संजीवनी टुडे

राजस्थान विधानसभाः बेरोजगारी भत्ते के सवाल पर विपक्ष का वाकआउट

संजीवनी टुडे 17-07-2019 17:35:25

बेरोजगारी भत्ते के सवाल पर विपक्ष का वाकआउट


जयपुर। राजस्थान विधानसभा में बुधवार को बेरोजगारी भत्ते के सवाल पर भारतीय जनता पार्टी के विधायकों ने कौशल नियोजन एवं उद्यमिता राज्य मंत्री अशोक के जवाब से असंतुष्ट होकर सदन से वाकआउट कर दिया। प्रश्न काल के दौरान विपक्ष ने ठीक से जवाब नहीं मिलने का आरोप लगाते हुए हंगामा किया और वैल में आकर सरकार के खिलाफ नारेबाजी करने लगे। करीब दो मिनिट के हंगामे और नारेबाजी के बाद विपक्षी विधायक नेता प्रतिपक्ष के निर्देश पर सदन से वाकआउट कर गए।

इससे पूर्व भाजपा विधायक कालीचरण सराफ ने प्रदेश में शिक्षित बेरोजगारों को बेरोजगारी भत्ते से संबंधित सवाल किया था। इस पर  कौशल नियोजन एवं उद्यमिता राज्य मंत्री अशोक ने बताया कि मुख्यमंत्री की घोषणा के बाद मुख्यमंत्री युवा सम्बल योजना के तहत 16 जुलाई तक 29 हजार 19 और नये पात्र बेरोजगार लोगों को जोड़ा गया है। उन्होंने बताया कि पूर्व की योजना एवं मुख्यमंत्री युवा संबल योजना में 30 मई 2019 तक 69 करोड़ 42 लाख रुपये का भुगतान पात्र बेरोजगारों को किया जा चुका है। 

उन्होंने बताया कि पूर्व की योजना में 40 हजार 118 पात्र बेरोजगार लोगों को लाभान्वित किया जा रहा था। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री की घोषणा के बाद मुख्यमंत्री युवा संबल योजना में 29 हजार 19 नये बेरोजगार पंजीकृत हुए है। चांदना ने यह भी स्पष्ट किया कि पूर्व की योजना के तहत 15 दिसम्बर, 2018 से 31 जनवरी, 2019 तक पंजीकृत बेरोजगारों को 14 करोड़ रुपये का भुगतान किया गया। अशोक ने बताया कि राज्य के समस्त रोजगार कार्यालयों में 31 मई 2019 को 10 लाख 3 हजार 652 शिक्षित बेरोजगार पंजीकृत थे। .

उन्होंने सदन को अवगत कराया कि सरकार ने पात्र शिक्षित बेरोजगारों को मुख्यमंत्री युवा सम्बल योजना के तहत प्रतिमाह 3500 रुपये तक बेरोजगारी भत्ता दिये जाने की घोषणा की है। उन्होंने इस योजना के तहत पात्र आशार्थियों को दिसम्बर, 2018 से मई, 2019 तक किये गये भुगतान की जिलेवार सूचना सदन के पटल पर रखी। 

इस पर सराफ ने कहा कि मंत्री स्पष्ट जानकारी दें कि मुख्यमंत्री स्वावलंबन योजना के तहत कितना भत्ता दिया। जवाब घुमाफिरा कर न दें। नेता प्रतिपक्ष गुलाब चंद कटारिया ने भी सवाल उठाया कि जब प्रदेश में 10 लाख 3 हजार 652 शिक्षित बेरोजगार पंजीकृत हैं तो केवल 40 हजार लोगों को ही लाभ क्यों मिला। इस पर मंत्री चांदना ने कहा कि इसका जवाब तो पूर्व वर्ती भाजपा सरकार को देना चाहिए कि इतने कम संख्या में शिक्षित बेरोजगार पंजीकृत क्यों हैं क्योंकि ये आंकड़ा तो पूर्ववर्ती भाजपा सरकार के समय का है। जबकि हमने इतने कम समय में 29 हजार 19 नये बेरोजगार पंजीकृत किए हैं। 

मंत्री के जवाब का विपक्ष विरोध करने लगा और सभी विपक्षी सदस्य नारे बाजी और हंगामा करते हुए वैल में आकर बैठ गए और दो मिनिट बाद सदन से वाकआउट कर गए। 

गोवर्मेन्ट एप्रूव्ड प्लाट व फार्महाउस मात्र रु. 2600/- वर्गगज, टोंक रोड (NH-12) जयपुर में 9314166166

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

More From state

Trending Now
Recommended