संजीवनी टुडे

मूसलाधार बारिश से 100 साल पुराना जर्जर मकान ढहा, मां बेटी की मौत

संजीवनी टुडे 14-08-2020 14:57:07

इस सीजन में गुरुवार को कम समय में सबसे तेज बारिश हुई। तेज बारिश के बाद भी बारिश की फुहारें रुक-रुक कर जारी रहीं और हटिया बाजार में 100 साल पुराना जर्जर मकान ढह गया।


कानपुर। इस सीजन में गुरुवार को कम समय में सबसे तेज बारिश हुई। तेज बारिश के बाद भी बारिश की फुहारें रुक-रुक कर जारी रहीं और हटिया बाजार में 100 साल पुराना जर्जर मकान ढह गया। मकान ढहने की जानकारी पर पहुंची पुलिस और प्रशासन की टीम राहत बचाव कार्य में जुट गयी और एनडीआरएफ को भी जानकारी दी गयी। संयुक्त टीमों ने चार घंटे रेस्क्यू चलाकर मलबे में दबी मां और बेटी के शव को निकाल लिया। 

मूलगंज थाना क्षेत्र के हटिया स्थित बक्सा बाजार में स्वर्गीय रामचंद्र गुप्ता ने करीब 100 साल पहले चार मंजिला मकान बनवाया था। ग्राउंड फ्लोर खाली पड़ा है, जिसमें रामचंद्र गुप्ता के सबसे बड़े बेटे उमाशंकर गुप्ता का कब्जा है। उमाशंकर पड़ोस में ही एक दूसरे मकान में परिवार के साथ रहते हैं। पहली मंजिल पर दूसरे बेटे गणेश शंकर गुप्ता रहते हैं। इनकी पत्नी का देहांत का हो चुका है और इकलौती बेटी की शादी हो चुकी है। दूसरी मंजिल पर प्रेमशंकर गुप्ता पत्नी, पांच बेटों, दो बेटियों व बहुओं के साथ रहते थे। सबसे ऊपरी मंजिल पर सबसे छोटे भाई रमाशंकर का परिवार रहता था। रमाशंकर की एक साल पहले मृत्यु हो चुकी है। परिवार में पत्नी मीना गुप्ता, बेटे राहुल गुप्ता, रंकू गुप्ता व बेटी प्रीति गुप्ता हैं। राहुल ने बताया कि मकान पुराना था। 

रात भर बारिश के बाद सबसे ऊपरी मंजिल से सुबह आठ बजे तीन चार ईंटें गिरीं थी, लेकिन उन्होंने इसे गंभीरता से नहीं लिया। रात को वह दूध लेने गया गया था और इसी दौरान फिर से ईंटें गिरी तो चाचा गणेश शंकर ने चिल्लाकर सभी लोगों को बाहर निकलने को कहा। इस पर पूरा घर खाली हो गया। बताया जा रहा है कि मीना (50) और प्रीति (18) भी नीचे उतर आईं, लेकिन इसी बीच मां-बेटी पता नहीं किस कारण से दोबारा मकान के अंदर चली गईं। दोनों के अंदर से दोबारा बाहर निकलने के पहले ही पूरा मकान भरभराकर गिर गया और मां बेटी मलबे में दब गईं। जिसके बाद इलाके में भगदड़ मच गई। स्थानीय लोगों ने आनन-फानन में पुलिस को सूचना दी। मौके पर पहुँची पुलिस रेस्क्यू ऑपरेशन में लग गई। 

सूचना मिलने के बाद डीआईजी समेत आलाधिकारियों ने मौके पर पहुँच कर रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू कर दिया और एनडीआरएफ को जानकारी दी गयी। सयुंक्त ऑपरेशन के करीब चार घंटे बाद मां बेटी के शव को निकाला जा सका। मौत की सूचना मिलते ही घर में कोहराम मच गया। वहीं एसएसपी कानपुर प्रीतिंदर सिंह का कहना है कि 4 घंटे में रेस्क्यू करके माँ बेटी के शव को बाहर निकाल लिया गया है और शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।

यह खबर भी पढ़े: KGF 2 में विलेन अधीरा का किरदार निभा रहे है संजय दत्त, कैंसर ट्रीटमेंट के बीच कैसे पूरी करेंगे शूटिंग, कार्तिक गौड़ा ने दिया जवाब

यह खबर भी पढ़े: श्रीदेवी की 57वीं जयंती पर बोनी कपूर ने लिखा भावुक नोट, काश तुम यहां होती हमारी खुशी तुम्हारे बिना अधूरी

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From uttar-pradesh

Trending Now
Recommended