संजीवनी टुडे

कानपुर में नहीं खुला वंदे भारत एक्सप्रेस के कोच का दरवाजा, यात्रियों में अफरातफरी

संजीवनी टुडे 12-07-2019 16:54:11

कानपुर में नहीं खुला वंदे भारत एक्सप्रेस के कोच का दरवाजा, यात्रियों में अफरातफरी


कानपुर। समय की पाबंद भारत की सबसे तेज रफ्तार से दौड़ने वाली वंदे भारत एक्सप्रेस शुक्रवार को कानपुर पहुंची। यहां पर एग्जीक्यूटिव कोच का दरवाजा नहीं खुला तो अंदर और बाहर प्लेटफार्म पर यात्रियों में भगदड़ मच गई। किसी तरह से दूसरे कोच के दरवाजे से यात्री बाहर निकले और इसी तरह प्लेटफार्म के यात्रियों ने अंदर प्रवेश किया। तब जाकर यात्रियों ने राहत की सांस ली। हालांकि रेलवे इस बात को लेकर अनजान बना हुआ है। 

दिल्ली से चलकर वाराणसी जाने वाली व देश की सबसे तेज रफ्तार से दौड़ने वाली वंदे भारत एक्सप्रेस शुक्रवार को कानपुर सेंट्रल स्टेशन अपने निर्धारित समय सुबह 10ः08 मिनट पर पहुंची। यहां पर ट्रेन का मात्र दो मिनट का ठहराव है, जिसको लेकर यात्री पहले से सजग रहते हैं और प्लेटफार्म आते ही स्वतः दरवाजे खुल जाते हैं, लेकिन आज एग्जीक्यूटिव कोच का दरवाजा नहीं खुला। इससे अंदर और बाहर प्लेटफार्म पर यात्रियों में भगदड़ मच गई। 

अंदर वाले यात्री किसी तरह से दूसरे कोच के दरवाजे से बाहर निकले और बाहर वाले यात्रियों ने भी दूसरे दरवाजे के सहारे अंदर प्रवेश किया। ट्रेन का ठहराव दो मिनट का होने के कारण या​त्री बेहद अफरातफरी में थे। किसी को चन्द मिनटों में ट्रेन के चलने पर प्लेटफार्म पर उतरने की तो किसी को चढ़ने की जल्द थी। वहीं दो मिनट बाद ट्रेन तय समय पर फिर प्रयागराज के लिए रवाना हो गयी। 

सूत्रों का कहना है कि इस तरह की घटना पहली बार नहीं हुई है इसके पहले भी कई बार दरवाजे नहीं खुले। स्टेशन अधीक्षक आरपीएन त्रिपाठी ने बताया कि वंदे भारत एक्सप्रेस के दरवाजे उसी समय स्वतः खुलते हैं जब गाड़ी प्लेटफार्म पर आती है और जब गाड़ी प्लेटफार्म छोड़ती है तो स्वतः बंद हो जाते हैं। आज दरवाजा नहीं खुला इसकी हमें जानकारी नहीं है। जानकारी जुटाई जा रही है और अधिकारियों को अवगत कराया जाएगा। 

गोवर्मेन्ट एप्रूव्ड प्लाट व फार्महाउस मात्र रु. 2600/- वर्गगज, टोंक रोड (NH-12) जयपुर में 9314166166

More From state

Trending Now
Recommended