संजीवनी टुडे

आस्था की डुबकी में सराबोर हुआ उत्तर प्रदेश

इनपुट- यूनीवार्ता

संजीवनी टुडे 12-11-2019 12:32:12

कार्तिक पूर्णिमा पर आज पूरे उत्तर प्रदेश में लोगों ने विभिन्न नदियों में आस्था की डुबकी लगाई।


लखनऊ। कार्तिक पूर्णिमा पर आज पूरे उत्तर प्रदेश में लोगों ने विभिन्न नदियों में आस्था की डुबकी लगाई। गांव कस्बों से लोगों का गंगा , यमुना, गोमती और सरयू नदी के तट पर आने का सिलसिला कल रात से ही शुरू हो गया था।

खासकर गंगा के धाटों पर पर गजब का नजारा है। वाराणसी में लोग अलग अलग जगह से रात से ही आने लगी थे और भार होते ही उन्होंने स्नान करना शुरू कर दिया था। नदियों के धाटों पर बने मंदिरों में भी मेला जैसा नजारा है। स्नान के बाद लोग घाटों पर बने शिव मंदिर में पूजा भी कर रहे हैं।

यह खबर भी पढ़ें:​ कर्नाटक कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शिवकुमार सीने में दर्द की शिकायत के बाद बीती रात से अस्पताल में भर्ती

राजधानी लखनऊ में भी लोग गोमती नदी में स्नान कर रहे हैं। हिंदी के बारह मासों में प्रमुख माना जाने वाला कार्तिक महीना भगवान बिष्णु को समर्पित होता है। इसमें लोग विभिन्न नदियों विशेषकर गंगा में स्नान, दान-यज्ञ, होम, उपासना करते हैैं।

काशी में यह पर्व देव दीपावली के रूप में मनाया जाता है। वाराण्सी के घाट शाम को दीपों से रोशन किये जाते हैं जिसे देखने लोग देश विदेश से आते हैं। पूर्णिमा तिथि 11 नवंबर को शाम 5.55 बजे लग गई जो 12 नवंबर को रात 7.02 बजे तक रहेगी। गंगा तट पर दीपदान कर पवित्र मास को विदा किया जाता है। पंजाबी लोग गुरुनानक देव का जन्मोत्सव मनाते हैैं। काशी में भगवान कार्तिकेय के दर्शन का भी विधान है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

More From state

Trending Now
Recommended