संजीवनी टुडे

मध्य प्रदेश में फंसे बंगाल के श्रमिकों पर विजयवर्गीय ने ममता को घेरा

संजीवनी टुडे 29-05-2020 15:45:14

भारतीय जनता पार्टी की पश्चिम बंगाल इकाई के प्रभारी और राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने बंगाल से बाहर रहने वाले राज्य के प्रवासी श्रमिकों पर पश्चिम बंगाल सरकार की निष्क्रियता को लेकर सवाल खड़ा किया है।


कोलकाता। भारतीय जनता पार्टी की पश्चिम बंगाल इकाई के प्रभारी और राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने बंगाल से बाहर रहने वाले राज्य के प्रवासी श्रमिकों पर पश्चिम बंगाल सरकार की निष्क्रियता को लेकर सवाल खड़ा किया है। इसके साथ ही उन्होंने यह भी बताया है कि मध्य प्रदेश में रहने वाले पश्चिम बंगाल के प्रवासी श्रमिकों को वापस लेकर जल्द ही ट्रेन रवाना होगी। मध्यप्रदेश सरकार ने मध्य प्रदेश में फंसे बंगाल के श्रमिकों को वापस भेजने के लिए तीन ट्रेन चलाने की घोषणा की है। इसके लिए श्रमिकों का पंजीयन शुरू हो गया है। ये ट्रेनें दो जून को इंदौर व भोपाल से तथा छह जून को रतलाम से खुलेंगी और बंगाल के विभिन्न स्टेशन आयेंगी। 

इसके पहले मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को पत्र लिखकर मध्य प्रदेश में फंसे बंगाल के श्रमिकों की घर वापसी के लिए विशेष ट्रेन चलाने का आग्रह किया था। भाजपा के महासचिव व प्रदेश भाजपा के केंद्रीय प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि इन ट्रेनों से बंगाल के श्रमिक नि:शुल्क यात्रा कर पायेंगे। किराये का खर्च मध्य प्रदेश सरकार वहन करेगी। इन ट्रेनों में यात्रा के लिए पंजीयन शुरू हो गया है। उन्होंने श्रमिकों से आग्रह किया कि वे पंजीयन करायें और नि:शुल्क अपने घर जायें। उन्होंने कहा कि बंगाल की मुख्यमंत्री ममता जी ने बंगाल के प्रवासी श्रमिकों के लिए कुछ नहीं किया। उनके हित को लेकर उदासीन हैं। 

मध्य प्रदेश सरकार ने उनके लिए न केवल किराया दे रही हैं, वरन अन्य सुविधाएं भी दे रही हैं। उन्होंने श्रमिकों की पैदल वापसी व नैनो कारखाना को हाटने के लिए विरोध प्रदर्शन की तस्वीर ट्वीटर में शेयर करते हुए कहा : टाटा नैनो का कारखाना यदि खुल गया होता, तो पश्चिम बंगाल के मजदूर बाहर क्यों जाता? दूसरी ओर, भाजपा के सांसद ज्योतिर्मय सिंह महतो ने मध्य प्रदेश से बंगाल के लिए ट्रेन चलाने के फैसले का स्वागत करते हुए कहा, "बंगाल की मुख्यमंत्री श्रमिकों भाई व बहनों की वापसी के लिए दिलचस्पी नहीं ले रही हैं। ऐसे में मध्य प्रदेश सरकार व विजयवर्गीय का प्रयास सराहनीय है।

यह खबर भी पढ़े: WhatsApp पर अब कर सकेंगे 50 लोगों को एक साथ वीडियो कॉल, जानें कैसे करें ज्वाइन?

यह खबर भी पढ़े: कोरोना वायरस से पीड़ित व्यक्ति को इतने दिन बाद सांस लेने में होती हैं तकलीफ, जानें

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From state

Trending Now
Recommended