नॉन कोविड केयर पर भी पूरी तरह ध्यान दिया जा रहा है। प्रदेश में बीते वर्ष 01 सितम्बर से 21 सितम्बर तक सरकारी अस्पतालों में जहां 14,826 मेजर सर्जरी की गई। वहीं कोरोना संक्रमण काल के बावजूद इस वर्ष इसी समयावधि में 10,642 मेजर सर्जरी की गई।

7,039 बच्चों ने एक दिन में सरकारी अस्पतालों में लिया जन्म
अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य ने बताया कि राज्य में कोविड के साथ नॉन कोविड केयर पर भी पूरा ध्यान दिया जा रहा है। सरकारी अस्पतालों में प्रसव की सुविधाएं पहले की तरह मुहैया करायी जा रही हैं। 20 सितम्बर को प्रदेश में 7,039 शिशुओं ने सरकारी अस्पतालों में जन्म लिया। इनमें 6,871 नॉर्मल डिलीवरी और 168 सिजेरियन प्रसव हुए।

यह खबर भी पढ़े: SSR CASE: दीपिका का पुराना पोस्ट हो रहा वायरल, पति रणवीर को कहा था- 'आप मेरे सुपर ड्रग'

यह खबर भी पढ़े: IPL 2020/ आज राजस्थान और चेन्नई के बीच होगी भिड़ंत, जानिए कैसी रहेगी दोनों टीमों की संभावित प्लेइंग IX

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From uttar-pradesh

Trending Now
Recommended