संजीवनी टुडे

उत्तराखंड सीएम की हेल्पलाइन दुखियारों के लिए बनी उम्मीद की किरण

संजीवनी टुडे 10-04-2020 17:58:45

उत्तराखंड में कोरोना वायरस (कोविड-19) संक्रमण से बचाव के लिए जारी लॉक डाउन के बीच मुसीबत में फंसे लोगों के लिए सीएम हेल्पलाइन 1905 उम्मीद की किरण साबित हो रही है।


देहरादून। उत्तराखंड में कोरोना वायरस (कोविड-19) संक्रमण से बचाव के लिए जारी लॉक डाउन के बीच मुसीबत में फंसे लोगों के लिए सीएम हेल्पलाइन 1905 उम्मीद की किरण साबित हो रही है। पिछले एक पखवाड़े के दौरान लोगों की समस्याएं स्थानीय स्तर पर हल नहीं हुईं तो उन्होंने सीएम हेल्प लाइन पर कॉल की और समस्या हल हो गई। इन फरियादियों में किसी को राशन तो किसी को पानी से लेकर बिजली, एलपीजी सिलेंडर, एम्बुलेंस और डायलिसिस तक की मदद की दरकार थी, जिसे अधिकारियों ने समय रहते निष्पादित करा दिया तो लोग भी संकट के इस दौर में अपने मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र रावत का आभार जताना नहीं भूले। 

सीएम हेल्प लाइन-1905 पर लॉक डाउन के दौरान कोरोना राहत से सबंधित समस्याओं और जानकारी की कॉल को सुना जा रहा है। मुख्यमंत्री के आईटी सलाहकार रविंद्र दत्त बताते हैं कि यहां आने वाली अधिकतम  समस्याओं का समाधान 24 घंटे के भीतर ही करवाया जा रहा है। कुछ गंभीर प्रकृति की समस्याएं तो घंटे-दो घंटे के भीतर ही हल करवा दी जाती हैं। इसके लिए सबंधित अधिकारी को आउटबांड कॉल करके समस्या का समाधान करने के लिए भी तुरंत बताया जा रहा है। उन्होंने बताया कि नागरिक अपनी समस्या का बहुत ही कम समय में समाधान होने पर सीएम हेल्प लाइन पर सकारात्मक फीडबैक वीडियो और ऑडियो के माध्यम से भी दर्ज करा रहे  हैंं।

हरिपुर नवादा कि रहने वाली मीना के यहां पांच दिन से पानी नहीं आ रहा था। स्थानीय स्तर पर समस्या हल नहीं होने पर उन्होंने सीएम हेल्प लाइन पर कॉल की। उसके बाद 24 घंटे के भीतर अधिकारियों ने उनकी समस्या निष्पादित करा दी। इसी तरह द्वारीखल निवासी आशीष जिनके पिता का देहांत हो गया था। लॉक डाउन के दौरान अंतिम संस्कार हेतु जोशीमठ से द्वारीखाल जाने के लिए पास बनवाने में दिक्कत हो रही थी। सीएम हेल्पलाइन पर शिकायत प्राप्त होते ही जिला प्रशासन से संपर्क कर पास बनाने में मदद की गई और अंतिम संस्कार के लिए वह समय पर पहुंच गए।   

देहरादून निवासी आशीष जोशी ने बताया कि उनके पिताजी को अटल आयुष्मान योजना के अंतर्गत डायलिसिस के लिए सरकारी रेफर के बिना इलाज कराने में दिक्कत हो रही थी। अब सीएम हेल्प लाइन के माध्यम से उनका समाधान हो गया है और वे बिना रेफर के अपने पिता का डायलिसिस  द्वारा इलाज अटल आयुष्मान योजना में करा पा रहे हैं। सुश्री आयशा खान ने उन्हें राशन डीलर द्वारा राशन प्राप्त ना होने की समस्या दर्ज कराई थी। खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाग से संपर्क कर दो घंटे में ही उन्हें राशन दिलवा दिया गया।

मोहकमपुर के पार्षद ने शिकायत दर्ज कराई थी कि 4 दिन से एक मजदूर बुखार से पीड़ित है परन्तु उन्हें कोई हॉस्पिटल नहीं ले जा रहा है। सीएम हेल्पलाइन द्वारा पुलिस एवं स्वास्थ्य विभाग से संपर्क कर 2 घंटे में ही एम्बुलेंस द्वारा अस्पताल में भर्ती कराया गया। हरिकुंज विजयपार्क निवासी कपिल राजपूत ने क्षेत्र में सेनिटाइजेशन ना होने की शिकायत दर्ज कराई थी। सीएम हेल्पलाइन द्वारा नगर निगम देहरादून से संपर्क करके 24 घंटे में ही  सेनिटाइज करवाया गया।

धन सिंह नेगी निवासी ग्राम उरोली ने शिकायत की कि कई दिनों से गैस सिलेंडर की आपूर्ति न होने से दिक्कत हो रही है। सीएम हेल्पलाइन द्वारा विभाग से सम्पर्क कर 24 घंटे में उस क्षेत्र में गैस आपूर्ति करा दी गई। रमेश भटकोट निवासी पौड़ी गढ़वाल ने 4 दिन से गांव में बिजली नहीं आने की शिकायत दर्ज कराई। सीएम हेल्पलाइन द्वारा अधिकारियों से संपर्क कर 24 घंटे के भीतर विद्युत आपूर्ति बहाल करा दी गई। 

दिहाड़ी मजदूर शिव ने सीएम हेल्पलाइन पर शिकायत दर्ज कराई कि उसके पास खाने के लिए कुछ भी नहीं है। सीएम हेल्पलाइन द्वारा पुलिस विभाग से सम्पर्क कर 2 घंटे के भीतर व्यक्ति के घर पर खाद्य सामग्री और एलपीजी गैस भी उपलब्ध करा दी गई। सुनील सेम्लटी निवासी पाटा गांव ने सूचना दी कि उनकी गर्भवती बहन को दर्द है और जांच के लिए चंबा अस्पताल जाने के लिए मदद चाहिए। सीएम हेल्पलाइन द्वारा टिहरी जिला प्रशासन से संपर्क कर 2 घंटे के भीतर गर्भवती महिला को अस्पताल पहुंचाया गया।

ये कुछ चुनिंदा घटनाएं हैं, जो लॉक डाउन के दौरान एक पखवाड़े में सीएम हेल्पलाइन पर आईं और उनका उतनी ही तत्परता के साथ निष्पादन किया गया। कहते हैं- "जो तन लागे-सो तन जाने" की तर्ज पर इन घटनाओं के जुड़े लोगों को उनकी समस्याएं सुलझने के बाद जो सुकून मिला, उसके लिए वह मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत को दुआएं देते हुए अघा नहीं रहे हैं। कई लोग तो अपनी खुशी रोक नहीं पा रहे हैं और सीएम हेल्प लाइन पर अपना फीड बैक भी दे रहे हैं।

यह खबर भी पढ़े: देश-दुनिया में कोरोना से पहले भी तबाही मचा चुके हैं कई वायरस

यह खबर भी पढ़े: झारखंड : हर दिन बढ़ रही है कोरोना संक्रमितों की संख्या, बोकारो से फिर मिला पोजिटिव केस

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From state

Trending Now
Recommended