संजीवनी टुडे

योगी सरकार ने विश्वास और विकास का वातावरण तैयार किया:सिद्धार्थ नाथ

इनपुट- यूनीवार्ता

संजीवनी टुडे 21-09-2019 20:50:30

सिद्धार्थ नाथ सिंह ने कहा कि सूबे की योगी सरकार ने 30 माह में सफलतापूर्वक विश्वास और विकास का वातावरण तैयार किया है।


प्रयागराज। उत्तर प्रदेश के खादी एवं ग्रामोद्योग मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने कहा कि सूबे की योगी सरकार ने 30 माह में सफलतापूर्वक विश्वास और विकास का वातावरण तैयार किया है। सिंह शनिवार को प्रयागराज में विद्युत विभाग के चीफ इंजीनियर, अधीक्षण अभियंता, अधिशाषी अभियंता और सहायक अभियंता के साथ विद्युत प्रगति की समीक्षा कर रहे थे। इस मौके पर उन्होंने कहा कि योगी सरकार में सुरक्षित,

यह खबर भी पढ़ें: ​दोनों सीटों पर परचम लहराएगी भाजपाः जयराम ठाकुर

सशक्त, बेमिसाल और रोशनी व्यवस्था बनाने में विद्युत विभाग का बहुत बड़ा योगदान है। इस व्यवस्था से गांव, गरीब और किसान के साथ औद्योगिक विकास से लाखों लोगों को रोजगार के अवसर मिलते हैं। उन्होंने कहा विकास के लिए बिजली अपरिहार्य है। पिछली दो सरकारों के 10 साल के कार्यकाल में बिजली प्रदेश के पांच वीआईपी जिलों तक ही सीमित थी, लेकिन अब बिना किसी भेदभाव के सभी जिलों को बिजली मुहैया कराई जा रही है। 

तहसील मुख्यालयों में 20 घंटे और ग्रामीण क्षेत्रों में 16 से 18 घंटे बिजली आपूर्ति कैसे रहे इसके लिए आप लोग चिंतन करें,इसकी कार्ययोजना बनाकर प्रस्तुत करें। उन्होने कहा कि विकास कार्य के लिए बजट की कोई कमी नहीं होगी।

प्रदेश सरकार के प्रवक्ता सिंह ने कार्य के प्रति गैर जिम्मेदार अधिकारी एवं कर्मचारियों पर गहरी नाराजगी जताई और कहा “प्राथमिक विद्यालय टिकुरा हरिजन बस्ती करेंहदा को गोद ले रखा हूँ।” यहाँ पर 10 केवीए का ट्रांसफार्मर,पोल और तार प्राथमिकता के साथ स्थापित करें।

उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिये कि मकनपुर के राजस्व गांव दिलदारगंज, कटहुला ,शेरपुर, डाही, बिसौना, गांजा गयासुद्दीनपुर, हरदिहाईपुर, दादनपुर, बजहा और पीपल गांव, मंदर और पावन, मनौरी मदारीपुर सहित सौभाग्य योजना के अंतर्गत विधानसभा शहर पश्चिमी के गांवों का सर्वे कराकर विधुतीकरण से आच्छादित किया जाय। कोई भी गांव का मोहल्ला विद्युतीकरण से वंचित नहीं रहना चाहिए।

सिंह ने कहा कि ट्रांसफॉर्मर बदलने की प्रक्रिया काफी धीमा है। सरकार के मंशानुरूप समयबद्ध जले ट्रांसफार्मरों को सुनिश्चित होना चाहिए। ट्रांसफॉर्मर को गांव तक ले जाने और ले आने वाले ठेकेदार का कार्य संतोषजनक नहीं होने पर उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की चेतावनी दी। उन्होंने अधीक्षण अभियंता को मदारीपुर गांव में 20 दिन पहले जले ट्रांसफार्मर को लगाने के लिए गांव के लोगों से पैसे लेने की घटना की जांच का निर्देश दिया।

गोवर्मेन्ट एप्रूव्ड प्लाट व फार्महाउस मात्र रु. 2600/- वर्गगज, टोंक रोड (NH-12) जयपुर में 9314166166

More From state

Trending Now
Recommended