संजीवनी टुडे

ऑनलाइन पंजीकरण निरस्त करने के विरोध में श्रमिकों ने घेरा मुख्यमंत्री कैम्प कार्यालय को

संजीवनी टुडे 20-02-2019 22:13:09


करनाल। लेबर डिपार्टमेंट द्वारा भवन निर्माण के पंजीकृत श्रमिकों के हुए घोर अन्याय को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। यह बात भारतीय मजदूर संघ हरियाणा के संगठन मंत्री जंग बहादुर यादव ने कही। वे बुधवार को भवन निर्माण के श्रमिकों की सभा को सम्बोधित कर रहे थे। 

यादव ने कहा कि एक तरफ तो सरकार अंत्योेदय की बात करके गरीबों के उत्थान करने की बात करती है, तो दूसरी तरफ उसके अधिकारी गरीबों का गला घाेंटने में लगे हुए हैं, जैसा कि भवन निर्माण के 45 लाख मजदूरों का रजिस्ट्रेशन निरस्त करके किया गया है। उन्होंने सरकार से मांग की कि ऑनलाइन प्रक्रिया को ठीक करके मजदूरों के साथ होने वाले अन्याय को रोकना चाहिए। उन्होंने चेतावनी दी कि यदि ऐसा न हुआ तो श्रमिक पूरे प्रदेश के लेबर ऑफिसों का घेराव करेंगे। 

जयपुर में प्लॉट मात्र 2.30 लाख में Call On: 09314188188

इससे पूर्व हजारों श्रमिक ने सेक्टर 12 करनाल में एकत्र होकर जुलूस की शक्ल में मुख्यमंत्री के कैम्प ऑफिस का घेराव किया और अपनी मांगों का ज्ञापन सौंपा। इस मौके पर भवन एवं निर्माण कामगार संघ हरियाणा के प्रधान सुरेन्द्र ठाकुर ने कहा कि सभी शर्त पूरी करने के पश्चात अधिकारी कोई न कोई बहाना बनाकर गरीब मजदूरों को फुुटबॉल की तरह इस्तेमाल कर रहे हैं। भारतीय मजदूर संघ हरियाणा के प्रदेश अध्यक्ष वेदप्रकाश सैनी ने कहा कि सेस का बहाना बनाकर जो प्रक्रिया अपनाई जा रही है, इसका मजदूरों से कोई लेना देना नहीं है। अधिकारी अपनी जिम्मेदारी से भाग रहे हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेशभर में नवम्बर 2017 से ऑनलाइन प्रक्रिया के माध्यम से पंजीकृत लगभग 4.5 लाख पंजीकरण आवेदन श्रम विभाग के अधिकारियों ने निरस्त किए हैं। 

MUST WATCH & SUBSCRIBE

ऐसे श्रमिकों के पंजीकरण को मान्य किया जाए और जिनके दस्तावेज पूर्ण नहीं हैंं, उन श्रमिकों के पते पर त्रुटियों बारे पत्राचार के माध्यम से जानकारी दी जाए और त्रुटियों को दूर करने के लिए कम से कम तीन महीने का समय दिया जाए। इस मौके पर बहादुर यादव, रोहतास सिंह, श्याम लाल, ओपी मालिया, रवि कुमार, बलराज कश्यप महेन्द्र सिंह नरवाल, पूनम ठाकुर, गीता, सुमन, रेखा, संजू, सुदेश, जसबीर सिंह, विष्णु यादव, रेनू, हीरा ठाकुर, विनोद खेड़ा और ईश्वर सिंह आदि ने भी सम्बोधित किया। 

More From state

Loading...
Trending Now