संजीवनी टुडे

योगी ने रैन बसेरा का किया निरीक्षण, आश्रय लिए लोगों को बांटे कंबल

इनपुट- यूनीवार्ता

संजीवनी टुडे 08-12-2019 12:20:22

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार देर रात रैन बसेरा का निरीक्षण किया और वहां आश्रय लिए लोगों को कंबल बांटे।


लखनऊ। उत्तर प्रदेश के दो दिवसीय दौरे पर आये मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार देर रात रैन बसेरा का निरीक्षण किया और वहां आश्रय लिए लोगों को कंबल बांटे।

यहां तय कार्यक्रम में देरी से पहुंचे मुख्यमंत्री ने देर रात शहर में स्थलीय निरीक्षण किया और इस दौरान वह महारानी लक्ष्मीबाई मेडिकल कॉलेज के गेट नंबर एक के सामने बने रैन बसेरा का निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने वहां ठहरने वाले लोगों का हालचाल लेने के साथ रैन बसेरा की व्यवस्थाओं के बारे में जानकारी ली। उन्होंने सर्दी से बचने के लिए सभी को कंबल बांटे और अधिकारियों को चेतावनी दी कि सर्दी में कोई ठिठुरने नहीं पाये।

यह खबर भी पढ़ें:​ दिल्ली: अनाज मंडी में लगी भीषण आग, 32 लोगों के मौत, 50 को सुरक्षित निकाला

इसके बाद उन्होंने जेल चाैराहा स्थित निर्माणाधीन पुलिस हॉस्टल का भी निरीक्षण किया। इस दौरान पुलिस अधीक्षक (देहात) राहुल मिठास ने मुख्यमंत्री को बताया कि बन रही बिल्डिंग लगभग तैयार है जो थोड़ा बहुत काम बचा है वह जल्द ही पूरा करके इसी माह यह हैंडओवर कर दी जायेगी , इसमें 200 सिपाहियों के रहने की व्यवस्था है।

इससे पहले आयुक्त सभागार में मंडलीय समीक्षा बैठक में जालौन सांसद भानु प्रताप वर्मा की जिला आपूर्ति अधिकारी बी के शुक्ला की कार्यप्रणाली को लेकर की गयी शिकायत और जिलाधिकारी की पुष्टि के बाद मुख्यमंत्री ने आपूर्ति अधिकारी को निलंबित करने के निर्देश दिये। इसके अलावा कई विभाग के अधिकारियों को मुख्यमंत्री ने जबरदस्त फटकार लगायी।

यह खबर भी पढ़ें:​ निर्भया गैंगरेप केस: दोषी विनय शर्मा ने राष्ट्रपति को भेजी गई दया याचिका वापस लेने की मांग की

मुख्यमंत्री पद संभालने के बाद योगी चौथी बार झांसी का दौरा किया और इस बार योजनाओं के क्रियान्वयन की स्थिति का जायजा लेने के लिए स्थलीय निरीक्षण किया। इस बार मुख्यमंत्री योगी पूरी तरह से एक्शन मोड में दिख रहे हैं। सरकारी योजनाओं का लाभ ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंचे और सरकार की इस मंशा को पलीता लगाने वाले अधिकारियों के खिलाफ सख्त नजर आये। 

जालौन आपूूर्ति अधिकारी के खिलाफ शिकायत की पुष्टि होने के साथ ही निलंबन के निर्देश और योजनाओं के क्रियान्वयन में ठिलाई बरतने वाले कई विभाग के अधिकारियों को जबरदस्त फटकार, यह बताती है कि मुख्यमंत्री सरकारी योजना और लाभार्थियों के बीच आने वाले अधिकारियों को किसी तरह बख्शेंगे नहीं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

More From state

Trending Now
Recommended