संजीवनी टुडे

विवेकानंद हों या मोदी, एकमात्र ध्येय जनसेवा: प्रताप चंद्र सारंगी

संजीवनी टुडे 16-02-2020 22:53:33

केंद्रीय सूक्ष्म, मध्यम और लघु उद्योग मामलों के राज्य मंत्री प्रताप चंद्र सारंगी ने कहा है कि स्वामी विवेकानंद हों या वर्तमान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, इन सभी का एकमात्र ध्येय जन सेवा और लक्ष्य भारत के लोगों को आत्मनिर्भर बनाना रहा है।


कोलकाता। केंद्रीय सूक्ष्म, मध्यम और लघु उद्योग मामलों  के  राज्य मंत्री प्रताप चंद्र सारंगी ने कहा है कि स्वामी विवेकानंद हों या वर्तमान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, इन सभी का एकमात्र ध्येय जन सेवा और  लक्ष्य भारत के  लोगों को आत्मनिर्भर बनाना रहा है। रविवार को कोलकाता के बड़ाबाजार कुमारसभा पुस्तकालय के 34 वें विवेकानंद सेवा सम्मान कार्यक्रम में शामिल होने पहुंचे सारंगी ने कहा कि बंगाल की भूमि काफी पावन है। यहां स्वामी विवेकानंद, गुरुदेव रविंद्रनाथ टैगोर, नेताजी सुभाष चंद्र बोस जैसे महापुरुषों ने जन्म लिया है।

उन्होंने कहा कि भारत में कई छोटे-बड़े नेता हुए हैं लेकिन हमारे लिए नेताजी सुभाष चंद्र बोस ही एकमात्र नेता रहे हैं। सारंगी ने विवेकानंद सेवा सम्मान से स्वामी जीवन मुक्तानंद पूरी को सम्मानित किया। कोलकाता के रथिंद्र मंच में आयोजित इस कार्यक्रम के दौरान सम्मान के तौर पर मुक्तानंद पूरी को एक लाख रुपये का चेक और विवेकानंद सेवा सम्मान का प्रशस्ति पत्र दिया गया। 

स्वामी जीवन मुक्तानंद पूरी समाज सेवा के लिए वर्षो से काम कर रहे हैं। वह मूल रूप से ओडिशा के संबलपुर स्थित ऋषिकुल आश्रम के सभापति हैं। प्रताप सारंगी के हाथों सम्मान और चेक लेने के बाद उन्होंने संबोधन करते हुए कहा, "मैंने जीवन में एक लाख रुपये कभी भी एक साथ नहीं देखे थे।" इस राशि का उपयोग जनसेवा के लिये करूंगा। समारोह में वरिष्ठ समाजसेवी मनसुख सेठिया, लक्ष्मी नारायण भाला, प्रकाश चंद्र बेताला अध्यापक सुजीत कुमार घोष व कई अन्य गणमान्य लोग उपस्थित थे।  

यह भी पढ़े: बीजेपी की महाविकास आघाड़ी को गिराने की भविष्यवाणी 4 साल तक सच नहीं होगी: शरद पवार

मात्र 289/- प्रति sq. Feet में जयपुर में प्लॉट बुक करें 9314166166

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

More From state

Trending Now
Recommended