संजीवनी टुडे

VIDEO: धोखाधड़ी मामलें में आरोपी आजाद सिंह के कार्यालय को किया सीज

संजीवनी टुडे 18-06-2018 20:21:03

राजस्थान। आरसीए कोषाध्यक्ष बने आजाद सिंह राठौड़ की मुश्किलें दिनों दिन बढ़ती जा रही हैं। कोषाध्यक्ष बनने के बाद बाड़मेर पहुंचने के तीन दिनों में उनके खिलाफ तीन बड़ी कार्रवाइयां हो चुकी हैं। पहले दिन उनके स्वागत कार्यक्रम को रुकवाया गया। दूसरे दिन उनके खिलाफ धोखाधड़ी कर सरकारी जमीन का आबंटन करवाने का मामला दर्ज हुआ है।

ू

वही अब तीसरे दिन रविवार को आजाद सिंह की कंपनी हितकारी इंटरप्राइजेज के कार्यालय को सीज कर खाली करवाया गया है। आजाद सिंह के खिलाफ मामला दर्ज होने के बाद वे भूमिगत हो चुके हैं। रविवार दोपहर बाद कलेक्टर शिवप्रसाद नकाते ने अपने आवास पर अधिकारियों के साथ बैठक की।

ू

हितकारी कंपनी के नाम आबंटित बाड़मेर क्लब की जमीन पर बने दफ्तर को खाली करवाकर सीज करने के आदेश दिए। शाम को बाड़मेर एसडीएम, डीएसपी, तहसीलदार, पीडब्ल्यूडी एक्सईएन समेत आरआई पुलिस बल के साथ कार्रवाई शुरू की। रात 8 बजे कलेक्टर-एसपी के साथ आजाद सिंह के परिजनों की बैठक हुई। परिजन तैयार नहीं हुए तो प्रशासन ने अपने स्तर पर ऑफिस खाली करवा दिया। करीब डेढ़-दो घंटे कार्रवाई रुकी रही, लेकिन आजाद सिंह के परिजन नहीं आए तो प्रशासन ने कर्मचारियों से दफ्तर को खाली करा कर नोटिस चस्पा कर दिया। 

कोतवाली थाने में दर्ज रिपोर्ट के मुताबिक खेलकूद व सांस्कृतिक कार्यक्रम के संचालन के लिए बाड़मेर क्लब को वर्ष 1995 जमीन आबंटित की गई। वर्ष 2009 में राजूसिंह को बाड़मेर क्लब सचिव बनाया गया। 22 मई, 2014 को बाड़मेर क्लब सचिव ने आजाद सिंह की कंपनी हितकारी इंटरप्राइजेज को 2 लाख रु.लीज, 20 हजार रुपए मासिक किराया और हर साल 5 प्रतिशत बढ़ोतरी के साथ लीज पर क्लब के लिए आबंटित जमीन दे दी। 

जयपुर में प्लॉट मात्र 2.40 लाख में call: 09314166166

MUST WATCH

आरोप है कि क्लब सचिव राजूसिंह व हाल ही आरसीए के कोषाध्यक्ष बने आजाद सिंह ने कूटरचित दस्तावेज से सरकारी जमीन का आबंटन कराया है। उनके खिलाफ धोखाधड़ी, लाखों की राशि गबन, सार्वजनिक संपति को नुकसान पहुंचाने का कोतवाली थाने में मामला दर्ज हुआ है। 

Rochak News Web

More From state

Trending Now
Recommended