संजीवनी टुडे

अधिग्रहित जमीन का मुआवजा बढऩे पर ग्रामीणों ने बांटी मिठाईयां

संजीवनी टुडे 23-02-2019 22:18:00


झज्जर। बहादुरगढ़ के छारा गांव के किसानों की अधिग्रहित जमीन का मुआवजा सरकार ने बढ़ा दिया है। किसानों को अब करीब एक करोड़ 11 लाख रुपए प्रति एकड़ के हिसाब से मुआवजा मिलेगा। मुआवजा बढऩे से किसान बेहद खुश हैं। किसानों ने एक दूसरे को लड्डू खिलाकर अपनी खुशी जाहिर की है। 

छारा गांव के किसान पिछले कई दिनों से भारत भूमि बचाओ संघर्ष समिति के बैनर तले मुआवजा बढ़ाने की मांग को लेकर आंदोलन कर रहे थे। हम आपको बता दें कि हाईवे बनाने के लिए छारा गांव के किसानों की करीब 85 एकड़ जमीन का अधिग्रहण किया गया था । 

जयपुर में प्लॉट मात्र 2.30 लाख में Call On: 09314188188

आंदोलन से पहले छारा गांव के किसानों की अधिकृत जमीन का मुआवजा करीब 40 लाख रुपए प्रति एकड़ बनाया गया था। जबकि पास के गांव की जमीन का मुआवजा 1 करो? से ज्यादा दिया गया था। जिसके बाद किसान धरने पर बैठे थे। उन्होंने सरकार से मांग की थी कि साथ लगते गांव के किसानों को उनसे ज्यादा मुआवजा दिया गया है। इसलिए उन्हें भी मुआवजा ज्यादा दिया जाए। 

किसानों की मांग के बाद प्रशासन ने मुआवजा बढ़ाने के लिए एक कमेटी का गठन किया। उस कमेटी की सिफारिश के आधार पर डीआरओ ने गांव की जमीन का बाजार भाव 40 लाख रुपये प्रति एकड़ तय कर दिया है और अपनी रेट तय करने की चि_ी एनएचएआई के पास भेज दी है। अब इसी के आधार पर ग्रामीणों को एक करोड़ से ज्यादा का मुआवजा मिलने वाला है।

MUST WATCH & SUBSCRIBE

भारत भूमि बचाओ संघर्ष समिति के अध्यक्ष एवं इनेलो नेता रमेश दलाल ने मनोहर सरकार के साथ-साथ केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी का भी धन्यवाद किया है। हालांकि उनका कहना है कि धरना फिलहाल जारी रहेगा। वे विधिवत रूप से धरने की समाप्ति करेंगे और साथ ही कोर्ट में केस लगा कर मुआवजा राशि और ज्यादा बढ़ाने की मांग करेंगे।

More From state

Trending Now
Recommended