संजीवनी टुडे

भारत सरकार ने लांच की आरोग्य सेतु ऐप, कोरोना संक्रमण के खतरे की जानकरी अब मिलेगी घर बैठे जानकारी

संजीवनी टुडे 04-04-2020 17:36:40

हमीरपुर। कोरोना संक्रमण के खतरे की जानकरी अब घर बैठे मिल पाएगी। इसमें भारत सरकार द्वारा लांच की गयी आरोग्य सेतु ऐप आपकी मदद करेगा। आपको यह भी जानकारी देगा कि आपको कोरोना का कितना खतरा है तथा आपको चिकित्सक से परामर्श लेने की जरूरत है या नहीं।


हमीरपुर। कोरोना संक्रमण के खतरे की जानकरी अब घर बैठे मिल पाएगी। इसमें भारत सरकार द्वारा लांच की गयी आरोग्य सेतु ऐप आपकी मदद करेगा। आपको यह भी जानकारी देगा कि आपको कोरोना का कितना खतरा है तथा आपको चिकित्सक से परामर्श लेने की जरूरत है या नहीं। 

यह जानकारी मानव संसाधन विकास मंत्रालय के सचिव अमित खेरे ने पत्र के माध्यम से दी है। बताया है कि इस एप्लीकेशन में कोरोना रिस्क की केलकुलेशन कंप्यूटर विज्ञान की आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस विधि द्वारा की जाएगी। साथ ही आयुष मंत्रालय ने कोरोना का मजबूती से सामना करने के लिए रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के उपाय भी बताये हैं। आरोग्य सेतु ऐप की सहायता से 11 भाषाओं में जानकारी उपलब्ध हो सकेगी। जिसे एंड्रायड व एप्पल दोनों ही प्रकार के यूजर इस्तेमाल कर सकेंगे। पत्र के माध्यम से अमित खेरे ने एप्पल एवं एंड्राइड से इस एप्लीकेशन को डाउनलोड करने का लिंक भी जारी किया है।

ये हैं ऐप के खास फीचर्स
आरोग्य सेतु ऐप के दो सबसे खास फीचर्स है। पहला राज्यवार कोरोना हेल्प सेंटर के फोन नंबर्स की लिस्ट तथा दूसरा सेल्फ असेसमेंट है। इस फीचर के जरिए आप यह जांच कर सकते हैं कि आपको कोरोना वायरस का खतरा है या नहीं। इसके अलावा अगर आपमें कोरोना से जुड़े कोई लक्षण दिखते हैं तो यह ऐप सेल्फ-आइसोलेशन से जुड़े निर्देश देता है।

aarogy setu aap

ट्रेवल हिस्ट्री पर ऐप रखेगी नजर, डाटा रहेगा सुरक्षित 
कोरोना सेतु ऐप आपकी ट्रेवल हिस्ट्री पर नजर रखेगी। इंस्टाल करते समय यह आपके फोन के नंबर, ब्लूटूथ तथा लोकेशन का एक्सेस मांगेगी। यह ऐप यूजर के डाटा को इंक्रीप्शन के आधार पर उसके ही फोन में सेव करेगी इसलिए यूजर का डेटा कोई यूज नहीं कर सकेगा तथा सेफ रहेगा। 

ऐसे करेगी कोरोना के बारे में सतर्क 
यदि आपने अपने फोन में आरोग्य सेतु ऐप डाउनलोड कर लिया है तो शुरूआत में पूछी गई जानकारी के आधार पर बताएगी कि आपको कोरोना का कितना खतरा है। इसके बाद यदि आप किसी कोरोना आशंकित मरीज के संपर्क में आ जाते हैं तथा उस संक्रमित व्यक्ति ने भी अपने फोन में आरोग्य सेतु ऐप इंस्टाल की हुई है। ऐसे में उस व्यक्ति का टेस्ट पॉजिटिव आने पर आपके फोन में इंस्टाल की गई आरोग्य ऐप आपको नोटिफिकेशन के माध्यम से सतर्क कर देगी कि आपको भी कोरोना संक्रमण का खतरा है।

आयुष मंत्रालय ने रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के बताये उपाय
यहां के क्षेत्रीय आयुर्वेद एवं यूनानी अधिकारी डॉ.नारायन दास ने बताया कि कोरोना वारयरस से बचाव के लिये ये उपाय बहुत ही कारगर है। खासकर मुंह और नाक में हाथ लगाने से इसका संक्रमण होता है। इसलिये नाक के दोनों छिद्रों में नारियल का तेल या गाय का घी सुबह और शाम डालना चाहिये। इससे नाक में खुजली नहीं होगी। उन्होंने बताया कि अधिक से अधिक गर्म चाय पीने चाहिये। गर्म और ताजा खाना भी खाना चाहिये। ठंडे पेय पदार्थों से बचना चाहिये। 
आयुर्वेद एवं यूनानी अस्पताल हमीरपुर के मेडिसिन प्रभारी आर.पी दीक्षित ने शनिवार को बताया कि रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिये आयुर्वेद में बताये गये उपाय रामबाण है। इससे व्यक्ति का सुरक्षा तंत्र मजबूत होगा। उन्होंने बताया कि सुरक्षा तंत्र मजबूत रहने से कोरोना ही नहीं अन्य बीमारी पर भी नियंत्रण पाया जा सकता है। लेकिन आयुर्वेद एवं यूनानी के बताये गये उपायों के साथ आम लोगों को अपने घरों में ही रहना चाहिये।

कोरोना से ऐसे खुद को सुरक्षित रखें 
नाक के दोनों छिद्रों में नारियल तेल, तिल तेल या घी सुबह और शाम डालें। एक चम्मच तिल तेल या नारियल तेल को मुंह में बिना निगले 2 से 3 मिनट तक रखें एवं इसके बाद गर्म पानी से कुल्ला कर लें। ऐसा दिन में एक से दो बार किया जा सकता है। यदि कंठ में दर्द हो या सूखी खांसी हो तब पुदीना एवं अजवायन की भांप लें। लौंग के पाउडर को चीनी या शहद में मिलाकर दिन में 2 से 3 बार सेवन करें। यदि खांसी लंबे समय तक हो तो चिकित्सक की सलाह जरुर लें

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From technology

Trending Now
Recommended